मिकी आर्थर ने पाकिस्‍तान टीम में कोई योगदान नहीं दिया: अब्‍दुल कादिर

क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में पाकिस्‍तान की टीम सेमीफाइनल में नहीं पहुंच पाई थी. इसके बाद से मिकी आर्थर निशाने पर हैं और उन्‍हें हटाने की मांग हो रही है.

भाषा
Updated: July 28, 2019, 4:50 PM IST
मिकी आर्थर ने पाकिस्‍तान टीम में कोई योगदान नहीं दिया: अब्‍दुल कादिर
मिकी आर्थर.
भाषा
Updated: July 28, 2019, 4:50 PM IST
पाकिस्‍तान के महान स्पिनर अब्दुल कादिर नहीं चाहते कि दक्षिण अफ्रीका के मिकी आर्थर पाकिस्तान के मुख्य कोच पद पर जारी रहें. उनका कहना है कि राष्ट्रीय टीम को आगे ले जाने के लिये अन्य को भी मौका दिया जाना चाहिए. कादिर ने कहा कि वह पूर्व कप्तान वसीम अकरम के उस विचार से इत्तेफाक नहीं रखते कि आर्थर को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) द्वारा नया अनुबंध दिया जाना चाहिए.

कादिर ने एक साक्षात्कार में कहा, ‘मैं जानता हूं कि वसीम अकरम ने बोर्ड (पीसीबी) को कहा कि उन्हें आर्थर को एक और मौका देना चाहिए लेकिन मुझे लगता है कि यह अन्य के साथ अन्याय होगा. अन्य को भी राष्ट्रीय टीम को आगे ले जाने का मौका दिया जाना चाहिए.’

अकरम पीसीबी के क्रिकेट समिति के सदस्यों में एक हैं जो दो अगस्त को बैठक में राष्ट्रीय टीम के पिछले तीन वर्षों के प्रदर्शन की समीक्षा करेगी और भविष्य के लिये सिफारिशें तैयार करेगी.

mickey arthur, pakistab cricket coach, mickey arthur coach, abdul qadir, अब्ददुल कादिर, पाकिस्‍तान क्रिकेट टीम, पाकिस्‍तान क्रिकेट कोच, मिकी आर्थर
अब्‍दुल कादिर


कादिर ने कहा, ‘मेरी राय में मिकी आर्थर ने पाकिस्तान टीम में कुछ भी योगदान नहीं दिया है. बल्कि उन्होंने सोहेल खान, कामरान अकमल, उमर अकमल, अहमद शहजाद, इमरान खान सहित कुछ खिलाड़ियों के प्रति पक्षपात करके नुकसान पहुंचाया है जो अपने अनुभव से पाकिस्तान के लिये काफी कुछ कर सकते थे.’

बता दें कि क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में पाकिस्‍तान की टीम सेमीफाइनल में नहीं पहुंच पाई थी. इसके बाद से मिकी आर्थर निशाने पर हैं और उन्‍हें हटाने की मांग हो रही है.

धर्मसेना ने कुछ गलत नहीं किया, ICC ने बताई ये वजह
Loading...

टेलर का खुलासा, जिंदगी में फिर कभी नहीं देखना चाहते फाइनल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 28, 2019, 4:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...