Home /News /sports /

रवि शास्त्री ने रणजी ट्रॉफी को लेकर उठाए सवाल, अब BCCI ने टूर्नामेंट पर दिया बड़ा अपडेट

रवि शास्त्री ने रणजी ट्रॉफी को लेकर उठाए सवाल, अब BCCI ने टूर्नामेंट पर दिया बड़ा अपडेट

पूर्व कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने रणजी ट्रॉफी के आयोजन को लेकर बने संशन पर बीसीसीआई को घेरा था. अब बोर्ड की तरफ से टूर्नामेंट को लेकर बड़ा अपडेट आया है. (AFP)

पूर्व कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने रणजी ट्रॉफी के आयोजन को लेकर बने संशन पर बीसीसीआई को घेरा था. अब बोर्ड की तरफ से टूर्नामेंट को लेकर बड़ा अपडेट आया है. (AFP)

Ranji Trophy 2022 इस साल 13 जनवरी से खेली जानी थी. लेकिन कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए बीसीसीआई ने इसे अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया था. इसे लेकर, रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने आज सुबह एक ट्वीट पर बीसीसीआई (BCCI) पर सवाल उठाए थे. अब भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने टूर्नामेंट को लेकर बड़ा अपडेट दिया है. सचिव जय शाह (Jay Shah) ने बताया है कि अब यह टूर्नामेंट कैसे और कब होगा?

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy 2022) को लेकर आज सुबह ही एक ट्वीट किया था. इसमें उन्होंने इस टूर्नामेंट को भारतीय क्रिकेट की बैकबोन (रीढ़ की हड्डी) बताया था. उन्होंने बीसीसीआई पर सवाल उठाते हुए लिखा था, “जिस वक्त आप इसकी (रणजी ट्रॉफी) की अनदेखी करना शुरू करते हैं, उसी समय से भारतीय क्रिकेट रीढ़ विहीन हो जाता है.” उनके इस ट्वीट के बाद ही बीसीसीआई की तरफ से रणजी ट्रॉफी को लेकर बड़ा अपडेट आया. सचिव जय शाह ने बताया कि इस बार टूर्नामेंट दो चरणों में होगा. पहले फेज में लीग मुकाबले खेले जाएंगे. वहीं, नॉकआउट मैच जून में होंगे.

बीसीसीआई (BCCI) सचिव जय शाह ने कहा, “भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने इस सीजन में दो चरणों में रणजी ट्रॉफी आयोजित करने का फैसला किया है. पहले फेज में, हम लीग चरण के सभी मैचों को पूरा करने की योजना बना रहे हैं, जबकि नॉकआउट जून में होंगे. मेरी टीम महामारी से पैदा हुए किसी भी तरह के खतरे से निपटने के लिए एकजुट होकर काम कर रही है. साथ ही, रणजी ट्रॉफी के जरिए रेड बॉल क्रिकेट की प्रतिस्पर्धा को बनाए रखने का भी काम हो रहा है.”

रणजी ट्रॉफी दो चरणों में होगी: जय शाह
उन्होंने आगे कहा, “रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) हमारी सबसे प्रतिष्ठित घरेलू प्रतियोगिता है. इसके जरिए हर साल भारतीय क्रिकेट को टैलेंटेड खिलाड़ियों का एक पूल मिलता है. ऐसे में यह महत्वपूर्ण हो जाता है कि हम घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट के हितों की सुरक्षा के लिए तमाम जरूरी कदम उठाएं.”इससे पहले कुछ राज्य क्रिकेट संघों और खिलाड़ियों ने भी रणजी ट्रॉफी का आयोजन कराने की मांग की है.

13 जनवरी से रणजी ट्रॉफी शुरू होनी थी
बीसीसीआई ने इस साल 4 जनवरी को कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए रणजी ट्रॉफी और सीके नायडू ट्रॉफी को टाल दिया था. इस सीजन में रणजी ट्रॉफी की शुरुआत 13 जनवरी से होनी थी. कोरोना की तीसरी लहर और कई टीमों के खिलाड़ियों के कोरोना संक्रमित होने के बाद बोर्ड ने इसे अनिश्चितकाल तक के लिए टाल दिया था. हालांकि, अब बोर्ड सचिव ने इसके आयोजन का नया प्लान बता दिया है.

गणतंत्र दिवस पर पीएम मोदी ने केविन पीटरसन को भेजा था संदेश, दिग्गज ने हिंदी में दिया दिल जीतने वाला जवाब

पिछले साल कोरोना के कारण टूर्नामेंट नहीं हुआ था
2020-21 के सीजन में पहली बार कोरोना के कारण रणजी ट्रॉफी का आयोजन नहीं हुआ था. इस बार, भी टूर्नामेंट से ठीक पहले बंगाल और अन्य कई टीमों के खिलाड़ी कोरोना संक्रमित पाए गए थे. इसके बाद बोर्ड ने टूर्नामेंट को टालने का फैसला कर लिया था. हालांकि, एक दिन पहले बीसीसीआई पदाधिकारियों की एक बैठक हुई थी. इसमें टूर्नामेंट को दो फेज में आयोजित करने की योजना पर सहमति बनी. क्योंकि बीसीसीआई 27 मार्च से आईपीएल कराना चाह रहा है. ऐसे में रणजी ट्रॉफी का आयोजन इसके साथ संभव नहीं था.

IPL 2022 के सभी मुकाबले एक ही शहर में होंगे! जानिए कब करेगी BCCI वेन्यू का ऐलान

फरवरी में लीग स्टेज के मुकाबले हो सकते हैं
बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरूण धूमल ने इस बैठक के बाद कहा था, “हम रणजी ट्रॉफी के आयोजन की संभावना तलाश रहे हैं. जब इसे स्थगित किया गया था, तब कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे थे. अब लगता है कि संक्रमण की रफ्तार कम हुई है. ऐसे में बीसीसीआई इस प्लान पर काम कर रहा है कि क्या हम अगले महीने से रणजी ट्रॉफी के लीग स्टेज के मुकाबले करा सकते हैं? और बाकी टूर्नामेंट आईपीएल के बाद पूरा कर सकते हैं.

Tags: BCCI, Ranji Trophy, Ravi shastri

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर