इंग्लैंड से टेस्ट सीरीज हारने के बाद एक गेंद का नियम चाहते हैं पाकिस्तानी कोच!

इंग्लैंड से टेस्ट सीरीज हारने के बाद एक गेंद का नियम चाहते हैं पाकिस्तानी कोच!
टेस्ट सीरीज हारने के बाद गेंद का नियम चाहता है पाकिस्तान

पाकिस्तान के गेंदबाजी कोच वकार यूनुस (Waqar Younis) ने आईसीसी से टेस्ट मैचों में एक गेंद का नियम बनाने की मांग की

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 3, 2020, 7:46 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. इंग्लैंड से तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में 0-2 से हारने के बाद पाकिस्तान की ओर से अब टेस्ट मैचों में गेंद पर नियम बनाने की मांग उठी है. पाकिस्तान के महान तेज गेंदबाज और बॉलिंग कोच वकार वकार यूनुस (Waqar Younis) ने गुरुवार को कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) को टेस्ट क्रिकेट में केवल एक ही ब्रांड की गेंद के इस्तेमाल पर विचार करना चाहिए क्योंकि तेज गेंदबाजों को दुनिया भर में अलग अलग परिस्थितियों में खेलते हुए सामंजस्य बिठाने में मुश्किल होती है. पाकिस्तान क्रिकेट टीम हाल के इंग्लैंड दौरे पर ड्यूक गेंद से खेली जिसमें उसे तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला 0-2 से गंवानी पड़ी.

'पूरी दुनिया में एक तरह की गेंद हों इस्तेमाल'
वकार यूनुस (Waqar Younis) ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के लिये एक कॉलम में लिखा, 'मैं कई सालों तक ड्यूक गेंद का बड़ा हिमायती रहा लेकिन मुझे लगता है कि टेस्ट क्रिकेट के लिये पूरी दुनिया में केवल एक ही ब्रांड की गेंद का इस्तेमाल किया जाना चाहिए. ' उन्होंने लिखा, 'यह मायने नहीं रखता कि कौन सा ब्रांड लेकिन आईसीसी को यह फैसला करना चाहिए. गेंदबाजों के लिये दुनिया भर में विभिन्न प्रकार की गेंदों का इस्तेमाल कर सामंजस्य बिठाना मुश्किल होता है.'

ड्यूक के अलावा कूकाबुरा और एसजी गेंद अंतरराष्ट्रीय मैचों में इस्तेमाल की जाती है. भारतीय टीम एसजी गेंदों का इस्तेमाल करती है तो इंग्लैंड, आयरलैंड और वेस्टंडीज ड्यूक गेंद और अन्य देश कूकाबुरा का इस्तेमाल करते हैं. आईसीसी ने कोविड-19 महामारी के चलते गेंद को चमकाने के लिये लार के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है. वकार यूनुस ने कहा कि इंग्लैंड में मौसम के कारण इससे कोई परेशानी नहीं हुई.
वकार यूनिस ने कहा, 'दोनों टीमों को हालिया टेस्ट श्रृंखला के दौरान सबसे बड़ी चुनौती लार के इस्तेमाल पर प्रतिबंध से हुई. मुझे नहीं लगता कि इंग्लैंड में मौसम को देखते हुए वास्तव में यह कोई बड़ा मुद्दा था.'



IPL की इस टीम के मालिक हैं मोहम्मद ​अली जिन्ना के पड़पौत्र

चेन्नई सुपर किंग्स के वाट्सऐप ग्रुप से हुए बाहर हुए सुरेश रैना, वापसी के लिए धोनी से कर रहे हैं बात!

वकार यूनुस की मांग कितनी जायज
वकार यूनुस की हर जगह टेस्ट मैच में एक गेंद की मांग नाजायज लगती है. दरअसल हर देश का मौसम और परिस्थितियां अलग हैं. भारत में सूखी और कम बाउंस वाली पिच होती हैं वहीं ऑस्ट्रेलिया में ठोक और बाउंसी पिच होती हैं. ऐसे में एक तरह की गेंद हर पिच पर नहीं चल सकती. शायद इसीलिए गेंद को लेकर आईसीसी ने अबतक कोई नियम नहीं बनाया है. (भाषा के इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज