रवि शास्‍त्री ने Coronavirus को बताया 'फायदेमंद', दिया ये बड़ा बयान

रवि शास्‍त्री ने Coronavirus को बताया 'फायदेमंद', दिया ये बड़ा बयान
रवि शास्‍त्री ने कहा कि इस ब्रेक के समय में खिलाड़ी फ्रेश हो जाएंगे (फाइल फोटो )

कोरोना वायरस (Coronavirus ) के कारण खेल के मैदान सूने हो गए है. भारत में भी 21 दिन के लॉक डाउन के कारण खिलाड़ी अपने घरों में ही हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2020, 1:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण खेल के मैदान सूने पड़े हैं. खिलाड़ी घर पर पूरी तरह से आराम कर रहे हैं. जिस पर भारतीय कोच रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) ने कहा कि महामारी के कारण खिलाड़ियों को मिला यह ब्रेक उन्‍हें फिर से फ्रेश करने में मदद करेगा. माइकल आथर्टन, नासीर हुसैन और रॉब की के साथ स्‍काइ स्‍पोर्ट्स के पॉडकास्‍ट में उन्‍होंने ये कहा. भारतीय कोच ने कहा कि खिलाड़ियों के लिए यह ब्रेक लेने का सही समय है.
उन्‍होंने कहा कि पिछले 10 महीने से टीम खेल ही रही है. उनके साथ सपोर्ट स्‍टाफ के कई और लोग वर्ल्‍ड कप के लिए मई में भारत से रवाना हुए थे और फिर उसके बाद से ही वह घर पर सिर्फ 10 से 11 दिन रहे.

रवि शास्‍त्री ने कहा कि कुछ खिलाड़ियों ने तीनों फॉर्मेट में क्रिकेट खेला. काफी यात्रा भी की. इंग्‍लैंड में वर्ल्ड कप खेलने के बाद टीम ने वेस्‍टइंडीज का दौरा किया. फिर इसके बाद घर में साउथ अफ्रीका के खिलाफ मैदान पर उतरे. घर में करीब ढाई महीने खेलने के बाद न्‍यूजीलैंड दौरे पर गए. यह काफी मुश्किल है, मगर खिलाडि़यों के लिए यह काफी अच्‍छा है.

न्‍यूजीलैंड में इसे महसूस किया



इस महामारी के चलते भारत को 21 दिनों के लिए लॉक डाउन कर दिया गया है. भारत और साउथ अफ्रीका के बीच वनडे सीरीज को रद्द कर दिया गया, वहीं आईपीएल को 15 अप्रैल तक के लिए टाल दिया गया. रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) ने कहा कि यह काफी हैरानी वाला था, मगर ईमानदारी से कहें तो उन्‍हें पहले से ही इसका अंदाजा था. जब साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरा वनडे रद्द हुआ तो हम जानते थे कि कुछ होने जा रहा था. भारतीय कोच ने कहा कि उन्‍हें लगता है कि  खिलाड़ियों को अंदाजा हो गया था कि ऐसा कुछ होने वाला है, क्‍योंकि उन्‍होंने न्‍यूजीलैंड में इस महसूस किया था.



सही समय पर बाहर निकल गए
रवि शास्‍त्री ने कहा कि जब वह लोग न्‍यूजीलैंड से भारत पहुंचे तो उन्‍हें लगा कि सही समय पर वह बाहर निकल गए, क्‍योंकि उस समय तक न्‍यूजीलैंड में सिर्फ दो ही मामले थे, जो अब 300 के करीब पहुंच गए हैं. जब दिन टीम भारत में उतरी, वह पहला दिन था, जब एयरपोर्ट पर लोगों की स्‍क्रीनिंग और जांच की जा रही थी.

घर में बंद कोहली के साथ हुआ मजेदार वाकया, पत्नी अनुष्का ने बाल पकड़कर...

धोनी के 1 लाख रुपये दान देने को साक्षी ने बताया गलत,फैंस ने पूछा-फिर कितने दिए
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading