खेल

  • associate partner

राजस्थान रॉयल्स के इस खिलाड़ी पर है सुरेश रैना का एहसान,कहा-मेरी जिंदगी बना दी

राजस्थान रॉयल्स के इस खिलाड़ी पर है सुरेश रैना का एहसान,कहा-मेरी जिंदगी बना दी
सुरेश रैना का एहसानमंद है राजस्थान रॉयल्स का युवा तेज गेंदबाज

आईपीएल 2020 (IPL 2020) में राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) की ओर से अंडर-19 टीम के तीन सुपरस्टार खेलने वाले हैं, उनमें से एक कार्तिक त्यागी ने सुरेश रैना को अपना मेंटॉर बताया

  • Share this:
नई दिल्ली. रॉजस्थान रॉयल्स के युवा खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के इस सत्र में अपने प्रदर्शन से प्रभाव छोड़ने की पूरी कोशिश करेगें. कार्तिक त्यागी, आकाश सिंह, यशस्वी जायसवाल जैसे भारतीय अंडर-19 टीम का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ी उस कारनामे को दोहराना चाहेंगे 12 साल पहले जिससे ‘रॉकस्टार रविन्द्र जडेजा’ हरफनमौला खिलाड़ी के तौर पर भारतीय टीम की पहली पसंद बने थे. कार्तिक ने रणजी टीम (उत्तर प्रदेश) के अपने पहले कप्तान सुरेश रैना की तारीफ करते हुए कहा, ' मैं यह विस्तार से नहीं बता सकता की मेरे करियर में सुरेश रैना का क्या योगदान रहा है.'

भगवान ने दिया आईपीएल में खेलने का मौका: आकाश सिंह
बाएं हाथ के तेज गेंदबाजआकाश सिंह के लिए यह भगवान से मिला मौका है जहां वह अपने पसंदीदा ‘जेडी भैय्या (Jaydev Unadkat)’ के साथ मैदान पर समय बिता सकते हैं और मुश्किल परिस्थितियों का सामना कैसे करना है यह सीख सकेंगे. अंडर-19 टीम के उनके एक अन्य साथी यशस्वी को पहले ही भारतीय क्रिकेट का भविष्य माना जा रहा है. मुंबई का यह खिलाड़ी लिस्ट ए क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाला सबसे युवा खिलाड़ी है.

ये तीनों युवा खिलाड़ी 2020 में विश्व कप के फाइनल तक का सफर तय करने वाले अंडर-19 भारतीय टीम का हिस्सा थे. क्रिकेट में उनकी अच्छे सफर की शुरूआत राजस्थान रॉयल्स से जुड़ने से पहले ही हो गयी.
कार्तिक त्यागी कर सकते हैं राजस्थान रॉयल्स के लिए डेब्यू




सुरेश रैना ने दिलाई त्यागी को रणजी टीम में जगह
कार्तिग त्यागी (Kartik Tyagi) ने उस पल को याद किया जब रैना ने 17 साल की उम्र में उन्हें रणजी टीम में शामिल करने की वकालत की और तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार ने उनका पूरा समर्थन किया. दायें हाथ के इस तेज गेंदबाज ने कहा, ' रैना भैया का जो योगदान रहा है, हम कभी नहीं भूला पायेंगे. जब मैंने अंडर-16 में खेल रहा था तब मुझे रणजी ट्रॉफी शिविर में शामिल होने के लिए कहा गया था . रैना भैया ने कुछ दिनों तक मेरे खेल को देखने के बाद चयनकर्ताओं से मुझे रणजी ट्रॉफी टीम में शामिल करने को कहा था.' उन्होंने कहा, ' मैं पीके भाई (प्रवीण कुमार) के समर्थन का शुक्रगुजार हूं. रेलवे के खिलाफ मैच में दोनों ने लगातार मेरा मार्गदर्शन किया ताकि मुझ पर दबाव नहीं बने.'

उनादकट से सीखना चाहते हैं आकाश

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज