अपना शहर चुनें

States

राहुल द्रविड़ की महानता, कहा- ऑस्ट्रेलिया में सफलता का श्रेय मुझे बेवजह मिल रहा है

राहुल द्रविड़ ने कहा-ऑस्ट्रेलिया में सफलता के पीछे मेरा हाथ नहीं (PIC : PTI)
राहुल द्रविड़ ने कहा-ऑस्ट्रेलिया में सफलता के पीछे मेरा हाथ नहीं (PIC : PTI)

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टीम इंडिया को सीरीज जिताने वाले युवा खिलाड़ियों ने राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) से ट्रेनिंग ली थी, उस वक्त ये महान क्रिकेटर इंडिया-ए का कोच था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2021, 3:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 2-1 से टेस्ट सीरीज जीतने वाली टीम इंडिया को हर कोई सलाम कर रहा है. भारतीय टीम ने कई प्रमुख खिलाड़ियों के बिना इस सीरीज को जीता. शुभमन गिल, ऋषभ पंत, शार्दुल ठाकुर, वॉशिंगटन सुंदर जैसे युवा खिलाड़ियों ने टेस्ट सीरीज जिताने में अहम भूमिका अदा की. टीम की जीत के बाद पूर्व क्रिकेटर और एनसीए चीफ राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid)  को फैंस सोशल मीडिया पर सलाम करते दिखे क्योंकि उन्होंने ही इन युवा खिलाड़ियों को इंटरनेशनल क्रिकेट के लिये तैयार किया था. अब राहुल द्रविड़ ने खुद को मिल रहे श्रेय पर चुप्पी तोड़ी है.

राहुल द्रविड़ ने अपनी महानता दिखाते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलिया में सफलता का श्रेय उन्हें बेवजह मिल रहा है. राहुल द्रविड़ ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा, 'हा हा हा..बेवजह का श्रेय. लड़के तारीफ के काबिल हैं.' राहुल द्रविड़ भले ही श्रेय लेने से इनकार कर लें लेकिन खुद ऋषभ पंत, हनुमा विहारी, शुभमन गिल जैसे खिलाड़ियों ने कहा है कि उनकी सफलता में राहुल द्रविड़ का बड़ा हाथ है.

राहुल द्रविड़ ने खिलाड़ियों का स्तर बढ़ाया-जतिन परांजपे
पूर्व सेलेक्टर जतिन परांजपे ने भी इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा कि मौजूदा टीम के युवा खिलाड़ियों की सफलता में राहुल द्रविड़ का बड़ा हाथ है. उन्होंने कहा, 'द्रविड़ ने युवा खिलाड़ियों को कुछ अहम टिप्स दिये थे जिसने खिलाड़ियों के स्तर को बढ़ाया. राहुल द्रविड़ जैसे खिलाड़ी ने उनका बेस मजबूत बनाया और उसके बाद वो रवि शास्त्री जैसे खिलाड़ी के पास गए, इससे सभी युवा खिलाड़ियों को फायदा मिला.'
ऑस्‍ट्रेलिया दौरे से लौटने के बाद वाशिंगटन सुंदर ने शेयर की अपनी 2 अनमोल संपत्ति की तस्‍वीर



परांजपे ने कहा, ''इन दौरों से पहले राहुल द्रविड़, भारतीय टीम का सपोर्ट स्टाफ, इंडिया ए और अंडर 19 टीम, चयनकर्ताओं के साथ राहुल द्रविड़ चर्चा करते हैं कि उन्हें किन खिलाड़ियों पर ध्यान देना है. इंडिया ए टीम में रणजी ट्रॉफी के प्रदर्शन को तवज्जो दी जाती है. मयंक अग्रवाल और हनुमा विहारी को वहीं से टीम में एंट्री मिली है. ए टीम के पास अगर राहुल द्रविड़ जैसा कोच रहा हो तो खिलाड़ियों के लिए इससे बेहतर क्या होगा.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज