Union Budget 2018-19 Union Budget 2018-19

अनिल कुंबले ने की थी वकालत, अब नए कोच रवि शास्त्री को होगा करोड़ों का फायदा!

News18Hindi
Updated: July 16, 2017, 2:25 PM IST
अनिल कुंबले ने की थी वकालत, अब नए कोच रवि शास्त्री को होगा करोड़ों का फायदा!
Ravi Shastris Salary As Team Indias Head Coach revealed
News18Hindi
Updated: July 16, 2017, 2:25 PM IST
टीम इंडिया के नए हेड कोच रवि शास्त्री की सालाना सैलेरी पर अब ख़ूब चर्चा होने लगी है. कुछ समय पहले पूर्व कोच अनिल कुंबले ने वेतन बढ़ाने की वकालत की थी. सूत्रों की अगर मानें तो इसका फायदा कुंबले को तो नहीं हो सका लेकिन नए कोच शास्त्री को ज़रूर मिलेगा.

शास्त्री को होगा करोड़ों का फायदा
शास्त्री बतौर कोच 7 करोड़ से 7.5 करोड़ रुपये सालाना कमाएंगे. बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया, 'बीसीसीआई शास्त्री को 7 करोड़ रुपए का प्रस्ताव देगा. शास्त्री से पूर्व टीम इंडिया के कोच रहे अनिल कुंबले ने मई में दी अपनी प्रेजेंटेशन के दौरान अपने वेतन के रूप में इतनी ही रकम के लिए कहा था. अगर बैटिंग कोच के रूप में संजय बांगड़ टीम के साथ बने रहते हैं, तो यह उनकी आय में अच्छा हाइक हो सकता है.

वहीं राहुल द्रविड़ की अगर बात करें तो वह भारत-ए और अंडर-19 के कोच पहले से ही नियुक्त हैं और इस जिम्मेदारी के लिए उन्हें पहले साल 4.5 करोड़ और दूसरे साल 5 करोड़ का पैकेज मिल रहा है. अगर विदेशी दौरों के लिए द्रविड़ टीम इंडिया के साथ बतौर सहायक कोच जुड़ते हैं, तो यह उनकी एक्स्ट्रा इनकम होगी. हालांकि बोर्ड में ज़हीर खान को कंसलटिंग बॉलिंग कोच बनाने को लेकर अब तक स्थिति साफ नहीं हो पाई है. एक अधिकारी ने कहा, ज़हीर ख़ान कितने दिन टीम इंडिया के साथ रहेंगे, इस पर स्थिति साफ नहीं हो पाई है. उनकी सैलेरी उनकी मौजूदगी से ही तय होगी. उनके मुताबिक बोर्ड ने पिछले साल ज़हीर ख़ान की उस मांग को भी ख़ारिज कर दिया था, जिसमें उन्होंने 100 दिनों के लिए सालाना 4 करोड़ रुपए की मांग की थी.

कुंबले ने की थी वेतन बढ़ाने की मांग
अनिल कुंबले ने कुछ समय पहले ही खिलाड़ियों, हेड कोच और स्पोर्टिंग स्टाफ के वेतन बढ़ने को लेकर बीसीसीआई के अधिकारीयों से मुलाकात की थी. इस मुद्दे पर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली भी कुंबले के साथ खड़े थे. कुंबले A ग्रेड के खिलाड़ियों के वेतन में 150% इज़ाफे की मांग कर रहे थे. इसके अलावा कुंबले कप्तानी का अतिरिक्त बोझ लेने वाले विराट कोहली के लिए 25% अतिरिक्त कप्तानी फीस और साथ ही टीम के मुख्य कोच होने के नाते चयन समिति में जगह की भी मांग की थी.

वैसे देखा जाए तो अनिल कुंबले के वेतन इज़ाफे की मांग जायज़ ही थी, बीसीसीआई जो दुनिया का सबसे अमीर बोर्ड है बावजूद इसके अपने खिलाड़ियों को वेतन देने के मामले में कंजूसी करती आयी है. बीसीसीआई ने ए-ग्रेड के खिलाड़ियों को सालाना कॉन्ट्रैक्ट फीस को दुगना करते हुए दो करोड़ कर दिया था. हालांकि इस बढ़ोतरी के बावजूद भारतीय क्रिकेटरों की कमाई ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका के लिए खेलने वाले क्रिकेटरों के मुकाबले आधी ही है. ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और दक्षिण अफ्रीका से खेलने वाले क्रिकेटर की मैच फीस और कॉन्ट्रैक्ट फीस मिलाकर सालाना कमाई जहां 10-12 करोड़ के बीच हो सकती है तो वहीं भारतीय खिलाड़ियों के लिए यह कमाई अधिकतम 4-5 करोड़ ही हो सकती है.

ये भी पढ़ें:

रवि शास्‍त्री की मर्जी पर टिकी जहीर और द्रविड़ की नियुक्ति, CoA ने झाड़ा पल्‍ला

WWC 2017: वो 5 वजह जिससे न्यूज़ीलैंड पर भारी पड़ी भारतीय महिला क्रिकेट टीम
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर