रवींद्र जडेजा का खुलासा, वर्ल्ड कप में मांजरेकर की तरफ किया था 'तलवारबाजी' वाला जश्न

रवींद्र जडेजा अपने तलवारबाजी वाले जश्न के लिए मशहूर हैं, (Instagram)

रवींद्र जडेजा अपने तलवारबाजी वाले जश्न के लिए मशहूर हैं, (Instagram)

पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) ने रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) को 'बिट्स एंड पीस' क्रिकेटर यानी टुकड़ों में प्रदर्शन करने वाला कहा था. जडेजा ने खुलासा किया कि उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में 'तलवारबाजी' के जश्न से मांजरेकर को निशाना बनाया था.

  • Share this:

नई दिल्ली. भारतीय ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) मैदान पर जब कोई बड़ी पारी खेलते हैं या कभी-कभार टीम को जीत दिलाने में योगदान देते हैं तो बल्ले से 'तलवारबाजी' वाला जश्न करते हैं. आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 के दौरान जडेजा और पूर्व भारतीय क्रिकेटर संजय मांजरेकर के बीच विवाद ने क्रिकेट जगत में सुर्खियां बटोरी थीं. मांजरेकर ने जडेजा को 'बिट्स एंड पीस' क्रिकेटर यानी टुकड़ों में प्रदर्शन करने वाला कहा था. यह टिप्पणी जडेजा को अच्छी नहीं लगी थी और उन्होंने जब न्यूजीलैंड के खिलाफ वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में 77 रन की पारी खेली तो मांजरेकर के लिए ही 'तलवारबाजी' वाला जश्न किया था.

भारत और न्यूजीलैंड के बीच 2019 विश्व कप के सेमीफाइनल के दौरान जडेजा ने शानदार पारी खेली और भारत को जीत के करीब ला दिया था. बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने 8वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 59 गेंदों में 77 रन बनाए लेकिन कीवी टीम जीत दर्ज करने में कामयाब रही. जडेजा ने अब खुलासा किया है कि वह वास्तव में अपने अर्धशतक के बाद कमेंट्री बॉक्स में मांजरेकर की तलाश कर रहे थे ताकि वह अपनी 'तलवारबाजी' के जश्न को सीधे उन पर निशाना बना सकें.

इसे भी पढ़ें, जडेजा का छलका दर्द, कहा- भारतीय टीम से बाहर होने के बाद डेढ़ साल तक नहीं सो पाया

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में जडेजा ने कहा, 'तब तो मुद्दा काफी बड़ा बन गया था. मैं कमेंट्री बॉक्स ढूंढ रहा था. फिर मैंने सोचा, कहीं तो होंगे ही, बस.. और जो लोग समझते हैं उन्हें पता होगा कि मैं जश्न को किसकी तरफ निशाना बना रहा था!' जडेजा ने आगे कहा कि 2018 में द ओवल में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच ने उनके खेल को पूरी तरह से बदल दिया. उन्होंने यह भी कहा कि जब कोई बल्लेबाज इंग्लैंड की परिस्थितियों में दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ रन बनाता है, तो इससे उन्हें अच्छा महसूस होता है.
जडेजा ने कहा, 'जब आप सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ इंग्लैंड की परिस्थितियों में स्कोर करते हैं, तो यह आपके आत्मविश्वास को बहुत प्रभावित करता है. यह आपको महसूस कराता है कि आपकी तकनीक दुनिया में कहीं भी स्कोर करने के लिए काफी अच्छी है. बाद में हार्दिक पंड्या चोटिल हो गए और मैंने वनडे में वापसी की. तब से, मेरा खेल अच्छा चल रहा है, टचवुड.'

इसे भी देखें, अक्षर पटेल ने तस्वीर पर किया कमेंट तो बुमराह ने लिखा 'मिर्जापुर' का मशहूर डायलॉग

रवींद्र जडेजा अब खेल के तीनों फॉर्मेट में भारतीय टीम का हिस्सा हैं. वह अब वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में नजर आएंगे, जब भारतीय टीम 18 जून से न्यूजीलैंड का सामना करेगी. इसके बाद भारत को इंग्लैंड के खिलाफ उसी की सरजमीं पर टेस्ट सीरीज भी खेलनी है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज