चेपॉक पिच विवाद पर रविचंद्रन अश्विन का जवाब सुनकर इंग्लैंड के खिलाड़ी बौखला जाएंगे!

IND VS ENG: चेपॉक पिच विवाद पर अश्विन का जवाब सुनकर इंग्लैंड के खिलाड़ी बौखला जाएंगे! (साभार-पीटीआई)

IND VS ENG: चेपॉक पिच विवाद पर अश्विन का जवाब सुनकर इंग्लैंड के खिलाड़ी बौखला जाएंगे! (साभार-पीटीआई)

माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने चेपॉक की पिच पर सवाल खड़े किये थे जिसके बाद आर अश्विन (Ravichandran Ashwin) के जवाब ने उनकी बोलती बंद कर दी है, जानिए ऑफ स्पिनर ने क्या कहा

  • Share this:
नई दिल्ली. मेजबान टीम की मददगार पिचें तैयार करने पर छिड़ी बहस के बीच रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने क्रिकेटप्रेमियों और भारत के क्रिकेट समुदाय से अनुरोध किया है कि इस तरह के आरोपों का बेहतर ढंग से सामना करें . यह पूछने पर कि क्या इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की टीमों को यह स्वीकार कर लेना चाहिये कि टर्न लेती पिचों पर वे अच्छी स्पिन गेंदबाजी का सामना नहीं कर पाते, अश्विन ने कहा ,' आखिर में तो इन सब बातों से परेशान हम हो रहे हैं .' उन्होंने कहा ,' हर किसी को राय रखने का अधिकार है और जो भी राय दे रहा है, यह उसका हक है . हम इस पर तवज्जो दे रहे हैं और देख रहे हैं कि यह काम कर रहा है या नहीं .'

उन्होंने कहा ,' एक क्रिकेट समुदाय या एक देश के रूप में इस तरह के आरोपों का बेहतर ढंग से सामना करना चाहिये . हमें गर्व से कहना चाहिये कि हम अच्छा क्रिकेट खेल रहे हैं .' अश्विन ने कहा कि भारतीय टीम की भी पिचों के बारे में राय हो सकती है लेकिन विदेशी हालात में किसी खिलाड़ी या पूर्व दिग्गजों ने सीम लेती विकेटों को लेकर शिकायत नहीं की .

हम विदेशी दौरों पर पिच की शिकायत नहीं करते-अश्विन
अश्विन ने कहा ,' इंग्लैंड के क्रिकेट विशेषज्ञ क्या बोलते हैं , उससे मुझे कोई परेशानी नहीं है क्योंकि हम भी विदेश दौरे पर अपनी राय रखेंगे .लेकिन हम कभी शिकायत नहीं करते .' उन्होंने कहा ,'मैने कभी अपने महान खिलाड़ियों को शिकायत करते नहीं देखा . चाहे हमारे कोच रवि शास्त्री हों या सुनील गावस्कर . इन्होंने कई दौरे किये और पिच पर घास होने की बात कही लेकिन शिकायत नहीं की .' अश्विन ने किसी इंग्लिश पूर्व खिलाड़ी का नाम नहीं लिया लेकिन वह पूर्व कप्तान माइकल वॉन की बात कर रहे थे.
अश्विन ने आगे कहा ,' हमें लोगों की राय का सम्मान करना चाहिये लेकिन उसका बेहतर तरीके से विरोध भी करना आना चाहिये .' उन्होंने कहा कि लोग कई बार गैर जरूरी सलाह देते रहते हैं और पांच साल में यही हुआ जब वह बल्ले से अच्छा नहीं खेल सके .अश्विन ने कहा ,' भारत में हमें तरह तरह की राय मिलती है लेकिन कई बार यह गैर जरूरी भी होती है . मुझे मदद की जरूरत थी तो मैने बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौड़ से ली .'



IND VS ENG: जो रूट का खुलासा- मोइन अली मुश्किल में थे, उन्हें घर भेजना जरूरी था 

कैमरन ग्रीन पर भी बोले अश्विन
आर अश्विन ने ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर कैमरन ग्रीन पर भी बड़ी बात कही. उन्होंने कहा, ' मैंने कभी सोचा नहीं था कि ये कहूंगा लेकिन कह देता हूं . दो महीने पहले कैमरन ग्रीन ने ऑस्ट्रेलिया के लिये पदार्पण किया . उसके पदार्पण से पहले उसे आने वाली पीढी का सितारा मान लिया गया . उसने भारत के खिलाफ पूरी श्रृंखला में 150 रन बनाये और एक विकेट भी नहीं लिया . लेकिन उसे लेकर कितनी हाइप बना दी गई.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज