On This Day: धोनी के रन आउट से टूटा करोड़ों भारतीयों का दिल, वर्ल्ड कप जीतने का सपना चकनाचूर

एमएस धोनी ने आखिरी इंटरनेशनल मुकाबला आज के ही दिन खेला था. (Sakshi Dhoni/Instagram)

On This Day in 2019: दो साल पहले आज के ही दिन महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ रन आउट हो गए थे. यह मुकाबला धोनी के करियर का आखिरी इंटरनेशनल मैच था. न्यूजीलैंड ने भारत को इस मुकाबले में 18 रन से हराया था.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दो साल पहले आज के ही दिन आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप 2019 का सेमीफाइनल (ICC ODI World Cup 2019) भारत और न्यूजीलैंड (India vs News Zealand) के बीच खेला गया था. न्यूजीलैंड ने भारत को करीबी मुकाबले में 18 रन से मात देकर फाइनल में प्रवेश किया. यह मैच भारत के महान कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) का आखिरी इंटरनेशनल मैच साबित हुआ. लक्ष्य का पीछा करते हुए धोनी ने 50 रनों की पारी खेली लेकिन मैच के 49वें ओवर में वह रन आउट हो गए. यह दिलचस्प संयोग है कि धोनी अपने पहले और आखिरी मुकाबले में रन आउट ही हुए. धोनी ने सेमीफाइनल में मिली हार के एक साल बाद 15 अगस्त 2020 को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया था.

    विलियमसन ने खेली कप्तानी पारी
    टॉस जीतकर न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया हालांकि कीवी टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही. जसप्रीत बुमराह ने एक रन के स्कोर पर मार्टिन गप्टिल को आउट कर दिया. दूसरे विकेट के लिए हेनरी निकोल्स (28) ने कप्तान विलियमसन के साथ 68 रनों की साझेदारी की जिसका अंत रवींद्र जडेजा ने किया. इसके बाद विलियमसन और रॉस टेलर ने विकेट पर खूंटा गाड़ दिया. दोनों खिलाड़ियों ने तीसरे विकेट के लिए 65 रनों की साझेदारी की. कीवी कप्तान को 67 रन के निजी स्कोर पर युजवेंद्र चहल ने जडेजा के हाथों कैच कराया. न्यूजीलैंड की तरफ से सबसे ज्यादा रन टेलर ने बनाए और 90 गेंदों पर 74 रनों की पारी खेली.

    न्यूजीलैंड 50 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 239 रन बनाने में सफल रहा. भारत की ओर से भुवनेश्वर कुमार ने 43 रन देकर तीन विकेट लिए जबकि बुमराह, चहल, हार्दिक पंड्या और जडेजा को एक-एक विकेट मिला.

    भारत की बेहद खराब शुरुआत
    लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत की शुरुआत बेहद खराब रही. भारतीय टीम ने सिर्फ 19 गेंदों के अंदर रोहित शर्मा, विराट कोहली और केएल राहुल का विकेट गंवा दिया. रोहित और राहुल एक-एक रन बनाकर मैट हेनरी का शिकार बने जबकि कोहली का विकेट बोल्ट ने लिया. दिनेश कार्तिक भी सिर्फ छह रन बनाकर हेनरी की गेंद पर विकेट दे बैठे और भारतीय टीम 24 रन पर चार विकेट खोकर हार के कगार पर पहुंच गई.

    हार्दिक पंड्या और ऋषभ पंत ने थोड़ा बहुत संघर्ष दिखाया. दोनों बल्लेबाजों ने 32-32 रन बनाए. 92 रन पर भारत के छह विकेट गिरने के बाद धोनी ने कमान संभाली और जडेजा के साथ 116 रनों की साझेदारी की. दोनों बल्लेबाजों ने भारत को जीत के करीब पहुंचा दिया और अब जीत के लिए 14 गेंदों पर सिर्फ 32  रनों की जरूरत थी. लेकिन बोल्ट ने जडेजा को 77 रनों के निजी स्कोर पर आउट कर मैच का पासा पलट दिया.

    पाकिस्तान की शर्मनाक हार के बाद भड़के शोएब अख्तर, बोले अब लोग क्रिकेट देखना बंद कर रहे हैं

    अजित वाडेकर की कप्तानी में भारत ने इंग्लैंड में जीती पहली टेस्ट सीरीज, 39 साल करना पड़ा था इंतजार

    धोनी हुए रन आउट
    49वां ओवर फेंक रहे लॉकी फर्ग्युसन की तीसरी गेंद पर धोनी ने लेग साइड पर शॉट खेला और एक रन पूरा करने के बाद वो तेजी से दूसरे रन के लिए भागे. लेकिन लेग साइड पर खड़े मार्टिन गप्टिल ने गेंद को तेजी से उठाते हुए सीधे विकेट पर थ्रो मार दिया. डायरेक्ट थ्रो की वजह से एमएस धोनी क्रीज से महज 2 इंच पीछे रह गए.





    धोनी के रन आउट होने के बाद भारतीय टीम के तीसरी बार वर्ल्ड कप जीतने का सपना टूट गया. धोनी ने 72 गेंदों में एक छक्के और एक चौके की मदद से 50 रन की पारी खेली.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.