क्राइस्टचर्च में ठोका था दोहरा शतक, दूसरे टेस्ट में डेब्यू कर ये बल्लेबाज बनेगा विराट के लिए संकटमोचक!

क्राइस्टचर्च में ठोका था दोहरा शतक, दूसरे टेस्ट में डेब्यू कर ये बल्लेबाज बनेगा विराट के लिए संकटमोचक!
साल के आखिर में भारत को ऑस्‍ट्रेलिया का दौरा करना है.

मेजबान न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया (Team India) को 10 विकेट से करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था. पहले टेस्ट मैच की दोनों पारियों में विराट कोहली (Virat Kohli) की टीम 200 रन को भी पार नहीं कर पाई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2020, 1:23 PM IST
  • Share this:


क्राइस्टचर्च. पहले टेस्ट मैच में मेजबान न्यूजीलैंड के हाथों मिली करारी शिकस्त के बाद कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) दूसरे टेस्ट मैच से पहले टीम चयन को लेकर बड़ा फैसला ले सकते हैं. दरअसल चोटिल होने के कारण सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने गुरुवार को अभ्यास सत्र में हिस्सा  नहीं लिया, जिससे बाद धाकड़ बल्लेबाज शुभमन गिल (Shubman Gill) को दूसरे मैच में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका मिल सकता है. दरअसल युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने बाएं पैर में सूजन के कारण गुरुवार  को अभ्यास सत्र में हिस्सा नहीं लिया. ‌जिससे टीम मैनेजमेंट की चिंता बढ़ गई है. सूत्रों का कहना है कि सूजन के कारणों का पता लगाने के लिए गुरुवार को शॉ के खून की जांच होने के बाद उनकी उपलब्‍धता पर शुक्रवार को फैसला लिया जाएगा. अगर शॉ बल्लेबाजी में सहज नहीं दिखते हैं तो वह अंतिम एकादश में जगह नहीं बना पाएंगे. वहीं इसके  बाद शुभमन गिल के मैदान पर उतरने की संभावना बढ़ जाएगी, क्योंकि  गुरुवार को उनका नेट सत्र अच्छा रहा था. वहीं क्रास्टचर्च पर इंडिया ए की ओर से उन्होंने बड़ी पारी भी खेली थी.


अभ्यास सत्र में गिल पर अधिक ध्यान



अभ्यास सत्र में कोच रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) ने शुभमन गिल पर अधिक ध्यान दिया. एक बार तो वह गिल के पास आए और उन्हें फुटवर्क के बारे में कुछ ‌टिप्स ‌दिए थे. हालांकि टीम मैनेजमेंट को उम्मीद है कि शॉ की सूजन अधिक गंभीर नहीं होगी. मगर इसके बावजूद शुभमन के मैदान पर उतरने की संभावना अधिक है, क्योंकि 30 जनवरी को इसी मैदान पर न्यूजीलैंड ए के खिलाफ इंडिया ए की ओर से खेलते हुए उन्होंने मैच की पहली पारी में 83 रन और दूसरी पारी में नाबाद 204 रन बनाए थे. वह यहां के विकेट से भली भांति परिचित भी हैं. वहीं शॉ का यह पहला विदेशी दौरा था.



पहले टेस्ट में बल्ले से रहे थे फ्लॉप
शतक के साथ 2018 में टेस्ट क्रिकेट में कदम रखने वाले सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) का यह पहला विदेशी दौरा है, मगर न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में वह बल्ले से प्रभावित नहीं कर पाए थे. 2018 में टेस्ट डेब्यू करने के बाद उनका करियर चोट और फिर डोपिंग से प्रभावित रहा. सभी से उबर कर वह टेस्ट टीम के साथ न्यूजीलैंड दौरे पर आए थे और पहले टेस्ट में फ्लॉप होने के बाद उनके पास दूसरे टेस्ट के रूप में एक मौका था. मगर 29 फरवरी से क्राइस्टचर्च में शुरू होने वाले दूसरे और आखिरी टेस्ट मैच से पहले शॉ को झटका लग गया. जिसके बाद शुभमन गिल के टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने की संभावना बढ़  गई है.


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading