होम /न्यूज /खेल /ऋद्धिमान साहा को मिली धमकी... बौखलाए रवि शास्त्री ने BCCI अध्यक्ष गांगुली से कर दी ये मांग

ऋद्धिमान साहा को मिली धमकी... बौखलाए रवि शास्त्री ने BCCI अध्यक्ष गांगुली से कर दी ये मांग

ऋद्धिमान साहा ने सोशल मीडिया पर कहा था कि उनपर इंटरव्यू के लिए पत्रकार की ओर से दबाव बनाया गया. (Photo- shastri/saha- Instagram)

ऋद्धिमान साहा ने सोशल मीडिया पर कहा था कि उनपर इंटरव्यू के लिए पत्रकार की ओर से दबाव बनाया गया. (Photo- shastri/saha- Instagram)

Ravi Shastri On Wriddhiman Saha: 37 साल के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा ने शनिवार को सोशल मीडिया पर एक स्क्रीनचैट ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) को श्रीलंका के खिलाफ आगामी घरेलू टेस्ट सीरीज के लिए 18 सदस्यीय टीम में नहीं चुना गया. भारतीय चयनकर्ता भविष्य को ध्यान मे रखते हुए साहा की जगह ऋषभ पंत और केएस भरत को ज्यादा से ज्यादा मौका देना चाहते हैं. टीम इंडिया से ड्रॉप होने के बाद साहा ने हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) पर निशाना साधा था. बंगाल के इस विकेटकीपर का कहना है कि द्रविड़ ने उन्हें संन्यास पर विचार करने को कहा था. अभी यह मामला शांत भी नहीं हुआ था कि साहा ने एक और नए विवाद को जन्म दे दिया. साहा ने शनिवार को व्हाट्सप स्क्रीनचैट शेयर कर बताया कि उन्हें तथाकथित पत्रकार ने इंटरव्यू देने के लिए धमकाया है.

ऋद्धिमान साहा साहा के इस आरोप के बाद क्रिकेट बिरादरी से उन्हें सपोर्ट मिल रहा है. अब इस कड़ी में टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) का नाम भी जुड़ गया है. शास्त्री ने सोशल मीडिया पर साहा का समर्थन करते हुए हैरानी जताई है. 59 वर्षीय शास्त्री ने ट्वीट किया, ‘ यह बहुत हैरानी की बात है कि एक पत्रकार की ओर से एक खिलाड़ी को धमकाया जा रहा है. यह अपने पद का दुरुपयोग करना है. यह भारतीय टीम के साथ लगातार हो रहा है. बीसीसीआई अध्यक्ष को इस मामले में तुरंत दखल देनी चाहिए. पता लगाना चाहिए वह कौन शख्स है. यह हर क्रिकेटर के हित की बात है. यह गंभीर मसला है जो टीममैन ऋद्धिमान साहा ने कही है.’

साहा का व्हाट्सअप स्क्रीन चैट

साहा ने जो व्हाट्सअप स्क्रीनचैट शेयर किया था, उसमें वह कथित पत्रकार कह रहे हैं, ‘ मुझे एक इंटरव्यू दो. यह अच्छा रहेगा. यदि आप डेमोक्रेटिक बनना चाहते हैं, तो मैं दबाव नहीं डालूंगा. वह एक विकेटकीपर का चयन करते हैं. जो भी सबसे अच्छा होता है. आप 11 पत्रकारों को चुनने की कोशिश करते हैं, जो मेरे हिसाब से सबसे अच्छे नहीं हैं. उसे चुनो, जो सबसे ज्यादा मददगार साबित हो सकता है.’ पत्रकार फिर लिखते हैं, ‘ आपने मुझे कॉल नहीं किया, मैं आपका इंटरव्यू अब कभी नहीं करूंगा. मैं इसे हल्के में नहीं लूंगा, और याद रखूंगा. आपको यह नहीं करना चाहिए था.’

शास्त्री ने पहले टीम इंडिया के पूर्व विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग, दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह, पूर्व स्पिनर प्रज्ञान ओझा और पूर्व पेसर आरपी सिंह भी इसकी कड़ी निंदा कर चुके हैं. सहवाग ने तो यहां तक कहा है कि यह तो सिर्फ चमचागिरी है.

Tags: Indian Cricket Team, Ravi shastri, Team india, Wriddhiman saha

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें