WTC में एक फाइनल से सहमत नहीं रवि शास्त्री, कहा- 3 मैच होने चाहिए

रवि शास्त्री ने WTC Final से पहले कही बड़ी बात (PC-AFP)

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल (WTC Final) में भारत और न्यूजीलैंड की टक्कर 18 जून को होगी, इंग्लैंड रवाना होने से पहले हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने एक फाइनल कराने पर अपनी प्रतिक्रिया दी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम 18 जून को न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल (WTC Final) में भिड़ने वाली है. इस मुकाबले से पहले हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने कहा है कि इतने बड़े टूर्नामेंट के विजेता का फैसला एक फाइनल से नहीं होना चाहिए. रवि शास्त्री ने कहा कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में 3 मैचों का फाइनल होना चाहिए. इसे बेस्ट ऑफ 3 कहा जाता है, जिसमें फाइनल में पहुंचने वाली टीमों के बीच तीन मुकाबले होते हैं और 2 मैच जीतने वाली टीम विजेता घोषित होती है.

    रवि शास्त्री ने इंग्लैंड दौरे पर जाने से पहले कहा, 'टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में 3 मैचों की सीरीज होनी चाहिए थी. सिर्फ एक मैच से फैसला लेना सही नहीं है. हम एक मैच के लिए भी तैयार हैं. हमने इस फाइनल तक पहुंचने के लिए मेहनत की है. सिर्फ ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड ही नहीं हमने कई मौकों पर मुश्किल समय से खुद को बाहर निकाला है और हम सीरीज जीते हैं.'

    विराट कोहली बोले- फाइनल का दबाव नहीं
    टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली भी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के लिए बिलकुल तैयार हैं. विराट कोहली ने कहा कि उनपर फाइनल का कोई दबाव नहीं है. उन्होंने कहा, ' हमने 5-6 साल मेहनत की है और तब जाकर हम फाइनल में पहुंचे हैं. हम इस फाइनल में इंजॉय करेंगे. हम आम लोगों की तरह नहीं सोचते, अगर हमारी सोच वैसी होगी तो प्रदर्शन नहीं कर पाएंगे.' विराट कोहली ने आगे कहा, 'मेरे ऊपर कोई प्रेशर नहीं है. मेरा काम भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाना है, जब तक मैं क्रिकेट खेल रहा हूं मेरा यही मकसद रहेगा मुझपर कभी कोई दबाव नहीं रहा और ना रहेगा. हमारे लिये सिर्फ ये मायने रखता है कि टीम एक-दूसरे की कितनी मदद कर रही है.'

    इंग्लैंड दौरे के लिए भारतीय टीम- विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उप कप्तान), रोहित शर्मा, शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, रविचंद्रन अश्विन, रवींद्र जडेजा, अक्षर पटेल, वॉशिंगटन सुंदर, जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज, शार्दुल ठाकुर, उमेश यादव, केएल राहुल, ऋद्धिमान साहा

    स्टैंडबाई खिलाड़ी- केएस भरत, अभिमन्यु ईश्वरन, प्रसिद्ध कृष्णा, आवेश खान, और अरजान नागवासवाला