होम /न्यूज /खेल /Ranji trophy में क्यों हो रहे 2 फाइनल? बाकी टूर्नामेंट से कैसे अलग है फॉर्मेट, बिहार को कैसे मिल सकता है फायदा

Ranji trophy में क्यों हो रहे 2 फाइनल? बाकी टूर्नामेंट से कैसे अलग है फॉर्मेट, बिहार को कैसे मिल सकता है फायदा

Ranji Trophy के इस सीजन में दो चैंपियन टीमें मिलेंगी. प्लेट ग्रुप के फाइनल में बिहार का मुकाबला मणिपुर से हो रहा.  (Rajkumar Imo Singh Twitter)

Ranji Trophy के इस सीजन में दो चैंपियन टीमें मिलेंगी. प्लेट ग्रुप के फाइनल में बिहार का मुकाबला मणिपुर से हो रहा. (Rajkumar Imo Singh Twitter)

Ranji Trophy 2022-23: रणजी ट्रॉफी का पिछला सीजन कोरोना से प्रभावित रहा था. लेकिन इस बार ऐसा नहीं हुआ. इस बार टूर्नामेंट ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

रणजी ट्रॉफी 2022-23 सीजन आखिरी दौर में
रणजी ट्रॉफी में क्यों दो चैंपियन मिलेंगे?
बिहार और मणिपुर के बीच प्लेट ग्रुप का फाइनल खेला जा रहा

नई दिल्ली. Ranji Trophy 2022-23 सीजन अब अपने आखिरी पड़ाव की तरफ बढ़ चुका है. इस बार रणजी ट्रॉफी में एक नहीं, बल्कि 2 फाइनल खेले जाएंगे. एक एलीट और दूसरा प्लेट ग्रुप का. एलीट ग्रुप का फाइनल जहां 16 फरवरी को होगा. वहीं, प्लेट ग्रुप का खिताबी मुकाबला बुधवार से पटना के मोइनुल हक स्टेडियम में बिहार और मणिपुर के बीच शुरू हो चुका है. दरअसल, बीसीसीआई ने अपने फर्स्ट क्लास क्रिकेट के स्तर में सुधार लाने के इरादे से 2022-23 सीजन के लिए रणजी ट्रॉफी को दो हिस्सों में बांटा है. एक एलीट और दूसरा प्लेट. रणजी ट्रॉफी का मौजूदा सीजन 13 दिसंबर से शुरू हुआ है. वहीं, एलीट ग्रुप में आखिरी दौर के मुकाबले खेले जा रहे हैं. 31 जनवरी से नॉक आउट राउंड शुरू होगा. इससे पहले, एलीट ग्रुप में आखिरी दौर के मुकाबले खेले जा रहे हैं.

पिछले साल कोरोना की वजह से रणजी ट्रॉफी दो हिस्से में हुई थी. पहला चरण आईपीएल के पहले और दूसरा राउंड इसके बाद खेला गया था. इस बार ऐसा नहीं हुआ है. इस सीजन में रणजी ट्रॉफी के मैचों की संख्या में भी कोई कटौती नहीं हुई है.प्लेट और एलीट ग्रुप की टीमों के बीच अलग-अलग मुकाबले हुए और दो फाइनल होंगे. इसी वजह से इस बार दो टीमें रणजी चैंपियन बनेंगी.

बिहार पहली बार प्लेट ग्रुप के फाइनल में
बता दें कि बिहार की टीम पहली बार प्लेट ग्रुप के फाइनल में पहुंचीं है. ऐसे में उसके पास अपने घर में फाइनल जीतकर इतिहास रचने का मौका है. प्लेट ग्रुप के सेमीफाइनल में बिहार ने मेघालय को जबकि मणिपुर ने सिक्किम को दो विकेट से हरा कर फाइनल में जगह पक्की की थी. इस सीजन में बिहार और मणिपुर के बीच रणजी ट्रॉफी के प्लेट ग्रुप में एक बार पहले भी टक्कर हो चुकी है. तब मुकाबला ड्रॉ रहा था.

बिहार अगले सीजन से एलीट ग्रुप में खेलेगा
झारखंड बंटवारे के बाद साल 2018 में बिहार को रणजी ट्रॉफी में खेलने की मान्यता मिली थी. तब से बिहार रणजी ट्रॉफी के प्लेट ग्रुप में खेलते आया है. इस सीजन में बिहार ने बेहतर प्रदर्शन कर न केवल प्लेट ग्रुप के फाइनल में जगह बनाई, बल्कि अगले सीजन से एलीट ग्रुप में खेलने की पात्रता हासिल कर ली है. रणजी ट्रॉफी के पिछले सीजन में भी एलीट और प्लेट ग्रुप के तहत ही मुकाबले खेले गए थे. लेकिन, इस सीजन में एक बदलाव किया गया है.

इस बार क्यों रणजी ट्रॉफी में हो रहे 2 फाइनल?
रणजी ट्रॉफी के इस सीजन से पहले, सभी 38 टीमें एक ही ट्रॉफी के लिए जोर आजमाइश करती थीं. लेकिन, 2022-23 घरेलू सीजन में हमें दो रणजी ट्रॉफी विनर मिलेंगे. ऐसा बीसीसीआई ने घरेलू क्रिकेट में कॉम्पिटिशन बरकरार रखने और बराबरी की टक्कर को नजर में रखते हुए किया है.

कोरोना से प्रभावित पिछले सीजन में झारखंड ने प्लेट ग्रुप में शीर्ष पर रखने वाले नागालैंड के खिलाफ प्री-क्वार्टर फाइनल में 1008 रन ठोक डाले थे. यह फर्स्ट क्रिकेट में किसी टीम का सबसे बड़ा स्कोर था. वहीं, मुंबई ने उत्तराखंड को 725 रन के अंतर से हराया था. ऐसे में नॉक आउट स्टेज में इस तरह के एकतरफा मुकाबले न हो. इसी वजह से सभी टीमों को प्लेट और एलीट दो ग्रुप में बांटा गया है. नॉक आउट स्टेज में प्लेट ग्रुप की टीमों की एलीट ग्रुप के साथ टक्कर नहीं होगी. इससे एकतरफा मुकाबलों की संभावना कम होगी और टूर्नामेंट का रोमांच बढ़ेगा.

इस बार फॉर्मेट कैसा है?
रणजी ट्रॉफी के नए फॉर्मेट के तहत 32 एलीट टीमों को 8-8 के 4 ग्रुप में बांटा गया है. हर टीम ने अपने घर और बाहर बराबर मैच खेले हैं. इस सीजन में एलीट ग्रुप में शामिल हर टीम ने लीग स्टेज में 7 मैच खेले हैं. हर एलीट ग्रुप से टॉप-2 टीमें क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई करेंगी. वहीं, प्लेट ग्रुप में, 6 टीमें एक-दूसरे से एक-एक बार भिड़ीं और चोटी की 4 टीमें नॉक आउट स्टेज में पहुंचीं और अब बिहार और मणिपुर के बीच फाइनल खेला जा रहा. वहीं, नीचे की दो टीमें 5वें और छठे स्थान के लिए भिड़ेंगी. सेमीफाइनल में हारने वाली टीमें चौथे और पांचवें स्थान के लिए खेलेंगी. इस तरह सभी टीमें एलीट ग्रुप की टीमों के बराबर लीग स्टेज में 7 मैच खेलेंगी.

सहवाग ने 12 साल पहले जो किया था, उसी राह पर रोहित शर्मा; भारत को मिल गया वर्ल्ड कप जीतने का फॉर्मूला

क्रिकेट मैदान पर साला पड़ा जीजा पर भारी, जी भर की कुटाई! SA20 का पहला शतक ठोक टीम को जीत भी दिलाई

रणजी ट्रॉफी के फॉर्मेट में क्या बदलाव हुआ?
अभी तक रणजी ट्रॉफी में यह होता था कि प्लेट ग्रुप में शीर्ष पर रहने वाली टीम रणजी ट्रॉफी के प्री-क्वार्टर फाइनल में एलीट ग्रुप की टीम से भिड़ती थी. लेकिन, इस सीजन में ऐसा नहीं होगा. प्लेट ग्रुप के 2 फाइनलिस्ट 2023-24 सीजन के लिए एलीट ग्रुप में प्रमोट होंगे. यानी प्लेट ग्रुप का फाइनल खेल रहे बिहार और मणिपुर रणजी ट्रॉफी के 2023-24 सीजन में एलीट ग्रुप में खेलेंगे. जबकि सभी चार एलीट ग्रुप में नीचे की 2-2 टीम अंकों के आधार पर रेलीगेट होंगी.यानी वो एलीट ग्रुप से बाहर हो जाएंगी.

Tags: Bihar News, Cricket news, Ranji Trophy

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें