विश्वकप में भारत से लगातार 7वीं हार पर आंसू बहाते दिखा पाकिस्तानी मीडिया

सोमवार सुबह अखबार और मीडिया की सुर्खियां विश्वकप में भारत से मिली पाक की सातवीं हार से अटी पड़ी हैं. पाक मीडिया अलग-अलग अंदाज में अपनी क्रिकेट टीम से सवाल कर रहा है कि आखिर कहां गलती हो रही है और कप्तान सरफराज़ कहां चूक गए?

News18Hindi
Updated: June 17, 2019, 1:32 PM IST
विश्वकप में भारत से लगातार 7वीं हार पर आंसू बहाते दिखा पाकिस्तानी मीडिया
पाकिस्तानी क्रिकेट टीम
News18Hindi
Updated: June 17, 2019, 1:32 PM IST
सोमवार सुबह पाकिस्तान अखबार और मीडिया की सुर्खियां विश्वकप में भारत से मिली सातवीं हार से अटी पड़ी हैं. पाकिस्तानी मीडिया अलग-अलग अंदाज में पाकिस्तानी क्रिकेट टीम से सवाल कर रहा है कि आखिर कहां गलती हो रही है और पाकिस्तानी कप्तान सरफराज़ कहां चूक गए?

द डॉन लिखता है कि विश्वकप में पाकिस्तान के खिलाफ अपराजित रहने के सिलसिले को भारत ने जारी रखा और पाकिस्तान पर 89 रनों से जीत हासिल की. वहीं पाकिस्तानी टीम के निराशाजनक प्रदर्शन पर दुनिया भर में मौजूद पाक क्रिकेट फैन्स ने ट्वीट कर अपनी भड़ास निकाली जिसे डॉन ने प्रमुखता से प्रकाशित किया है. एक स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट ने ट्वीट किया है कि - ‘इस बारिश ने कुछ नहीं किया, बस उम्मीदों पर पानी फेरा.’

वहीं डॉन ने एक स्टोरी में तस्वीरों के जरिये ये नुमाया किया कि किस तरह क्रिकेट मैच ने भारत और पाकिस्तान के फैन्स को एक दूसरे के करीब लाने का काम किया. जबकि खेल के मैदान में कप्तान सरफराज़ अहमद की उबासी लेती तस्वीर भी पाकिस्तानी अखबार और मीडिया में छाई रही और सरफराज़ अहमद को सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल भी किया गया.

शी की किर्गिस्तान और कज़ाकिस्तान यात्रा बनी हेडलाइंस

चीन के प्रतिष्ठित मीडिया ग्लोबल टाइम्स, पीपल्स डेली और चायना डेली ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की मध्य एशियाई यात्रा को प्रमुखता से प्रकाशित किया है. चीनी मीडिया लिखता है कि शी की मध्य एशियाई देशों की यात्रा ने पड़ौसियों के साथ रिश्तों और क्षेत्रीय सहयोग को मजबूत करने का काम किया है.

पीपल्स डेली चायना लिखता है कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की किर्गिस्तान और ताजिकिस्तान की यात्राओं ने नए प्रकार के अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के निर्माण के लिए एक नया अध्याय खोला. कज़ाकिस्तान और किर्गिस्तान की पांच दिवसीय यात्रा के दौरान शी बिश्केक में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के 19 वें शिखर सम्मेलन और दुशांबे में एशिया (सीआईसीए) में शामिल हुए.

चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग की किर्गिस्तान यात्रा पर पीपल्स डेली लिखता है कि हाल के वर्षों में, बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (BRI) के ढांचे के तहत चीन-किर्गिस्तान सहयोग को उम्मीदों के मुताबिक नतीजे मिले हैं. बिश्केक में सड़क नेटवर्क पुनर्वास परियोजना दोनों देशों के बीच बुनियादी ढांचे के सहयोग का एक उदाहरण है. चाइना रोड एंड ब्रिज कॉर्पोरेशन (CRBC) द्वारा अनुबंधित इस परियोजना का उद्देश्य किर्गिज़ राजधानी के सड़क नेटवर्क में सुधार करना है.
Loading...

द गार्डियन की हेडलाइन्स में हॉन्ग कॉन्ग का विरोध-प्रदर्शन
ब्रिटेन के मशहूर अखबार और ऑन लाइन वेबसाइट द गार्डियन ने हॉन्ग कॉन्ग के प्रदर्शन को हेडलाइंस बनाया. द गार्डियन लिखता है कि हॉन्ग कॉन्ग में राजनीतिक संकट दूसरे सप्ताह में प्रवेश कर गया है लेकिन प्रदर्शनकारी सरकार के आश्वासन से संतुष्ट नहीं हैं और विवादित प्रत्यर्पण बिल के खिलाफ विरोध जारी है. द गार्डियन लिखता है कि प्रदर्शनकारियों ने प्रत्यर्पण कानून की पैरवी करने वाली नेता कैरी लाम की माफी को खारिज़ कर दिया है और उनके इस्तीफे की मांग की है. कैरी लाम ने एक बयान जारी कर प्रत्यर्पण बिल के मसौदे को लेकर सरकार के तौर-तरीकों पर माफी मांगी थी.

गोलन हाइट्स में बनेगा ट्रंप टॉवर
द गार्डियन ने गोलन हाइट्स में ट्रंप टॉवर की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया. दरअसल, इस्राइल ने फैसला किया है कि उसके नियंत्रण वाले गोलन हाइट्स की एक छोटी सी यहूदी बस्ती का नाम अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नाम पर होगा. इसका फैसला इस्राइली मंत्रीमंडल की बैठक के बाद प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने लिया. इस बस्ती को अब रामत ट्रंप या ट्रंप हाइट्स के नाम से जाना जाएगा. इस क्षेत्र पर इस्राइल की सम्प्रभुता को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा मान्यता देने के सम्मान स्वरूप ये फैसला लिया गया है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 17, 2019, 12:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...