लाइव टीवी

बड़ी खबर: कोरोना वायरस के दौरान इस बड़े खिलाड़ी ने किया संन्यास लेने का फैसला

भाषा
Updated: March 30, 2020, 8:21 PM IST
बड़ी खबर: कोरोना वायरस के दौरान इस बड़े खिलाड़ी ने किया संन्यास लेने का फैसला
टी20 वर्ल्ड कप के बाद संन्यास लेंगे मोहम्मद हफीज

कोरोना वायरस (COVID-19) की वजह से खेल जगत पूरी तरह ठप है, इस बीच पाकिस्तान के ऑलराउंडर ने क्रिकेट से संन्यास का बड़ा फैसला ले लिया है

  • Share this:
कराची. कोरोना वायरस की वजह से इस वक्त क्रिकेट पूरी तरह ठप है. हालांकि इन मुश्किल हालातों में पाकिस्तान के ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज (Mohammad Hafeez) ने संन्यास लेने का फैसला कर लिया है. हफीज ने बताया कि वो अक्टूबर में होने वाले आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप के बाद इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह देंगे. वो टी20 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व करना चाहते हैं.

हफीज ने किया बड़ा ऐलान
हफीज (Mohammad Hafeez) ने एक इंटरव्यू में कहा कि वह टी20 विश्व कप में अपने देश के लिए खेलना और इसमें टीम को अच्छा प्रदर्शन करने में मदद करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, 'मैंने तय किया है कि टी20 विश्व कप के बाद मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लूंगा. इसके बाद मै सिर्फ टी20 लीग में खेलने पर ध्यान केंद्रित करूंगा.' हफीज पहले ही टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं और वह सिर्फ वनडे और टी20 फॉर्मेट ही खेलते हैं.

संन्यास के बाद की योजना तय नहीं



पाकिस्तान के लिए 55 टेस्ट, 218 वनडे और 91 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेलने वाले 39 साल के हफीज ने कहा कि उन्होंने अभी यह फैसला नहीं किया है कि वह संन्यास लेने के बाद क्या करेंगे. टी20 अंतरराष्ट्रीय में पाकिस्तानी टीम की कमान संभाल चुके हफीज ने कहा, 'यह कोचिंग हो सकता है. मुझे अभी कुछ नहीं पता, समय आने पर मैं अपना मन बना लूंगा.' पिछले साल इंग्लैंड में खेले गये विश्व कप के लिए नजरअंदाज किये जाने के बाद हफीज ने फरवरी में बांग्लादेश के खिलाफ टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला में टीम में वापसी की. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने दागी शरजील खान की वापसी पर सवाल उठाने के लिए हाल ही में मोहम्मद हफीज को फटकार लगाई थी.



मोहम्मद हफीज की खास बातें
मोहम्मद हफीज (Mohammad Hafeez) को क्रिकेट की दुनिया में प्रोफेसर के नाम से जाना जाता है. उन्हें बेहद ही चालाक क्रिकेटर माना जाता है और बाएं हाथ के बल्लेबाज के खिलाफ उनकी गेंदबाजी बेहद घातक है. बता दें मोहम्मद हफीज ने साल 2012 में पाकिस्तानी टी20 टीम की कमान संभाली थी. उनकी अगुवाई में हफीज ने 29 में से 17 मैच जीते थे और पाकिस्तान की टीम नंबर 2 रैंकिंग तक पहुंची थी. वो टी20 क्रिकेट में 1000 रन और 40 विकेट लेने वाले पहले खिलाड़ी थे. साथ ही उन्होंने बतौर पाकिस्तानी कप्तान लगातार 3 टी20 अर्धशतक लगाए थे जो कि एक रिकॉर्ड है.

साल 2012 टी20 वर्ल्ड कप के बाद हफीज ने कप्तानी छोड़ दी. दरअसल इस टूर्नामेंट के दौरान उन्होंने अब्दुल रज्जाक को प्लेइंग इलेवन में कम मौके दिये हालांकि उन्हें कोच डेव व्हाटमोर का साथ मिला हुआ था बावजूद इसके सेमीफाइनल में हार के बाद हफीज ने कप्तानी से इस्तीफा दे दिया था.

कोरोना वायरस के बावजूद प्रैक्टिस में जुटा ये भारतीय तेज गेंदबाज, पिता ने...
First published: March 30, 2020, 8:13 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading