सजा काटने के बावजूद क्रिकेट में वापसी के लिए PCB ने शरजील के सामने रखी यह शर्त

साल 2017 में पाकिस्तान सुपरलीग (PSL) के दूसरे सीजन के दौरान उनका नाम स्पॉट फिक्सिंग (Spot Fixing) में आया था.

News18Hindi
Updated: August 11, 2019, 7:45 PM IST
सजा काटने के बावजूद क्रिकेट में वापसी के लिए PCB ने शरजील के सामने रखी यह शर्त
शरजील खान स्पॉट फिक्सिंग के चलते बैन का सामना कर रहे थे
News18Hindi
Updated: August 11, 2019, 7:45 PM IST
स्पाट फिक्सिंग (Spot Fixing) मामले में फंसे पाकिस्तान के पूर्व सलामी बल्लेबाल शरजील खान (Sharjeel Khan) ने 30 महीने की सजा शनिवार को पूरी कर ली लेकिन पीसीबी (PCB) ने साफ कर दिया कि क्रिकेट में वापसी के लिए उन्हें अपनी गलती को स्वीकार कर भ्रष्टाचार रोधी पुनर्वास कार्यक्रम में भाग लेना होगा.

शरजील को पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में फिक्सिंग का दोषी पाये जाने के बाद अगस्त 2017 में पांच साल निलंबन की सजा दी गयी थी लेकिन पीसीबी की भ्रष्टाचार रोधी न्यायधिकरण ने उनके निलंबन की आधी सजा रद्द कर दी थी.

पीसीबी के भ्रष्टाचार रोधी न्यायधिकरण ने शारजील के साथ खालिद लतीफ, मोहम्मद इरफान, मोहम्मद नवाज, नसीर जमशेद जब शाहबाज हसन को भी मैच फिक्सिंग में शामिल पाया था.

पीसीबी के एक अधिकारी ने कहा कि शरजील को सितंबर में होने वाले कायदे आजम ट्रॉफी में खेलने का मौका मिल सकता है लेकिन इसके लिए उन्हें स्पॉट फिक्सिंग में अपनी संलिप्तता स्वीकार करनी होगी और अपने कार्यों के लिए माफी मांगनी होगी.

उन्होंने कहा कि सलमान बट्ट और मोहम्मद आसिफ को भी क्रिकेट में वापसी के लिए 2015 में ऐसा ही करना पड़ा था. शरजील से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि उन्होंने अपने खिलाफ लगे पांच आरोपों को मान लिया लेकिन यह स्वीकार नहीं किया कि वह स्पॉट फिक्सिंग में शामिल थे और इससे उन्हें वित्तीय फायदा हुआ था.

साल 2017 में लगा था बैन

आपको बता दें 29 साल के शरजील खान आज क्रिकेट से दूर हैं. वो पाकिस्तान में किसी भी लेवल पर क्रिकेट नहीं खेल रहे हैं. दरअसल साल 2017 में पाकिस्तान सुपरलीग के दूसरे सीजन के दौरान उनका नाम स्पॉट फिक्सिंग (Spot Fixing) में आया था. PSL-2 के पहले ही मैच में शरजील खान और खालिद लतीफ इस्लामाबाद यूनाइटेड के लिए खेल रहे थे और दोनों को 5 एंटी करप्शन संहिताओं के उल्लंघन का दोषी पाया गया था. इसके बाद 30 अगस्त 2017 को शरजील खान पर 5 साल का बैन लगाया गया.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 11, 2019, 7:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...