टेस्ट सीरीज जीतने के बाद अश्विन के लिए पत्नी प्रीति का प्यार भरा ट्वीट, लिखा- अब बबल ब्रेक करो और घर आ जाओ

रविचंद्रन अश्विन की पत्नी प्रीति नारायणन इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में हुए दूसरे टेस्ट में स्टेडियम में नजर आईं थीं.( R Ashwin/Twitter)

रविचंद्रन अश्विन की पत्नी प्रीति नारायणन इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में हुए दूसरे टेस्ट में स्टेडियम में नजर आईं थीं.( R Ashwin/Twitter)

इंग्लैंड के खिलाफ 4 टेस्ट की सीरीज 3-1 से जीतने के बाद रविचंद्नन अश्विन (Ravichandran Ashwin) के लिए उनकी पत्नी प्रीति नारायणन (Prithi Narayanan) ने प्यार भरा ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि अब बायो-बबल (Bio Bubble) ब्रेक करके घर लौट आओ. अश्विन पिछले साल आईपीएल के बाद से ही बायो-बबल में हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 7, 2021, 12:13 PM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. भारत और इंग्लैंड (India vs England) के बीच हुई 4 टेस्ट की सीरीज को टीम इंडिया ने 3-1 से जीतने के साथ वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (World Test Championship) के फाइनल में सबसे ज्यादा अंकों के साथ जगह बनाई. सीरीज में 32 विकेट लेने वाले ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) को मैन ऑफ द मैच सीरीज चुना गया. अश्विन पिछले साल के ऑस्ट्रेलिया दौरे के वक्त से बायो-बबल में रह रहे हैं. अब उनकी पत्नी प्रीति भी चाह रही हैं कि वो जल्दी बायो-बबल से निकलकर घर लौट आएं.

दरअसल, शनिवार को टेस्ट खत्म होने के बाद पत्नी प्रीति नारायणन (Prithi Narayanan) ने पति अश्विन के लिए एक इमोशनल ट्वीट करते हुए लिखा कि अब बबल ब्रेक करो और जल्दी घर आ जाओ. इस ट्वीट के साथ उन्होंने अश्विन की एक तस्वीर भी शेयर की, जिसमें ये ऑफ स्पिनर मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड के साथ खड़ा नजर आ रहा है.

ravichandran ashwin, prithi narayanan, cricket news
रविचंद्नन अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ 4 टेस्ट की सीरीज में 32 विकेट लिए. (Prithi Narayanan/twitter)




अश्विन पिछले साल आईपीएल से ही बायो-बबल में रह रहे
भारतीय क्रिकेटर्स पिछले साल यूएई में हुए आईपीएल के बाद से ही बायो-बबल में हैं. इसमें से कुछ खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया दौरे पर परिवार के साथ गए थे. हालांकि, इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में ऐसा नहीं था. ऐसे में अब परिवार भी अब घर से लंबे वक्त से दूर खिलाड़ियों से मिलना चाह रहा है. इसी वजह से अश्विन की पत्नी ने भी ट्वीट कर अपने दिल की बात कही.

ऑस्ट्रेलिया में ताजी हवा के लिए भी तरसना पड़ता था: अश्विन
अश्विन ने भी शनिवार को मैच खत्म होने के बाद वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में बायो-बबल से जुड़ी मुश्किलों पर अपनी बात रखी थी. उन्होंने कहा था कि बायो सिक्यौर माहौल में जीवन काफी चुनौतीपूर्ण होता है क्योंकि इसमें रोजमर्रा की जरूरतों के लिये जूझना पड़ता है. ऑस्ट्रेलिया में कभी कभार भारतीय टीम को ऐसे होटल के कमरों में ठहरना पड़ा जिसमें ताजा हवा भी नहीं आती थी क्योंकि खिड़कियां खुलती ही नहीं थीं. भारतीय टीम के खिलाड़ी पिछले साल अगस्त से बायो-बबल में रह रहे हैं, जब वे संयुक्त अरब अमीरात में 2020 इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) के लिये इकट्ठे हुए थे. इसके बाद ऑस्ट्रेलिया दौरा हुआ और अब इंग्लैंड का भारत दौरा चल रहा है.

बायो-बबल में रहना बहुत चुनौतीपूर्ण है: रवि शास्त्री
भारतीय टीम के हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने भी बायो-बबल से जुड़ी परेशानियों का जिक्र किया था. उन्होंने कहा था कि 6 महीने तक बबल में रहना, सुबह से शाम तक वही चेहरे देखना. अब समय आ गया इस बबल के फूटने का. हालांकि, उन्होंने कहा कि अभी इसे फूटने में तीन हफ्ते का वक्त और लगेगा. दरअसल, इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद अब दोनों देशों के बीच 5 टी20 और तीन वनडे की सीरीज भी खेली जानी है. टेस्ट सीरीज में शामिल कई खिलाड़ी इस सीरीज का भी हिस्सा होंगे. ऐसे में उन खिलाड़ियों को कुछ और दिन बायो-बबल में रहना होगा. टी20 सीरीज 12 मार्च से शुरू हो रही और सभी पांचों मुकाबले अहमदाबाद के नए बने नरेंद्र मोदी स्टेडियम में होंगे. जबकि वनडे सीरीज 23 मार्च से शुरू होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज