पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति ने पूछा- सिर्फ नमाज पढ़ने और दाढ़ी रखने वाले खिलाड़ियों को ही मौका क्यों?

इंजमाम उल हक से मुशर्रफ ने पूछा अजीब सवाल
इंजमाम उल हक से मुशर्रफ ने पूछा अजीब सवाल

दानिश कनेरिया से भेदभाव मामले पर इंजमाम उल हक (Inzamam-ul-Haq) ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि उन पर पूर्व राष्ट्रपति मुशर्रफ ने बड़ा आरोप लगा दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 1, 2020, 3:28 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान में इस वक्त दानिश कनेरिया से भेदभाव का मुद्दा गर्माया हुआ है. इसी बीच पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाजों में से एक इंजमाम उल हक (Inzamam-ul-Haq) ने भेदभाव के मुद्दे पर ही बड़ा बयान दिया है. इंजमाम उल हक ने कहा कि पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने उन पर टीम चयन में भेदभाव का आरोप लगा दिया था. इंजमाम उल हक ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर ये बात कही.

मुशर्रफ ने इंजमाम पर लगाया था बड़ा आरोप


मुशर्रफ ने पूछा-तुम दाढ़ी वालों को टीम में चुनते हो?
इंजमाम उल हक (Inzamam-ul-Haq) ने फैंस को बताया, 'एक दफा परवेज मुशर्रफ (Pervez Musharraf) ने मुझे बुलाया, वो हमारे राष्ट्रपति थे. उन्होंने पूरी टीम के सामने कहा कि तुम सिर्फ नमाज पढ़ने वालों और दाढ़ी रखने वालों को ही टीम में मौका देते हो बाकियों को नहीं और ये सुनकर मैं हंस पड़ा. मैंने कहा कि धर्म अपनी जगह है और खेल अपनी जगह है. इन दोनों को जोड़ने में मैं भरोसा नहीं रखता.'
इंजमाम ने आगे कहा, 'अगर धर्म पर चलने की बात है तो हमारा धर्म ये कहता है कि आपको इंसाफ करना है चाहे वो मुस्लिम हो या फिर गैर मुस्लिम. मैंने मुश्ताक अहमद पर दानिश कनेरिया को मौका दिया था, क्योंकि वो भविष्य थे.'





हिंदू खिलाड़ियों से पाकिस्तान को मोहब्बत
इंजमाम उल हक (Inzamam-ul-Haq) ने अपने यू-ट्यूब वीडियो में ये भी दावा किया कि पाकिस्तानी अवाम को हिंदू खिलाड़ियों से प्यार है. इंजमाम ने कहा, 'जब 2005 में भारतीय टीम पाकिस्तान आई थी तो उनके लिए पाकिस्तान के लोगों ने अपना घर और दिल के दरवाजे खोल दिए थे. भारतीय खिलाड़ियों से किसी भी होटल, रेस्तरां में पैसे नहीं लिए गए. यहां तक कि टैक्सीवालों ने भी उनसे एक पैसा नहीं लिया. हमने भी भारत दौरे पर ऐसा महसूस किया.'

इंजमाम (Inzamam-ul-Haq) ने आगे कहा, 'दुबई, शारजाह में जब भारत-पाकिस्तान के मैच होते थे तो दोनों टीमों के खिलाड़ी साथ में खाना खाते थे. यही नहीं जब में एक ऐड शूट के सिलसिले में कोलकाता गया था तो मेरे लिए सौरव गांगुली रोज खाना भिजवाते थे. खाना उनके रेस्तरां से आता था.'

danish kaneria shoaib akhtar, danish kaneria discrimination, pakistan cricket team hindu, pakistan hindu, shaib akhtar hindu remark, दानिश कनेरिया, शोएब अख्‍तर, शोएब अख्‍तर दानिश कनेरिया, पाकिस्‍तान क्रिकेट टीम हिंदू
दानिश कनेरिया के साथ कोई भेदभाव नहीं-इंजमाम


बता दें कि हाल ही में शोएब अख्तर ने दावा किया था कि पाकिस्तान के कुछ खिलाड़ी दानिश कनेरिया से भेदभाव करते थे. इसके बाद दानिश कनेरिया ने भी इसे सही बताया था. हालांकि इंजमाम, वकार यूनिस जैसे दिग्गजों ने इन आरोपों को बेबुनियाद करार दिया.

2019 में जो कुछ कमाया सब ले लो, बस पिता को ठीक कर दो- स्टोक्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज