लाइव टीवी

रवि शास्‍त्री पर सौरव गांगुली का बड़ा 'हमला', कहा-हेड कोच के लिए सही पसंद, लेकिन...

News18Hindi
Updated: October 3, 2019, 1:32 PM IST
रवि शास्‍त्री पर सौरव गांगुली का बड़ा 'हमला', कहा-हेड कोच के लिए सही पसंद, लेकिन...
सौरव गांगुली पहले भी कई बार कह चुके हैं कि वो भविष्य में टीम इंडिया के हेड कोच के पद के लिए आवेदन कर सकते हैं. (फाइल फोटो)

टीम इंडिया (Team India) के मौजूदा हेड कोच (Head Coach) रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) का कार्यकाल 2021 टी-20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) तक है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 3, 2019, 1:32 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) की मौजूदगी वाली क्रिकेट सलाहकार समिति (Cricket Advisory Committee) ने साल 2016 में जब रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) की जगह अनिल कुंबले (Anil Kumble) को भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) का हेड कोच (Head Coach) नियुक्त किया गया था. तब शास्‍त्री ने क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्य सौरव गांगुली पर गंभीर आरोप लगाए थे. एक साल बाद गांगुली उसी समिति के सदस्य थे, जिसने टीम इंडिया के हेड कोच के लिए रवि शास्‍त्री को चुना. 57 वर्षीय शास्‍त्री को अब फिर से टीम इंडिया (Team India) का कोच चुन लिया गया है और वह साल 2021 में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप तक टीम इंडिया के हेड कोच बने रहेंगे.

टीम इंडिया (Team India) के सबसे सफल कप्तानों में शुमार रहे सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने अब रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि बेशक रवि शास्‍त्री हेड कोच के लिए सही पसंद हैं, लेकिन बीसीसीआई (BCCI) के पास अधिक विकल्प नहीं थे क्योंकि अधिक दावेदारों ने इस पद के लिए आवेदन ही नहीं किया था. गांगुली ने कहा कि रवि शास्‍त्री पिछले पांच साल से टीम से जुड़े हैं और उन्हें दो और साल के लिए ये जिम्मेदारी दी गई है. मुझे  नहीं लगता कि इतिहास में किसी और व्यक्ति को इतने लंबे समय के लिए ये जिम्मेदारी दी गई है. इस काम के लिए रवि शास्‍त्री सही विकल्प हैं, लेकिन अब उन्हें उनमें जताए गए भरोसे पर खरा उतरना होगा. उनके सामने दो टी-20 वर्ल्ड कप हैं जो साल 2020 और 2021 में होने हैं. इस तरह के बड़े टूर्नामेंट में टीम इंडिया को जीत का रास्ता तलाशना ही होगा.

cricket, cricket news, sports news, ravi shastri, sourav ganguly, team india, head coach, indian cricket team, क्रिकेट, क्रिकेट न्यूज, स्पोर्ट्स न्यूज, रवि शास्‍त्री, सौरव गांगुली, टीम इंडिया, हेड कोच, बीसीसीआई, भारतीय क्रिकेट टीम
सौरव गांगुली की गिनती दुनिया के सफलतम कप्तानों में की जाती है. (PTI)


2007 में क्रिकेट मैनेजर बनाए गए थे रवि शास्‍त्री

रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) को सबसे पहले साल 2007 में बांग्लादेश दौरे पर क्रिकेट मैनेजर चुना गया था. इसके बाद साल 2014 में इंग्लैंड के खिलाफ 1-3 से मिली हार के बाद वे टीम के डायरेक्टर बनाए गए. डंकन फ्लेचर का बतौर कोच कार्यकाल पूरा होने के बाद 2015 वर्ल्ड कप के बाद रवि शास्‍त्री को 2016 टी-20 वर्ल्ड कप तक के लिए टीम की कमान दी गई. इसके बाद अनिल कुंबले को टीम इंडिया का हेड कोच बनाया गया, हालांकि 2017 में कुंबले के इस्तीफा देने के बाद रवि शास्‍त्री को इस पद के लिए चुन लिया गया.

रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) की अगुआई में भारतीय टीम (Indian Team) का प्रदर्शन मिला-जुला रहा. टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में टेस्ट सीरीज हराने वाली पहली एशियाई टीम बनी. मगर दक्षिण अफ्रीका ने टीम इंडिया को अपने घर में 2-1 से मात दी. इंग्लैंड ने अपनी जमीन पर भारतीय टीम को 4-1 से हराया. आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के हाथों हार के बाद टीम इंडिया टूर्नामेंट से बाहर हो गई. रवि शास्‍त्री 1983 में वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे हैं. हालांकि बतौर कोच वे आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीत सके हैं. अब उनके पास 2020 और 2021 में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के तौर पर ऐसा करने का बेहतरीन मौका है.

हर टूर्नामेंट में रनों का अंबार, फिर भी टीम में नहीं मिली जगह, मौका मिलते ही छाए मयंकरोहित-मयंक ने जड़ा 'तिहरा शतक', कई बड़े रिकॉर्ड किए ध्वस्त

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 3, 2019, 1:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर