बकरीद पर बैल की कुर्बानी देगा ये क्रिकेटर, बेटे के साथ जाकर की खरीदारी

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर.
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर.

बकरीद 12 अगस्‍त को है. इस मौके पर कुर्बानी के लिए पालतू जानवरों की खरीद के लिए बाजार सजने लगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 5, 2019, 11:13 AM IST
  • Share this:
पाकिस्‍तान क्रिकेट टीम के कप्‍तान सरफराज अहमद बकरीद (ईद उल अजहा) के मौके पर बैल की कुर्बानी देंगे. कुर्बानी के लिए बैल खरीदने के लिए वे अपने बेटे के साथ मार्केट में गए और वहां बैल पसंद किया. पाकिस्‍तानी मीडिया ने यह खबर दी है. बता दें कि बकरीद 12 अगस्‍त को है. इस मौके पर कुर्बानी के लिए पालतू जानवरों की खरीद के लिए बाजार सजने लगे. बकरीद के मौके पर बड़ी संख्‍या में जानवरों की कुर्बानी दी जाती है. पाकिस्‍तान में भी इसके लिए तैयारियां चल रही हैं. इसी के तहत सरफराज बैल खरीदने गए.

सोशल मीडिया पर उनका एक वीडियो सामने आया है. इसमें वह अपने बेटे और दोस्‍तों के साथ बाजार में कुर्बानी के लिए बैल देखने जाते हैं. यहां पर उन्‍हें एक मजबूत बैल दिखाया जाता है. उसे देखकर वे अपने बेटे से कुछ बात करते हैं. उन्‍हें वह बैल काफी पसंद भी आता है.


सरफराज पर मंडरा रहा है संकट
सरफराज अह‍मद की कप्‍तानी में पाकिस्‍तान ने वर्ल्‍ड कप खेला था. लेकिन इस टूर्नामेंट में उम्‍मीदों के अनुसार प्रदर्शन न कर पाने के चलते उनकी कप्‍तानी पर संकट मंडरा रहा है. कहा जा रहा है कि उनसे टेस्‍ट टीम की कप्‍तानी छीनी जा सकती है. उनकी कप्‍तानी में ही पाकिस्‍तान ने 2017 में भारत को हराकर चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब जीता था.



पाकिस्‍तान में बैल की बलि पर रोक नहीं
बता दें कि पाकिस्‍तान में बैल की बलि दी जाती है. पाकिस्‍तान इस्‍लामिक देश है इसलिए वहां पर गाय और बैल की बलि पर प्रतिबंध नहीं है. यहां पर बकरीद के मौके पर बैल की कुर्बानी देना आम बात है. भारत में ऐसा करना अपराध है.

कमाल के इरफान! कश्‍मीरी क्रिकेटरों को घर पहुंचाया फिर खुद आए

शहर में बाढ़, सड़क पर मगरमच्‍छ, पठान भाई मदद को आए आगे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज