बम धमाके में गई रवि शास्त्री की बहन की जान, विमान में किया गया था ब्लास्ट!

बम धमाके में गई रवि शास्त्री की बहन की जान, विमान में किया गया था ब्लास्ट!
बम धमाके में गई थी शास्त्री की चचेरी बहन की जान!

टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) की बहन मृदुला भारतीय स्विमिंग टीम की कप्तान थीं

  • Share this:
नई दिल्ली. टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) को उनके खेल, क्रिकेट कमेंट्री और सकारात्मक सोच के लिए जाना जाता है. रवि शास्त्री अकसर कैमरे पर बेहद ही जोशिले अंदाज में दिखाई देते हैं. लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि रवि शास्त्री ने अपनी जिंदगी में एक ऐसा दुख झेला है जिसके बारे में कल्पना करने से ही रुह कांप जाए. रवि शास्त्री ने बम धमाके में अपनी चचेरी बहन को खोया है जो खुद भारत की स्विमिंग टीम की कप्तान थीं.

रवि शास्त्री की चचेरी बहन ने गंवाई बम धमाके में जान!
रवि शास्त्री (Ravi Shastri) की चचेरी बहन का नाम मृदुला शास्त्री (Mridula Shastri) था जो कि खुद एक जबर्दस्त खिलाड़ी थीं. मृदुला शास्त्री भारतीय स्विमिंग टीम की कप्तान थीं और वो वॉटर पोलो प्लेयर भी थीं. मृदुला ने 1982 एशियन गेम्स में भी हिस्सा लिया था. लेकिन इसके 6 साल बाद एक आतंकी घटना में उनकी जान चली गई. मृदुला ने 1988 में स्कॉटलैंड में हुए एक धमाके में अपनी जान गंवा दी. बता दें 32 साल पहले लॉकरबी में पैनएम 103 विमान में एक बम धमाका हुआ था जिसमें रवि शास्त्री की चचेरी बहन मृदुला भी सवार थीं.

1988 में लॉकरबी शहर के ठीक ऊपर पैनएम के एक जंबो जेट विमान (Pan Am 103 bombing) में धमाका हुआ था और उसका मलबा शहर के ऊपर आ गिरा था. विमान पर सवार सभी 259 यात्रियों ने इस धमाके में अपनी जान गंवा दी थी. इस धमाके के लिए लीबिया को जिम्मेदार ठहराया गया था. इस मामले अब्दुल बासित अली अल-मेगराही दोषी पाया गया था लेकिन साल 2009 में कैंसर पीड़ित पाए जाने पर सहानुभूति के आधार पर उसे रिहा कर दिया गया.



गिरा था रवि शास्त्री का प्रदर्शन


बता दें चचेरी बहन की मौत के बाद रवि शास्त्री वेस्टइंडीज दौरे पर गए थे जहां उनका प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा था. 21 दिसंबर 1988 को हुए उस बम धमाके के बाद अगले एक साल तक रवि शास्त्री बल्ले से फ्लॉप रहे. 1989 में उन्होंने 27.83 के औसत से 334 रन ही बनाए. वनडे में तो वो 13 पारियों में महज 14.25 के औसत से 171 रन ही बना सके. पूरे साल उनके बल्ले से एक भी शतक और अर्धशतक नहीं निकला.

रैना का युवराज पर पलटवार, कहा-धोनी को मेरा टैलेंट पता है, तभी दिया साथ

पूर्व पाक गेंदबाज ने कहा- शोएब की बाउंसर से 'डरे' सचिन, बंद हो गई थीं आंखें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading