होम /न्यूज /खेल /

इस टीम की सीरीज रद्द होने की दुआ कर रहा है पाकिस्तान, खुद खेलना चाहता है ज्यादा मैच!

इस टीम की सीरीज रद्द होने की दुआ कर रहा है पाकिस्तान, खुद खेलना चाहता है ज्यादा मैच!

पाकिस्तान क्रिकेट टीम की नापाक सोच

पाकिस्तान क्रिकेट टीम की नापाक सोच

पाकिस्तान क्रिकेट टीम (Pakistan Cricket Team) इंग्लैंड दौरे पर 3 की जगह 5 टेस्ट मैच खेलने के बारे में सोच रही है

    नई दिल्ली. कोरोना वायरस के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) ज्यादा से ज्यादा क्रिकेट सीरीज खेलना चाहता है, इसके लिए वो ये सोच रहा है कि दूसरी टीमों के दौरे ही रद्द हो जाएं. खबर है कि पाकिस्तान की नजरें वेस्टइंडीज (West Indies) की टीम पर है जिसे इंग्लैंड दौरे पर जाना है, लेकिन अगर कोरोना वायरस की वजह से वो दौरा रद्द करता है तो पाकिस्तान सोच रहा है कि वो उसकी जगह इंग्लैंड से ज्यादा टेस्ट मैच खेल लेगा. खबरें हैं कि पाकिस्तान की क्रिकेट टीम इंग्लैंड दौरे पर तीन के बजाय चार या पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला खेल सकती है.

    पीसीबी की नापाक सोच
    पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) और इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) के अधिकारियों के बीच कोविड-19 महामारी के बावजूद दौरा जारी रखने को लेकर 18 मई को वीडियो कॉन्फ्रेंस होगी. पीसीबी सूत्रों ने कहा, 'वर्तमान कार्यक्रम के अनुसार पाकिस्तान को इंग्लैंड दौरे में तीन टेस्ट और तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने हैं लेकिन अगर यह दौरा जुलाई में थोड़ा पहले शुरू हो जाता है तो टेस्ट मैचों की संख्या बढ़ायी जा सकती है.' सूत्रों ने कहा कि अगर वेस्टइंडीज का इंग्लैंड दौरा नहीं हो पाता है तो ईसीबी चार या पांच टेस्ट मैचों की श्रृंखला का प्रस्ताव रख सकता है.
    दोनों बोर्ड के अधिकारियों के बीच 18 मई को होने वाली बैठक में जुलाई में पाकिस्तानी टीम के इंग्लैंड पहुंचने पर उनके पृथकवास पर रहने के समय, सीमित मैच स्थलों पर मैचों का आयोजन और खाली स्टेडियमों पर खेलने जैसे विषयों पर चर्चा की जाएगी.

    पीसीबी के सीईओ वसीम खान (Wasim Khan) ने वीडियो कान्फ्रेंस की पुष्टि की लेकिन कहा कि ईसीबी ने जुलाई से सितंबर तक होने वाले दौरे में मैचों की संख्या बढ़ाने पर बात नहीं की है. खान ने कहा, 'बैठक के बाद ही चीजें स्पष्ट हो पाएंगी लेकिन हम अपने कप्तानों और कोचों से सलाह मशविरा करने के बाद ही अंतिम फैसला करेंगे.'

    क्रिकेट शुरू करने की कोशिशों में जुटा ईसीबी
    दूसरी ओर इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB) ने कहा कि वह कोविड-19 महामारी के बावजूद क्रिकेट की सुरक्षित बहाली सुनिश्चित करने के लिये ब्रिटिश सरकार के साथ मिलकर काम कर रहा है. प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिये लगाया गया लॉकडाउन कम से कम एक जून तक बरकरार रहेगा. ईसीबी ने अपने सभी तरह के पेशेवर क्रिकेट मैच एक जुलाई तक निलंबित कर रखे हैं.

    ईसीबी ने बयान में कहा, 'खेलों को फिर से कब और कैसे सुरक्षित तरीके से शुरू किया जा सकता है, इसको लेकर हम सरकार के साथ मिलकर काम कर रहे हें. हम आगे अपनी योजनाओं को साझा करने के लिये तैयार हैं.' इसमें कहा गया है, 'ईसीबी इस संकट के अगले चरणों को लेकर सरकार की घोषणा से अवगत है और हम आगे भी उनकी सलाह पर चलते रहेंगे.' ब्रिटेन में लॉकडाउन के कारण वेस्टइंडीज की जून में होने वाली तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला आगे खिसका दी गयी है जबकि पाकिस्तान को भी इस सत्र में इंग्लैंड दौरा करना है जो एक जुलाई से पहले नहीं हो सकता है. इंग्लिश क्रिकेट के 100 गेंद प्रति टीम के नये प्रारूप ‘द हंड्रेड’ का पहला सत्र भी 2021 तक स्थगित कर दिया गया है. अगर कोविड-19 के कारण अगले सत्र में मैचों का आयोजन नहीं हो पाता है तो ईसीबी को 30 करोड़ पाउंड का नुकसान हो सकता है.

    बड़ी खबर: पाकिस्तान छोड़कर भारत के इस शहर में बसना चाहते हैं शोएब अख्तर, कहा-हिंदुओं की बहुत मदद की है

    शोएब अख्तर का सनसनीखेज दावा- दुनिया को झूठी कहानी बताते हैं सहवागundefined

    Tags: Pakistan National Cricket Team, Pcb, Sports news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर