PSL के चलते बर्बाद हुआ पाकिस्तान, करोड़ाें रुपये के घाटे की संसद में खुली पोल

पाकिस्तान सुपर लीग अपनी शुरुआत से ही विवादों में घिरी रही है. (फाइल फोटो)

पाकिस्तान सुपर लीग अपनी शुरुआत से ही विवादों में घिरी रही है. (फाइल फोटो)

पाकिस्तान सुपर लीग (Pakistan Super League) के शुरुआती दो सीजन के चलते पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (Pakistan Cricket Board) को करीब 25 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 18, 2019, 9:00 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान सुपर लीग (Pakistan Super League) अपनी शुरुआत से ही विवादों में घिरी रही है. 2017 में स्पॉट फिक्सिंग (Spot Fixing) के चलते कई खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. शर्जील खान और खालिद लतीफ के काले कारनामों का सच भी किसी से छिपा नहीं है. अब इस विवादित टी-20 लीग को लेकर एक और चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. पाकिस्तान सुपर लीग को लेकर ये खुलासा कहीं और नहीं बल्कि पाकिस्तान की संसद में किया गया है. इसके बाद इस लीग को लेकर कई चैंकाने वाली जानकारियां सामने आई हैं.

25 करोड़ रुपये का हुआ घाटा
दरअसल, पाकिस्तान सुपर लीग (Pakistan Super League) के शुरुआती दो सीजन के चलते पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (Pakistan Cricket Board) को करोड़ाें रुपये का घाटा हुआ है. यह राशि करीब 25 करोड़ रुपये की है. लीग के शुरुआती दो सीजन को लेकर जारी की गई एक विशेष ऑडिट रिपोर्ट में पाकिस्तान के ऑडिटर जनरल ने बताया कि टीमों को अनियमित तौर पर भुगतान किया गया. वेंडर्स को अग्रिम भुगतान में अनियमितता बरती गई. यहां तक कि फ्रेंचाइजियों से लिए जाने वाले पैसों की रिकवरी नहीं हुई और पत्रकारों व बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के सदस्यों को टीए-डीए का भुगतान किया गया.

पाकिस्तानी समाचार पत्र द डॉन (The Dawn) की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (Pakistan Cricket Board) को कुल 24.86 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. इनमें 3.20 करोड़ रुपये की वो रकम भी शामिल है जिसकी रिकवरी पीसीबी लीग की फ्रेंचाइजियों से नहीं कर सका है. ये रिपोर्ट पाकिस्तान की संसद में सोमवार 16 सितंबर को रखी गई थी. रिपोर्ट के अनुसार, जहां पीसीबी फ्रेंचाइजियों से 3.20 करोड़ रुपये की रिकवरी नहीं कर पाई है.
cricket, cricket news, sports news, pakistan super league, pcb, spot fixing, क्रिकेट न्यूज, क्रिकेट, पाकिस्तान सुपर लीग, पीसीबी स्पॉट फिक्सिंग
पाकिस्तान सुपर लीग का पिछला सीजन क्वेटा ग्लेडिएटर्स ने अपने नाम किया था. (फाइल फोटो)




पाकिस्तान के बाहर भी फंड ट्रांसफर
ऑडिटर जनरल की रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि पीसीबी ने गैरकानूनी और अवैध तरीके से पीएसएल के फंड को पाकिस्तान के बाहर थर्ड पार्टी के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया है. यह राशि करीब 14.51 करोड़ रुपये आंकी गई है. इसके अलावा कमर्शियल ब्रॉडकास्ट राइट्स के वितरण में पीसीबी को 1.3 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है.

जहां तक मैदान पर प्रदर्शन की बात है तो सरफराज अहमद की अगुआई वाली क्वेटा ग्लेडिएटर्स ने पहली बार ट्रॉफी अपने नाम की थी. इस टीम ने कराची के स्टेडियम में खेले गए फाइनल में पेशावर जाल्मी को 8 विकेट से मात दी थी. मोहम्मद हसनैन को खिताबी मुकाबले में मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया था.

महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली इसलिए नहीं बन सकते मैच फिक्सिंग का‌ शिकार!

INDvsSA : कोहली ने बीच मैदान पर भारतीय खिलाड़ियों को सिखाया 'सबक', सुपरमैन बनकर लिया जबरदस्त कैच, VIDEO
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज