Home /News /sports /

विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने का बचाव करते हुए रवि शास्त्री ने दिया गावस्कर और तेंदुलकर का उदाहरण

विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने का बचाव करते हुए रवि शास्त्री ने दिया गावस्कर और तेंदुलकर का उदाहरण

विराट कोहली टी20 के बाद अब वनडे टीम के कप्तान भी नहीं रहे हैं (AFP)

विराट कोहली टी20 के बाद अब वनडे टीम के कप्तान भी नहीं रहे हैं (AFP)

रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में भारतीय क्रिकेट की यात्रा उल्लेखनीय है, क्योंकि टीम ने रेड-बॉल क्रिकेट में एक बेंचमार्क स्थापित किया है. भारत के पूर्व मुख्य कोच ने टेस्ट क्रिकेट के प्रति जुनून के लिए विराट कोहली (Virat Kohli) की जमकर प्रशंसा की. शास्त्री-कोहली की जोड़ी ने ऑस्ट्रेलियाई सरजमीं पर एक के बाद एक सीरीज जीत सहित विदेशी परिस्थितियों में कुछ दबदबे वाले प्रदर्शन के साथ भारतीय क्रिकेट को टेस्ट क्रिकेट में नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारत के पूर्व कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी पर अपनी राय दी है और भारत के टी20 इंटरनेशनल कप्तान के रूप में पद छोड़ने के अपने फैसले का समर्थन किया है. शास्त्री और कोहली के जोड़ी ने टीम इंडिया के लिए अद्भुत काम किया है. इन दोनों के साथ टीम इंडिया ने काफी शानदार क्रिकेट खेला है. हालांकि, शास्त्री के हेड कोच के पद से हटने के बाद विराट कोहली ने भी टी20 इंटरनेशनल की कप्तानी छोड़ दी है और अब उनसे वनडे टीम की कप्तान भी ले ली गई है. दक्षिण अफ्रीका के दौरे से पहले रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को टीम इंडिया का नया वनडे कप्तान भी बना दिया गया है. अब विराट कोहली के पास सिर्फ टेस्ट टीम की कप्तानी है.

    विराट कोहली की वनडे कप्तानी जाने से पहले रवि शास्त्री ने कहा था कि नतीजों के आधार पर खामियां निकालना आसान है, लेकिन इस भारतीय स्टार ने अपने कार्यकाल में जो हासिल किया है, वह गर्व की बात है. शास्त्री ने विराट और उनकी कप्तानी की जमकर तारीफ की थी. ‘द वीक’ को दिए इंटरव्यू में शास्त्री ने कहा था, ”दिन के अंत में, वह एक कुशल कप्तान रहे हैं. कुशल. लोग हमेशा आपको परिणामों से आंकेंगे, या नहीं कि आपने कैसे रन बनाए, लेकिन आपने कितने रन बनाए. वह अच्छी तरह से विकसित हुए हैं. वह एक खिलाड़ी के रूप में परिपक्व हो गए हैं. भारतीय टीम का कप्तान होना आसान नहीं है. उन्होंने जो हासिल किया है, उस पर उन्हें गर्व महसूस करना चाहिए.”

    विराट कोहली काे मिली आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीतने की सजा, शास्त्री के जाते ही बीसीसीआई ने छीन ली कप्तानी

    उन्होंने कहा, ”सौ प्रतिशत. यह सबसे अच्छा हुआ है. मुझे याद है कि सनी (सुनील गावस्कर) ने अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान केंद्रित करने के लिए [कप्तानी] छोड़ दी थी. सचिन तेंदुलकर ने अपने करियर को लम्बा करने के लिए ऐसा ही किया था.” एक अन्य इंटरव्यू में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व मुख्य कोच ने खुलासा किया कि जहां तक ​​टेस्ट मैच क्रिकेट का सवाल है तो कप्तान विराट कोहली कितने डेडिकेटिड हैं. उन्होंने कहा था कि विराट के टेस्ट क्रिकेट ‘पूजा’ की तरह है और टीम को सफल होने के लिए वह अपना सब कुछ देते हैं.

    उन्होंने कहा था, ”मुझे लगता है कि अगर कोई टीम पिछले पांच वर्षों में टेस्ट मैचों के लिए एंबेसडर रही है, तो वह भारतीय क्रिकेट टीम है. विराट टेस्ट क्रिकेट की पूजा करते हैं, जैसा कि ज्यादातर टीम करती हैं, जो दुनिया को हैरान कर सकता है क्योंकि भारत वनडे क्रिकेट खेलता है, फिर आईपीएल. अगर आप टीम में किसी से पूछें तो 99 प्रतिशत लोग कहेंगे कि उन्हें टेस्ट मैच क्रिकेट पसंद है. इसलिए भारत ने पिछले पांच सालों में जो किया है- हर साल के अंत में दुनिया की नंबर 1 टीम बनी रहती है.”

    विराट कोहली ने टी20 की कप्तानी छोड़ी, वनडे की छीनी गई, अब छोड़ सकते हैं टेस्ट की कमान, ये है 5 बड़ी वजह

    बता दें कि विराट कोहली महेंद्र सिंह धोनी के बाद टी20 इंटरनेशनल में भारत के दूसरे सबसे सफल कप्तान के रूप में रहे हैं, जिन्होंने 50 मैचों में टीम का नेतृत्व किया. उनमें से 30 जीते और 16 हारे. 64.58 की जीत प्रतिशत के साथ कोहली का कार्यकाल भारत के टी20 वर्ल्ड कप 2021 के अंतिम मैच के साथ समाप्त हो गया. टी20 वर्ल्ड कप में भारत ने अपना अंतिम मैच नामीबिया के खिलाफ खेला था, जिसे ‘मेन इन ब्लू’ ने आराम से नौ विकेट से जीता था.

    वहीं, विराट कोहली के वनडे रिकॉर्ड की बात करें तो उन्होंने 95 मैच में टीम की कप्तानी की है. 65 में उन्हें जीत मिली है जबकि 27 में हार. यानी उन्होंने 68 फीसदी मुकाबले जीते हैं. विराट कोहली ने 95 वनडे मैचों में 72.65 की औसत से 5,449 रन बनाए हैं. इतिहास में एक कप्तान के लिए सबसे बेहतरीन रिकॉर्ड में से एक विराट का रिकॉर्ड रहा है.

    Tags: Cricket news, Ravi shastri, Rohit sharma, Team india, Virat Kohli

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर