लाइव टीवी

पीएम मोदी ने बच्‍चों को दिए राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्‍मण और अनिल कुंबले के उदाहरण, ये रही वजह

भाषा
Updated: January 20, 2020, 5:31 PM IST
पीएम मोदी ने बच्‍चों को दिए राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्‍मण और अनिल कुंबले के उदाहरण, ये रही वजह
वीवीएस लक्ष्‍मण और राहुल द्रविड़.

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने छात्रों को क्रिकेट से जुड़े कई उदाहरण भी दिए और क्रिकेट खिलाड़ियों के कुछ तरीके भी बताए.

  • Share this:
नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने सोमवार को देशभर के छात्रों को 'परीक्षा पर चर्चा' (Pariksha Pe Charcha) कार्यक्रम के तहत परीक्षा में तनाव से मुक्ति पाने के कुछ कारगर उपाय सुझाए. इस दौरान उन्‍होंने छात्रों को क्रिकेट से जुड़े कई उदाहरण भी दिए और क्रिकेट खिलाड़ियों के कुछ तरीके भी बताए. उन्‍होंने साल 2001 में ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ कोलकाता टेस्‍ट में वीवीएस लक्ष्‍मण (VVS Laxman) और राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की साझेदारी का उदाहरण भी दिया. मोदी ने दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में कहा कि क्रिकेट खिलाड़ी मैदान में बैटिंग या बॉलिंग शुरू करने से पहले बैट घुमाना या बॉल फेंकने का अभ्‍यास करते हैं. दरअसल ये उनके अपने तनाव को दूर करने का तरीका होता है.

मोदी ने छात्रों से परीक्षा में जाने से पहले अपने पेन कॉपी आदि को ठीक करने जैसी परीक्षा से जुड़ी गतिविधियों में एक दो मिनट के लिए खुद को शामिल करने का सुझाव देते हुए कहा कि ऐसा करने से वे परीक्षा से जुड़े तनाव को दूर कर पाएंगे.

pariksha pe charcha 2020, pm narendra modi talks with students live updates, narendra modi,परीक्षा पे चर्चा 2020,प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी,नरेंद्र मोदी
पीएम नरेंद्र मोदी परीक्षा पर चर्चा कार्यक्रम के दौरान.


कोलकाता टेस्‍ट में लक्ष्‍मण-द्रविड़ ने पलटा था पासा

कोलकाता टेस्‍ट का उदाहरण देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, 'क्या आपको याद है 2001 में भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज? हमारी क्रिकेट टीम अच्छा नहीं कर रही थी. सभी का मूड खराब था. लेकिन उस पल में भी द्रविड़ और लक्ष्मण ने जो किया, हम नहीं भूल सकते. उन्होंने मैच पलट कर रख दिया.' बता दें कि इस टेस्‍ट में भारत को फॉलोऑन झेलना पड़ा था. दूसरी पारी में राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण ने 376 रनों की साझेदारी की और भारत की वापसी कराई. लक्ष्‍मण ने 281 जबकि द्रविड़ ने 180 रन की पारी खेली थी. बाद में भारत ने यह टेस्‍ट जीतकर ऑस्‍ट्रेलिया के लगातार 17वां टेस्‍ट जीतने के सपने को तोड़ दिया था.

टूटे जबड़े के साथ कुंबले ने की थी बॉलिंग
पीएम मोदी ने अनिल कुंबले का उदाहरण भी छात्रों को दिया. उन्‍होंने कहा, 'कौन भूल सकता है कि कुंबले ने घायल होते हुए भी गेंदबाजी की. यह प्रेरणा और सकारात्मक सोच की शक्ति है.' भारत और वेस्‍टइंडीज के बीच एंटीगा टेस्‍ट में विंडीज तेज गेंदबाज मर्व डिल्‍लन की गेंद से कुंबले का जबड़ा टूट गया था. लेकिन वह फिर भी बल्‍लेबाजी करते रहे. बाद में वह पट्टी बांधकर गेंदबाजी करने के लिए भी आए थे और उन्‍होंने ब्रायन लारा का विकेट लिया था.यह भी पढ़ें :-

इस ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी के आउट होने पर बीवी ने पीट लिया माथा, ये है वजह

17 साल के गेंदबाज का वर्ल्ड रिकॉर्ड, टीम इंडिया के खिलाफ फेंकी सबसे तेज गेंद!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 4:58 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर