आज ही के दिन पहली बार आईपीएल चैंपियन बनी थी मुंबई, धोनी ने कर दी थी बड़ी 'गलती'

आज ही के दिन पहली बार आईपीएल चैंपियन बनी थी मुंबई, धोनी ने कर दी थी बड़ी 'गलती'
वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज माइकल होल्डिंग का मानना है कि अगर ऑस्ट्रेलिया में प्रस्तावित टी20 विश्व कप को स्थगित कर दिया जाता है तो बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) को इस साल के अंत में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) को आयोजित करने का पूरा अधिकार है.

कोलकाता के ईडन गार्डन में खेले गए फाइनल मैच में मुंबई इंडियंस ने चेन्नई सुपरकिंग्स (Mumbai Indians Beat Chennai Super Kings) को 23 रनों से हराकर पहली बार आईपीएल खिताब जीता था

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. 26 मई, 2013...ये वो तारीख है जिस दिन रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की कप्तानी में पहली बार मुंबई इंडियंस (Mumbai Indian) ने आईपीएल चैंपियन (IPL 2013) होने का गौरव हासिल किया था. आज से 7 साल पहले खेले गए फाइनल मैच में मुंबई इंडियंस ने टूर्नामेंट की सबसे मजबूत टीम चेन्नई सुपरकिंग्स (Chennai Super Kings) को 23 रनों से हरा दिया था. ईडन गार्डन के ऐतिहासिक मैदान पर मुंबई इंडियंस की टीम 20 ओवर में महज 148 रनों का स्कोर खड़ा कर सकी थी लेकिन धोनी एंड कंपनी निर्धारित 20 ओवर में 125 रन ही बना सकी और खिताबी मैच हार गई. चेन्नई की इस हार की वजह उसकी खराब बल्लेबाजी तो थी ही लेकिन इसके पीछे कहीं ना कहीं कप्तान धोनी और कोच स्टीफन फ्लेमिंग की रणनीति भी थी.

मुंबई की पहले बल्लेबाजी
मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) की टीम रोहित शर्मा जैसे युवा कप्तान के साथ मैदान पर उतरी थी. खिताबी मुकाबले में सिक्के की बाजी रोहित के हाथ लगी और उन्होंने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया. मुंबई की शुरुआत बेहद खराब रही. ड्वेन स्मिथ 4 और कप्तान रोहित शर्मा सिर्फ 2 रन बनाकर आउट हो गए. आदित्य तरे तो पहली ही गेंद पर पैवेलियन लौट गए. दिनेश कार्तिक और अंबाती रायडू ने टीम को संभाला लेकिन जब बारी आई तेजी से रन बनाने की तो कार्तिक आउट हो गए. अंबाती रायडू ने 36 गेंदों में 37 रन बनाए और वो ब्रावो का शिकार हुए. मुंबई के मसीहा बने कायरन पोलार्ड, जिन्होंने महज 32 गेंदों में नाबाद 60 रन ठोके. पोलार्ड ने अपनी पारी में 3 छक्के और 7 चौके जड़े. इस तरह मुंबई का स्कोर 20 ओवर में 148 रनों तक पहुंच गया.

चेन्नई की बल्लेबाजी चित



लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई की टीम को अच्छी शुरुआत की जरूरत थी लेकिन मलिंगा ने पहले ही ओवर में उसे दो करारे झटके दे दिये. दूसरी गेंद पर मलिंगा ने हसी को बोल्ड कर दिया और सुरेश रैना तो पहली ही गेंद पर आउट हो गए. दूसरे ओवर में सुब्रह्मण्यम बदरीनाथ भी शून्य पर आउट हो गए. ड्वेन ब्रावो, रवींद्र जडेजा और मुरली विजय भी बेहद खराब बल्लेबाजी कर आउट हो गए. चेन्नई की टीम ने 7.3 ओवर में 39 रन पर अपने 6 विकेट गंवा दिये. इसके बाद चेन्नई का स्कोर 50 के पार पहुंचा और उसके दो बेहतरीन ऑलराउंडर एल्बी मॉर्कल और क्रिस मॉरिस भी अपना विकेट गंवा बैठे. चेन्नई ने 58 रनों पर 8 विकेट गंवा दिये. इसके बाद धोनी ने ताबड़तोड़ प्रहार करना शुरू किया और चेन्नई का स्कोर 100 के करीब ले आए लेकिन 18वें ओवर में अश्विन ने अपना विकेट गंवा दिया. आखिर में धोनी ने बहुत हिटिंग की और 45 गेंदों में नाबाद 63 रन बनाए लेकिन उनकी टीम ये मैच हार गई और मुंबई ने पहली बार आईपीएल चैंपियन बनने का गौरव हासिल किया.



धोनी (MS Dhoni) से इस मैच में ये गलती हुई कि वो 7वें नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे. उन्होंने खुद से आगे जडेजा और ब्रावो को उतारा. हालांकि कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने कहा कि धोनी ने 7वें नंबर पर आकर टीम को कई मैच जिताए थे इसलिए वो इसी नंबर पर खेले.

पहले ही मैच में हैट्रिक लेने वाला ये श्रीलंकाई गेंदबाज हेरोइन के साथ पकड़ा गया

पृथ्वी शॉ ने बताया क्रिकेट की तकनीक नहीं बल्कि सचिन इस मुद्दे पर देते हैं सलाह
First published: May 26, 2020, 7:01 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading