कोच मिस्‍बाह उल हक का बड़ा बयान, कहा- दुनिया को पता है पाकिस्‍तान में खिलाड़ियों को मिलने वाली सुरक्षा का स्‍तर

कोच मिस्‍बाह उल हक का बड़ा बयान, कहा- दुनिया को पता है पाकिस्‍तान में खिलाड़ियों को मिलने वाली सुरक्षा का स्‍तर
मिस्‍बाह उल हक ने कहा है कि इंग्लैंड क्रिकेट टीम अगर पाकिस्तान का जवाबी दौरा करती है तो यह काबिले तारीफ होगा (फाइल फोटो )

पाकिस्‍तानी कोच मिस्‍बाह उल हक (Misbah ul Haq) ने कहा कि दुनिया भर के खिलाड़ियों को पता है कि पाकिस्तान में किस दर्जे की सुरक्षा मिलती है

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 27, 2020, 9:09 AM IST
  • Share this:
कराची. पाकिस्‍तान में लंबे समय बाद क्रिकेट की वापसी हुई है. श्रीलंका टीम पर 2009 में हुए हमले के बाद से ही पाकिस्‍तान में पूरी तरह से क्रिकेट बंद हो गया था. यहां तक कि पाकिस्‍तान का घरेलू मैदान भी यूएई हो गया था, मगर अब पाकिस्‍तान में धीरे धीरे क्रिकेट पटरी पर लौटने लगा है. टीमें पाकिस्‍तान का दौरा करने लगी है.

पाकिस्‍तान के मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता मिस्‍बाह उल हक (Misbah-Ul Haq) चाहते हैं कि अब इंग्‍लैंड की टीम भी पाकिस्‍तान का दौरा करें. दरअसल इस समय पाकिस्‍तान की टीम तीन टेस्‍ट और तीन टी20 मैचों की सीरीज के लिए इंग्‍लैंड दौरे पर है. जहां टेस्‍ट सीरीज में उसे हार का सामना करना पड़ा. पाकिस्‍तान के कोच ने कहा कि इंग्लैंड क्रिकेट टीम अगर पाकिस्तान का जवाबी दौरा करती है तो यह काबिले तारीफ होगा. उन्होंने साथ ही आश्वासन दिया कि खिलाड़ियों की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

कई इंग्लिश खिलाड़ी पाकिस्‍तान सुपर लीग में खेले
मिस्‍बाह ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के लिए कॉलम में लिखा कि भविष्य की बात करें तो इंग्लैंड टीम पाकिस्तान आती है तो बहुत अच्छी बात होगी. उन्होंने कहा कि इंग्लैंड के कई खिलाड़ी पाकिस्तान सुपर लीग 2020 में खेले थे. इसके बाद श्रीलंका, बांग्लादेश और एमसीसी की टीमें आई. इससे पहले विश्व एकादश और वेस्टइंडीज टीमें आई थी.
यह भी पढ़ें: 



CPL 2020: मैदान पर इस बल्‍लेबाज ने मचाया कोहराम, 8 छक्‍के जड़कर बनाए 85 रन

जेम्‍स एंडरसन को बधाई देते हुए केएल राहुल ने खुद को किया ट्रोल, समझ आने पर ट्वीट किया डिलीट

हर कोई पाकिस्‍तान की सुरक्षा से हैं वाकिफ
पाकिस्‍तानी कोच मिस्‍बाह ने कहा कि दुनिया भर के खिलाड़ियों को पता है कि पाकिस्तान में किस दर्जे की सुरक्षा मिलती है और उनका किस तरह इस्तकबाल होता है. पाकिस्तानी क्रिकेटप्रेमी भी अपनी धरती पर क्रिकेट देखना चाहते हैं. उन्‍होंने कहा कि इसी तरह से मुश्किल समय में एक दूसरे की मदद कर सकते हैं. पूरे क्रिकेट समुदाय को एक दूसरे का साथ देना चाहिए ताकि खेल का प्रचार हो सके और क्रिकेटप्रेमियों के चेहरों पर मुस्कान लाई जा सके.

(भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज