होम /न्यूज /खेल /199 शतक और 61000 से ज्यादा रन बनाने सर जैक हॉब्स ने आज ही के दिन लिया था संन्यास

199 शतक और 61000 से ज्यादा रन बनाने सर जैक हॉब्स ने आज ही के दिन लिया था संन्यास

सर जैक हॉब्स इंग्लैंड के महान बल्लेबाज रहे हैं. (फोटो साभार-@icc)

सर जैक हॉब्स इंग्लैंड के महान बल्लेबाज रहे हैं. (फोटो साभार-@icc)

16 दिसंबर 1882 को कैंब्रिज में जन्मे जैक हॉब्स ने कुल 834 प्रथम श्रेणी मैच खेले. प्रथम श्रेणी क्रिकेट में इस बल्लेबाज क ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. क्रिकेट में जब भी रिकॉर्ड्स की बात आती है तो फैन्स के जेहन में सर डॉन ब्रैडमैन, सुनील गावस्कर, सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली जैसे दिग्गजों का नाम याद आता है. हालांकि, इंग्लैंड के महान बल्लेबाज सर जैक हॉब्स अपने 30 साल के क्रिकेट करियर में ऐसा मुकाम हासिल किया है जिसे पार करना असंभव है. हॉब्स द्वारा बनाए गए शतक और रनों के आसपास भी पहुंचना किसी क्रिकेटर के बस में नहीं है.

    फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 199 शतक
    16 दिसंबर 1882 को कैंब्रिज में जन्मे जैक हॉब्स ने कुल 834 प्रथम श्रेणी मैच खेले. प्रथम श्रेणी क्रिकेट में इस बल्लेबाज के नाम 61730 रन, 199 शतक और 273 अर्धशतक है. इस दौरान उनका औसत 50.70 का रहा. प्रथम श्रेणी क्रिकेट में उनका उच्च स्कोर 316 रन रहा है. प्रथम श्रेणी के अलावा हॉब्स टेस्ट क्रिकेट के भी दिग्गज बल्लेबाजों में शुमार हैं. उन्होंने केवल 61 टेस्ट मैचों में 15 शतक लगाए थे. उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 56.97 की औसत से 5410 रन बनाए और उनका सर्वोच्च स्कोर 211 रहा. अगर 60 से ज्यादा टेस्ट मैच खेलने वाले खिलाड़ियों की बात करें तो हॉब्स औसत के मामले में छठे नंबर पर है.

    हॉब्स कभी-कभार गेंदबाजी भी कर लिया करते थे. टेस्ट क्रिकेट में हालांकि उनके नाम एक विकेट ही दर्ज है लेकिन प्रथम श्रेणी में हॉब्स ने 108 विकेट चटकाया है.

    30 साल तक खेला क्रिकेट
    जैक हॉब्स ने अपना पहला फर्स्ट क्लास मैच 23 साल की उम्र में खेला. इसके बाद वह 1905 से 1934 तक खेलते रहे. इस दौरान हॉब्स 1908 से 1930 तक इंग्लैंड टेस्ट टीम का भी हिस्सा थे.  हॉब्स ने अपने प्रथम श्रेणी करियर के ज्यादातर मुकाबले काउंटी टीम सरे के लिए खेले थे. इसके अलावा उन्होंने विजियांगराम के महाराज कुमार की एकादश का भी प्रतिनिधित्व किया था. जैक हॉब्स के नाम सबसे ज्यादा उम्र में टेस्ट शतक जड़ने का रिकॉर्ड भी दर्ज है. उन्होंने 46 की उम्र में शतक जड़ते हुए ये रिकॉर्ड बनाया था.

    यह भी पढ़ें:

    पाकिस्तान क्रिकेट चलाने वालों पर भड़के रमीज राजा, बोले- दबाव बनते ही फिक्सर टीम में आ जाते

    PSL 6: PCB का यू-टर्न, बर्खास्त किये गए नसीम शाह को दोबारा दी बायो बबल में जगह

    पहले क्रिकेटर जिन्हें सर की उपाधि से नवाजा गया
    जैक हॉब्स दुनिया के पहले ऐसे क्रिकेटर बने थे जिनके नाम के साथ 'सर' (Knighthood) जुड़ा. संन्‍यास के बाद हॉब्‍स ने बतौर पत्रकार अपना काम जारी रखा. उन्होंने चार किताबें भी लिखी हैं. इसके अलावा उनकी खेल के सामानों की एक दुकान थी जिसे वो अंत तक चलाते रहे. हॉब्स का निधन 81 साल की आयु में 21 दिसंबर 1963 को हुआ था.

    Tags: Cricket news, England Cricket, Jack Hobbs

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें