होम /न्यूज /खेल /

आर अश्विन ने शेयर किया कपिल देव का बधाई पत्र, जानें रिकॉर्ड तोड़ने पर पूर्व दिग्गज ने क्या कहा

आर अश्विन ने शेयर किया कपिल देव का बधाई पत्र, जानें रिकॉर्ड तोड़ने पर पूर्व दिग्गज ने क्या कहा

मोहाली टेस्ट में आर अश्विन ने कपिल देव का रिकॉर्ड तोड़ा था (BCCI Twitter)

मोहाली टेस्ट में आर अश्विन ने कपिल देव का रिकॉर्ड तोड़ा था (BCCI Twitter)

आर अश्विन (R Ashwin) ने श्रीलंका के खिलाफ मोहाली टेस्ट (Mohali Test) में महान कपिल देव (Kapil Dev) के टेस्ट विकेटों का रिकॉर्ड तोड़ा था. जिसके बाद कपिल देव ने उन्हें बधाई देते हुए पत्र लिखा था. आर अश्विन ने अब इस पत्र का खुलासा किया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. टीम इंडिया के स्टार स्पिनर आर अश्विन ने हाल में श्रीलंका (Sri Lanka) के खिलाफ संपन्न हुई टेस्ट सीरीज के दौरान मोहाली में महान कपिल देव का रिकॉर्ड तोड़ा था. इस मुकाबले में उन्होंने चरिथ असलांका (Charith Asalanka) का विकेट लेकर उन्हें कपिल द्वारा टेस्ट में लिए गए 434 विकेटों के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया. कपिल देव के क्रिकेट से रिटायरमेंट लेने के बाद उनके नाम यह रिकॉर्ड कई वर्षों तक रहा था. वहीं, बेंगलुरु में खेले गए दूसरे टेस्ट के दौरान अश्विन ने दक्षिण अफ्रीका के पूर्व तेज गेंदबाज डेन स्टेन (Dale Steyn) के 439 टेस्ट विकेटों के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया.

    पहले टेस्ट के बाद अश्विन ने खुलासा किया कि कपिल देव के विकेटों का रिकॉर्ड तोड़ने के बाद पूर्व कप्तान की तरफ से बधाई के रूप में एक पत्र और गुलदस्ता मिला था. इस पत्र की तस्वीर अश्विन ने सोशल मीडिया पर शेयर की. भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव ने इस पत्र में आर अश्विन की प्रशंसा करते हुए लिखा, बधाई हो! वाकई खुशी है कि आपने मेरा रिकॉर्ड तोड़ा है. आपने भारत को गौरवान्वित किया है! आपको और परिवार में सभी को शुभकामनाएं.

    अश्विन ने जताया आभार

    इससे पहले अश्विन ने भारत की तरफ से दूसरे सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाज बनने पर खुशी जाहिर की. उन्होंने कहा, ‘मैं बहुत विनम्र महसूस कर रहा हूं, 28 साल पहले मैं अपने पिता के साथ कपिल पाजी के लिए चीयर कर रहा था, जब उन्होंने रिचर्ड हैडली के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा था.’

    यह भी पढे़ं:

    IPL 2022: दीपक चाहर अगर मिस करेंगे आईपीएल 2022, तो किसे मिलेगा मौका, जानिए दिग्गजों की राय

    मयंक अग्रवाल की अगुवाई में पंजाब किंग्स पहला IPL खिताब जीतने को बेकरार, जानें टीम की ताकत और कमजोरी

    अश्विन ने अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘मैंने उनके विकेटों की संख्या को पार करने के बारे में कभी नहीं सोचा था. क्योंकि मैं हमेशा से एक बल्लेबाज बनना चाहता था, खासकर जब मैंने आठ साल की उम्र में शुरुआत की तो मेरा इरादा बल्लेबाज बनने का था, उस समय सचिन तेंदुलकर विश्व क्रिकेट में उभर रहे थे जबकि कपिल देव एक शानदार स्ट्राइकर थे.’ अश्विन ने इस दौरान यह भी कहा कि वह अपने पिता की सलाह पर मीडियम पेसर बनना चाहते थे.

    Tags: Cricket news, IND vs SL, Kapil dev, R ashwin

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर