मैनचेस्टर में शतक से चूके ओली पोप, कहा- 91 रन बनाकर बोझ उतर गया

ओली पोप ने खेली 91 रनों की पारी

ओली पोप (Ollie Pope) की बल्लेबाजी की तारीफ कर चुके हैं सचिन तेंदुलकर, अब एंड्रयू स्ट्रॉस ने बताया बड़ी खोज

  • Share this:
    नई दिल्ली. इंग्लैंड के बल्लेबाज ओली पोप (Ollie Pope) ने स्वीकार किया कि जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहना चुनौतीपूर्ण अनुभव रहा और तीसरे टेस्ट की पहली पारी में 91 रन बनाकर ऐसा लगा कि उनके कंधे से बोझ उतर गया. वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले दो टेस्ट में 22 साल का यह खिलाड़ी असफल रहा जिसमें उसका टॉप स्कोर नाबाद 12 रन था. लेकिन पोप ने निर्णायक टेस्ट के शुरूआती दिन जोस बटलर के साथ मिलकर इंग्लैंड को संभाला क्योंकि चाय के समय तक मेजबान टीम चार विकेट पर 122 रन बनाकर जूझ रही थी और इन दोनों ने स्टंप तक उसे चार विकेट पर 258 रन तक पहुंचाया. दूसरे दिन यह युवा अपने दूसरे शतक से नौ रन से चूक गया और दिन का खेल शुरू होते ही शैनोन गैब्रियल की गेंद पर बोल्ड हो गया.

    पोप ने कहा-कंधे से उतरा बोझ
    पोप (Ollie Pope) ने ‘स्काई स्पोर्ट्स क्रिकेट’ से कहा,'कुछ रन बनाकर अच्छा लगा और इससे ऐसा लगा जैसे कंधों से थोड़ा बोझ उतर गया. ' उन्होंने कहा,'पिछले मैचों में असफल रहना और ऐसे वातावरण में रहना जिसमें आप अपने परिवार को नहीं देख सकते, थोड़ा चुनौतीपूर्ण रहा. आप अपने कमरे में जाते और बस क्रिकेट की पिच की ओर देखते. ' इस श्रृंखला से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट बहाल हुआ और इसे कोरोना वायरस महामारी के बीच जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में दर्शकों के बिना खाली स्टेडियम में खेला गया. पोप ने कहा कि अपने परिवार को नहीं देख पाने का असर उन पर पड़ा लेकिन इस परीक्षा की घड़ी के दौरान टीम में सभी ने एक दूसरे का पूरा सहयोग किया.

    एंड्रयू स्ट्रॉस ने पोप को बताया बड़ी खोज
    पूर्व कप्तान एंड्रयू स्ट्रॉस को लगता है कि इंग्लैंड ने ओली पोप (Ollie Pope) के रूप में एक बेहतरीन क्रिकेटर खोज लिया है जिसमें खेल के सभी प्रारूपों में सफलता हासिल करने की क्षमता है. साल के शुरू में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 22 साल के खिलाड़ी ने दो अर्धशतक जमाये और पोर्ट एलिजाबेथ में करियर की सर्वश्रेष्ठ 135 रन की नाबाद पारी खेली. स्ट्रास ने ‘स्काई स्पोर्ट्स’ से कहा,'अगर आप उसका प्रथम श्रेणी रिकार्ड देखो तो उसका औसत 57 का है और उसने दक्षिण अफ्रीका में खेली गयी अपनी शानदार पारी के बूते साबित कर दिया है कि वह टेस्ट क्रिकेट में ऐसा कर सकता है. ' उन्होंने कहा,'पोप ऐसा खिलाड़ी है जो तेजी से रन जुटा सकता है और आपका ध्यान भी नहीं जायेगा. उसने कुछ आकर्षक शॉट भी खेले और वह सीम व स्पिन दोनों के खिलाफ पूरी तरह से सहज लगता है तो इसमें कोई कमजोरी नहीं है. मुझे लगता है कि वह इंग्लैंड की अच्छी खोज है. '

    पोप ने 2018 में भारत के खिलाफ अपना टेस्ट पदार्पण किया था, वह अभी तक इंग्लैड के लिये सफेद गेंद का क्रिकेट नहीं खेला है. स्ट्रॉस को लगता है कि वह सीमित ओवर के फॉर्मेट में भी अच्छा प्रदर्शन करेगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.