वेंकटेश प्रसाद के साथ वर्ल्ड कप 1996 में बहस पर आमिर सोहेल ने दी सफाई, बोले- मुझे गलत समझा

आमिर सोहेल ने अब 1996 वर्ल्ड कप की घटना पर अपनी सफाई दी है (Aamir Sohail/Twitter)

आमिर सोहेल ने अब 1996 वर्ल्ड कप की घटना पर अपनी सफाई दी है (Aamir Sohail/Twitter)

आमिर सोहेल ने कहा, ''मेरे और वेंकटेश प्रसाद के बीच किसी तरह की कोई बहस नहीं हुई थी. कहा कुछ नहीं था. इसे अलग तरीके से बताया गया है. कोई जुबानी जंग नहीं हुई थी.''

  • Share this:

नई दिल्ली. भारत और पाकिस्तान (India vs Pakistan) के बीच 1996 के वर्ल्ड कप (ICC World Cup) के दौरान हुई कांटे की टक्कर आज भी फैन्स के जेहन में ताजा है. यह मैच वेंकटेश प्रसाद (Venkatesh Prasad) और आमिर सोहेल (Aamir Sohail) के बीच हुई बहस की वजह से काफी सुर्खियों में रहा था. इस मैच के दौरान बल्लेबाज आमिर सोहेल बार-बार भारतीय गेंदबाज को वेंकटेश प्रसाद को उकसाने की कोशिश कर रहे थे, जिस पर उनकी जमकर आलोचना हुई थी. पिछले साल रविचंद्रन के यूट्यूब चैनल पर दिए एक इंटरव्यू में वेंकटेश प्रसाद ने इस वाकये को लेकर अपनी राय दी थी. अब आमिर सोहेल ने इस मुद्दे पर अपनी सफाई दी है.

इस मैच में रवि शास्त्री एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में भारत और पाकिस्तान के बीच 1996 के विश्व कप क्वार्टर फाइनल के दौरान कमेंट्री ड्यूटी पर थे. उन्होंने कहा, ''बल्लेबाज को जवाब देने का यह सबसे अच्छा तरीका है. आमिर सोहेल को वेंकटेश प्रसाद ने आउट किया.'' सोहेल ने प्रसाद के साथ एक अनावश्यक जुबानी जंग की शुरुआत की थी. इस घटना के कई साल बाद आमिर सोहेल ने अब चुप्पी तोड़ी है. उन्होंने कहा है कि लोग बिना मतलब प्रोपगेंडा फैलाने लगते हैं.

इरफान पठान की पत्नी की तस्वीर पर हुआ विवाद, कहा-मैं उसका मालिक नहीं, साथी हूं

यू-ट्यूब चैनल क्रिकेट लाइफ स्‍टोरी पर बातचीत करते हुए आमिर सोहेल ने कहा, ''मेरे और वेंकटेश प्रसाद के बीच किसी तरह की कोई बहस नहीं हुई थी. कहा कुछ नहीं था. इसे अलग तरीके से बताया गया है. कोई जुबानी जंग नहीं हुई थी. जावेद मियांदाद ने हमें बताया था कि जब गेंदबाज आप पर दबाव डालने का प्रयास कर रहा है तो आपको किस प्रकार से बर्ताव करना है. यह रिवर्स मनोविज्ञान है. उन्होंने बताया था कि गेंदबाज को अपने फोकस से किस तरह हटाना है.''
आमिर सोहेल ने कहा, “सईद अनवर और मैं रन बना रहे थे. वह आउट हो गए थे. ऐसे में हमपर दबाव आ रहा था. मुझे लगा कि भारत पकड़ बनाने की कोशिश कर रहा है. फिर मैंने वेंकटेश प्रसाद का ध्‍यान भटकाने के लिए थोड़ा उकसा रहा था. वहां बहुत सारी चीजें थी. भारत इस मैच में तीन गेंदबाजों के साथ उतरा था. हमें पता था कि पिच समय के साथ और खराब होती जाएगी. एक ओवर पहले ही कम कर दिया गया था. हम 49 ओवरों में 289 रनों का पीछा कर रहे थे.''

विराट कोहली फुटबॉल खेलते हुए नजर आए, लोगों की ने मेसी-रोनाल्डो से तुलना, देखें वायरल वीडियो

उन्होंने आगे कहा, “जब मुझे लगने लगा कि गेंदबाज वेंकटेश प्रसाद स्थिर होकर गेंदबाजी कर रहे हैं तो उनका ध्‍यान भटकाने के लिए मैंने फिर उकसाना शुरू कर दिया. ताकि उन्‍हें उनकी खतरनाक लेंथ पर गेंदबाजी की दिशा से भटका सकूं. इसीलिए मैंने किसी मुद्दे पर उनसे बात की. इसी घटना को लोगों ने अलग-अलग तरीके से पेश किया. लोगों ने कहा कि मैंने आपना आपा खो दिया था.''



Youtube Video

बता दें कि उस मैच में प्रसाद की एक गेंद पर सोहेल ने कवर्स की तरफ चौका जड़ा और फिर गेंदबाज की तरफ अपनी उंगलियों से इशारा किया. हालांकि इसके बाद अगली गेंद पर पर वेंकटेश ने सोहेल को क्‍लीन बोल्‍ड कर दिया था. आर अश्विन के साथ उनके यूट्यूब शो में बात करते हुए वेंकटेश ने इस घटना पर कहा था कि वो वास्‍तव में एक थप्‍पड़ की तरह था. मैं सोहेल से बाउंड्री की उम्‍मीद नहीं कर रहा था. 35 हजार लोगों के बीच यह हाई वोल्‍टेज मैच था. इस घटना से पहले मैं बाउंड्री लाइन पर खड़ा था. वह मार रहे थे. ऐसा लग रहा था कि मैच 45 ओवर में ही खत्‍म हो जाएगा. मैं दर्शकों की तरफ देख रहा था. वे विश्‍वास नहीं कर सकते थे कि क्‍या हो रहा था.''

वेंकटेश प्रसाद ने कहा कि सोहले ने उनकी गेंद पर बाउंड्री लगाई. फिर अपना बल्‍ला और उंगली दिखाकर बाउंड्री की तरफ इशारा किया और सोहेल ने कहा कि मैं आपकी अगली गेंद पर भी बाउंड्री लगाऊंगा. मैंने सिर्फ सोहेल की बात सुनी और कुछ शब्‍द कहकर वापस आ गया. अनवर के 48 रन पर आउट होने के बाद अगली गेंद पर सोहेल भी बोल्‍ड हो गए. पाकिस्‍तान की टीम ने 39 रन से यह मुकाबला गंवा दिया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज