होम /न्यूज /खेल /Ranji Trophy 2022: रणजी ट्रॉफी के पहले दिन धुल-रहाणे का शानदार शतक, मनीष पांडे भी छाए

Ranji Trophy 2022: रणजी ट्रॉफी के पहले दिन धुल-रहाणे का शानदार शतक, मनीष पांडे भी छाए

Ranjy Trophy: रणजी ट्रॉफी के पहले दिन यश धुल और अजिंक्य रहाणे ने शानदार शतक जड़ा.

Ranjy Trophy: रणजी ट्रॉफी के पहले दिन यश धुल और अजिंक्य रहाणे ने शानदार शतक जड़ा.

Ranji Trophy 2022: रणजी ट्रॉफी के पहले दिन अजिंक्य रहाणे और यश ढुल ने शानदार शतक जड़ा. वहीं, मनीष पांडे के 156 और केवी ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली. रणजी ट्रॉफी के पहले दिन भारत के अनुभवी खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) और उभरते सितारे यश धुल (Yash Dhull) ने शानदार शतक जड़ा. भारत को अंडर-19 वर्ल्ड कप का खिताब जिताने वाले धुल ने फर्स्ट क्लास डेब्यू में तमिलनाडु के खिलाफ दिल्ली के लिए शानदार शतक जड़ा. धुल के शतक से दिल्ली ने सात विकेट पर 291 रन जोड़े. अपने पहले फर्स्ट क्लास मैच में पारी की शुरुआत करते हुए धुल ने 150 गेंद में 18 चौकों की मदद से 113 रन बनाये. उन्होंने दिल्ली की पारी को संभाला क्योंकि संदीप वारियर ने ध्रुव शोरे (एक ) और युवा हिम्मत सिंह (0) को जल्दी आउट कर दिया था.

    धुल ने नीतिश राणा (21 गेंद में 25 रन ) के साथ 60 रन की साझेदारी की और फिर भारत के पूर्व अंडर 19 कप्तान जोंटी सिद्धू ( 179 गेंद में 71 रन ) के साथ चौथे विकेट के लिये 119 रन जोड़े. धुल को 97 के स्कोर पर जीवनदान भी मिला जब मोहम्मद मोहम्मद ने शॉर्ट मिडविकेट पर उन्हें लपकवाया लेकिन रिप्ले से पता चला कि वह नोबॉल थी. धुल को मोहम्मद ने ही पगबाधा आउट किया जिसके बाद सिद्धू भी नहीं टिक सके. दिल्ली ने सात विकेट 253 रन पर गंवा दिये. ललित यादव 45 और सिमरजीत सिंह 16 रन बनाकर खेल रहे हैं.

    वहीं, भारतीय टेस्ट टीम के नियमित सदस्य अजिंक्य रहाणे ने रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप डी मैच के पहले दिन सौराष्ट्र के खिलाफ शतक जड़ा जिससे मुंबई ने तीन विकेट पर 263 रन बनाए. टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरे मुंबई के लिए सरफराज खान ने भी 219 गेंद में नाबाद 119 रन की पारी खेली लेकिन सभी की नजरें रहाणे की टिकी थी जिन्होंने 250 गेंद में नाबाद 108 रन बनाए. दक्षिण अफ्रीका में हाल में संपन्न टेस्ट सीरीज में बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे रहणे ने 212 गेंद में 14 चौकों और दो छक्कों की मदद से शतक पूरा किया. यह सीनियर भारतीय बल्लेबाज दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट दौरे पर भारत की 1-2 की हार के दौरान छह पारियों में 136 रन ही बना पाया था.

    श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज मार्च के पहले हफ्ते से खेली जानी है और ऐसे में इस शतक से रहाणे का आत्मविश्वास बढ़ेगा और टीम इंडिया में वह अपनी जगह भी बचाने में सफल हो सकते हैं. इस मुकाबले में रहाणे के खिलाफ खेल रहे चेतेश्वर पुजारा भी बड़ी पारी खेलकर टेस्ट टीम में अपनी जगह बचाने की कोशिश करेंगे. जयदेव उनादकट और चेतन सकारिया की तेज गेंदबाजी जोड़ी के सामने मुंबई की शुरुआत खराब रही और टीम ने 22 रन तक ही दोनों सलामी बल्लेबाजों आकर्षित गोमेल (08) और पृथ्वी साव (01) के विकेट गंवा दिए.

    Virat kohli और बाबर आजम 2022 में हुए फेल, देखें इस साल कैसा रहा है दोनों का प्रदर्शन

    चिराग जानी ने इसके बाद सचिन यादव को पगबाधा करके मुंबई का स्कोर तीन विकेट पर 44 रन किया. रहाणे और सरफराज ने इसके बाद चौथे विकेट के लिए 219 रन की अटूट साझेदारी करके सौराष्ट्र के गेंदबाजों को दिन का खेल खत्म होने तक सफलता से महरूम रखा. रहाणे ने 212 गेंद में 36वां प्रथम श्रेणी शतक पूरा किया. उन्होंने बाएं हाथ के स्पिनर धर्मेंद्र सिंह जडेजा पर छक्का और फिर एक रन के साथ शतक बनाया.

    ग्रुप के एक अन्य मैच में गोवा की टीम ओडिशा के खिलाफ 181 रन पर सिमट गई. एकनाथ केरकर ने सर्वाधिक 76 रन बनाए जबकि बसंत मोहंती ने 27 रन देकर तीन विकेट हासिल किए. इसके जवाब में लक्ष्य गर्ग (9 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने ओडिशा की टीम भी 23 रन पर तीन विकेट गंवाने के बाद संकट में थी.

    IPL 2022: RCB को मिल गया नया कप्तान, कोहली की जगह CSK का दिग्गज संभालेगा टीम की कमान

    शुभम शर्मा का अर्धशतक, मध्य प्रदेश के सात विकेट पर 235 रन

    शुभम शर्मा के 92 रन की बदौलत मध्य प्रदेश ने गुजरात के खिलाफ सात विकेट पर 235 रन बनाए. गुजरात की ओर से तेज गेंदबाज अर्जन नागवासवाला ने 50 रन देकर तीन विकेट चटकाए. उन्होंने मध्य प्रदेश के सलामी बल्लेबाजों रमीन खान (20) और विकेटकीपर अजय रोहेरा (23) को आउट करके टीम का स्कोर दो विकेट पर 44 रन किया. शुभम ने इसके बाद अनुभवी रजत पाटीदार (54 रन, 113 गेंद) के साथ मिलकर पारी को संवारा. दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 92 रन जोड़े. पाटीदार ने अपनी पारी में नौ चौके मारे.

    शुभम ने 206 गेंद की अपनी पारी में दौरान 11 चौके और एक छक्का जड़ा. इन दोनों की पारी की बदौलत जब मध्य प्रदेश की टीम बढ़े स्कोर की ओर बढ़ रही थी तब बाएं हाथ के तेज गेंदबाज रुष कलारिया (37 रन पर दो विकेट) ने पाटीदार को पवेलियन भेजा जबकि मध्य प्रदेश के कप्तान आदित्य श्रीवास्तव (14) नागवासवाला का तीसरा शिकार बने. इस समय मध्य प्रदेश का स्कोर चार विकेट पर 166 रन था.

    IPL 2022: गावस्कर ने कहा- IPL से खिलाड़ियों का भविष्य सुरक्षित, इसलिए इंटरनेशनल में नहीं करते अधिक मेहनत

    शुभम ने आक्रामक रुख जारी रखा लेकिन तेज गेंदबाज चिंतन गजा (47 रन पर दो विकेट) की गेंद पर आउट होकर शतक से चूक गए. यश दुबे (28) और महिर हिरवानी (0) भी अधिक देर नहीं टिक सके. दिन का खेल खत्म होने पर इशार पांडेय दो रन बनाकर खेल रहे थे जबकि कुमार कार्तिकेय ने अभी खाता नहीं खोला है. ग्रुप के एक अन्य मैच में पुनीत बिष्ट के 93 रन के बावजूद मेघालय की टीम केरल के खिलाफ 148 रन पर ढेर हो गई.

    स्टीफेंस के पांच विकेट से आंध्र ने राजस्थान को 275 रन पर समेटा

    बायें हाथ के तेज गेंदबाज सी वी स्टीफेंस के पांच विकेट की मदद से आंध्र ने राजस्थान को पहली पारी में 275 रन पर समेट दिया. स्टीफेंस ने पहले ही ओवर में सलामी बल्लेबाज यश कोठारी को चार रन पर आउट कर दिया. राजस्थान के लिये राजेश बिश्नोई (54), कप्तान अशोक मनेरिया (40) और आदित्य गढवाल ( 49) ही टिककर खेल सके. मनेरिया और गढवाल ने 63 रन की साझेदारी की. इसके बाद बिश्नोई और अनिरूद्ध सिंह (39) ने छठे विकेट के लिये 76 रन जोड़े.

    जवाब में आंध्र ने एक रन के स्कोर पर ही सी आर ज्ञानेश्वर का विकेट गंवा दिया. एम एस गिरिनाथ ( नाबाद 36) और करण शिंदे (23) ने दूसरे विकेट के लिये 58 रन जोड़े. दूसरे मैच में उत्तराखंड ने सेना को 78.4 ओवर में 176 रन पर आउट कर दिया. दीपक धापोला ने 24 रन देकर चार विकेट लिये. जवाब में उत्तराखंड ने एक विकेट पर 25 रन बना लिये. कप्तान जय बिस्टा खाता खोले बिना आउट हो गए.

    मनीष पांडे, सिद्धार्थ के शतक से कर्नाटक बड़े स्कोर की ओर

    कप्तान मनीष पांडे के 156 और केवी सिद्धार्थ के नाबाद 140 रन की मदद से कर्नाटक ने रणजी ट्रॉफी ग्रुप सी मैच में रेलवे के खिलाफ पहले दिन पांच विकेट पर 392 रन बनाये. पहले बल्लेबाजी के लिये भेजी गई कर्नाटक के अनुभवी खिलाड़ी और भारत के टेस्ट बल्लेबाज मयंक अग्रवाल 16 रन बनाकर रन आउट हो गए. देवदत्त पडिक्कल भी 21 रन बनाकर पवेलियन लौट गए.

    तीसरे नंबर पर उतरे आर समर्थ ने 47 रन बनाये और सिद्धार्थ के साथ 60 रन की साझेदारी की. सिद्धार्थ 221 गेंद में 17 चौकों और दो छक्कों की मदद से 140 रन बनाकर खेल रहे हैं. सिद्धार्थ और पांडे ने रेलवे के गेंदबाजों को जमकर नसीहत दी. पांडे ने 121 गेंद की अपनी पारी में 12 चौके और 10 छक्के जड़े. उन्होंने अविनाश यादव को एक ओवर में तीन छक्के जड़े और अमित मिश्रा को छक्का लगाकर अपना शतक पूरा किया. पांडे और सिद्धार्थ ने 283 गेंद में 267 रन की साझेदारी की. आखिरी सत्र में कर्नाटक के बल्लेबाजों ने 140 रन बनाये.

    पदार्पण कर रहे पवन शाह के नाबाद 165 रन से महाराष्ट्र मजबूत

    अपने पदार्पण मैच में नाबाद 165 रन बनाने वाले सलामी बल्लेबाज पवन शाह की पारी के दम पर महाराष्ट्र ने रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप जी के मैच के पहले दिन असम के खिलाफ पांच विकेट पर 278 रन बना लिये. चिंचवड के रहने वाले 22 वर्ष के शाह वेरोक वेंगसरकर क्रिकेट अकादमी के छात्र हैं. उन्होंने अपनी 275 गेंद की पारी में 15 चौके और एक छक्का लगाया. पहले बल्लेबाजी के लिये भेजी गई महाराष्ट्र टीम ने यश नाहर ( चार ) और राहुल त्रिपाठी ( दो ) के विकेट जल्दी गंवा दिये. इसके बाद शाह और अंकित बावने (27) ने मिलकर 66 रन की साझेदारी की. बावने को मुख्तार हुसैन ने ही पवेलियन भेजा.

    इसके बाद शाह ने नौशाद शेख के साथ पारी को आगे बढ़ाया लेकिन शेख 28 रन बनाकर आउट हो गए. विकेटकीपर विशांत मोरे (16) भी टिक नहीं सके लेकिन दियांग हिंगणेकर (नाबाद 36) ने शाह का पूरा साथ दिया. दोनों छठे विकेट के लिये 94 रन जोड़ चुके हैं. एक अन्य मैच में उत्तर प्रदेश ने विदर्भ के खिलाफ सात विकेट पर 268 रन बनाये.

    Tags: Ajinkya Rahane, Delhi, Manish pandey, Ranji Trophy, Yash Dhull

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें