IND vs AUS: पैट कमिंस बोले, टेस्ट सीरीज में इतनी दोस्ती नहीं दिखेगी

पैट कमिंस ने कहा उन्हें विराट कोहली (Virat Kohli) को गेंदबाजी करने का इंतजार है. (Pat Cummins/Instagram)

पैट कमिंस ने कहा, ''छींटकाशी के मामले में अभी तक यह दौरा दोस्ताना रहा है. मैदान पर सभी मुस्कुराते नजर आए. लेकिन टेस्ट क्रिकेट की बात अलग है, जिसमें पांच दिन तक खेलना होता है. इसमें इतनी दोस्ती नहीं दिखेगी क्योंकि ए काफी प्रतिस्पर्धी और चुनौतीपूर्ण होगी.''

  • Share this:
    एडिलेड. ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष तेज गेंदबाज पैट कमिंस (Pat Cummins) ने कहा कि भारत के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज 'थोड़ी आक्रामक' हो सकती है. हालांकि. सीमित ओवरों की सीरीज में भी दोनों टीमों के खिलाड़ियों के बीच दोस्ताना छींटाकशी ही देखी गई. चार टेस्ट मैचों की सीरीज (India vs Australia) 17 दिसंबर से शुरू होगी. कमिंस ने एक वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ''छींटकाशी के मामले में अभी तक यह दौरा दोस्ताना रहा है. मैदान पर सभी मुस्कुराते नजर आए. लेकिन टेस्ट क्रिकेट की बात अलग है, जिसमें पांच दिन तक खेलना होता है. इसमें इतनी दोस्ती नहीं दिखेगी क्योंकि ए काफी प्रतिस्पर्धी और चुनौतीपूर्ण होगी.''

    उन्होंने कहा कि उन्हें विराट कोहली (Virat Kohli) को गेंदबाजी करने का इंतजार है. कमिंस ने कहा, ''मुझे खुशी है कि स्टीव स्मिथ को गेंदबाजी नहीं करनी पड़ती. मैंने पिछले सप्ताह केन विलियमसन (Kane Williamson) का दोहरा शतक देखा. खुश हूं कि मैं वहां नहीं खेल रहा था. कई बार कुछ बल्लेबाजों के साथ प्रतिस्पर्धा बड़ी हो जाती है.''

    टेस्ट सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलिया को लगा एक और झटका, बुमराह के शॉट से ग्रीन के सिर पर लगी गेंद- VIDEO

    उन्होंने कहा, ''मुझे याद है जब ग्लेन मैकग्रा वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा को गेंदबाजी करते थे. आप इसलिए उसे देखते थे कि आपको लगता था कि कुछ होने वाला है. देखते है कि इस सीरीज में क्या होता है.'' ऑस्ट्रेलिया के भावी टेस्ट कप्तान माने जा रहे कमिंस ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाज भी कप्तान हो सकते हैं.

    उन्होंने कहा, ''मुझे लगता है कि टेस्ट क्रिकेट में कप्तानी करना एक गेंदबाज के लिए सबसे आसान है. आप काफी व्यस्त रहते हैं और गेंदबाजी में काफी प्रयास करते हैं. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ज्यादा गेंदबाज कप्तान नहीं है लेकिन पता नहीं ऐसा क्यों है.'' कमिंस ने कहा कि आगामी टेस्ट सीरीज में विकेटों से उन्हें रफ्तार और उछाल मिलने की उम्मीद है.

    IND A vs AUS A: बुमराह प्रैक्टिस मैच में जड़ा अर्धशतक, टीम इंडिया ने दिया गार्ड ऑफ ऑनर

    उन्होंने कहा, ''बल्ले और गेंद में संतुलन होना चाहिए. टेस्ट मैच में एक टीम जाकर 600 रन बना दे तो देखने में क्या मजा आएगा. गेंदबाज और बल्लेबाज दोनों के लिए कुछ होना चाहिए. ऑस्ट्रेलिया में विकेटों से रफ्तार और उछाल जरूर मिलेगी.''

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.