अपना शहर चुनें

States

कोच का खुलासा, लॉकडाउन में पंत ने बढ़ा लिया था वजन, पिछले 4 महीने में कर चुके हैं 10 किलो वजन कम

ऋषभ पंत ने सिडनी टेस्ट में 133 रन बनाए हैं (फोटो-AP)
ऋषभ पंत ने सिडनी टेस्ट में 133 रन बनाए हैं (फोटो-AP)

भारतीय युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने पिछले कुछ महीनों में 10 किलो से ज्यादा वजन कम किया है. ऋषभ पंत के बचपन के कोच तारक सिन्हा (Tarak Sinha) ने हाल ही में इस बात का खुलासा किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2021, 11:18 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारतीय युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने पिछले कुछ महीनों में 10 किलो से ज्यादा वजन कम किया है. ऋषभ पंत के बचपन के कोच तारक सिन्हा (Tarak Sinha) ने हाल ही में इस बात का खुलासा किया है. कोरोना वायरस काल में क्रिकेट के दोबारा शुरू होने पर ऋषभ पंत ने सबसे पहले इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में हिस्सा लिया था. आईपीएल के 13 वें सीजन के दौरान देखा गया कि दिल्ली के विकेटकीपर-बल्लेबाज का कुछ वजन बढ़ गया है, जिसकी वजह से उन्हें आलोचना का शिकार भी होना पड़ा. खासकर आईपीएल में बल्ले से निराश करने के बाद.

द्रोणाचार्य अवॉर्ड से सम्मानित तारक सिन्हा ने कहा कि ऋषभ पंत को लॉकडाउन के दौरान अपने गृहनगर में ट्रेनिंग की सुविधाएं नहीं थीं और इसलिए वे आईपीएल की शुरुआत में उतने फिट नहीं थे, जितनी एक उच्च स्तरीय एथलीट से की जाती हैं. हालांकि, सिन्हा ने यह भी बताया कि बाएं हाथ के बल्लेबाज ने अपनी फिटनेस पर काफी ज्यादा काम किया और अपने शरीर से काफी सारा एक्स्ट्रा फैट कम किया.

IND vs AUS: दिलीप वेंगसरकर बोले- विराट की तुलना में रहाणे के साथ ज्यादा सहज हैं खिलाड़ी



तारक सिन्हा ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में कहा, ''लॉकडाउन के दौरान रुड़की में अपने घर में फंस गए थे. एक भारतीय खिलाड़ी को ट्रेनिंग के लिए जिन सुविधाओं की जरूरत होती है, वह उनके पास नहीं थी. इस वजह से उनका वजह बढ़ गया, लेकिन दुबई पहुंचने के बाद उन्होंने आईपीएल के लिए बहुत ज्यादा मेहनत की.''
तारक सिन्हा ने आकाश चोपड़ा और शिखर धवन जैसै बहुत से इंटरनेशनल खिलाड़ियों को कोच किया है. उन्होंने कहा कि मैं ऋषभ पंत की फिटनेस को लेकर परेशान नहीं था, लेकिन इससे उनका आत्मविश्वास और बल्लेबाजी में निखार खो गया था. ऋषभ पंत ने आईपीएल 2020 में 113.95 के स्ट्राइक रेट और 31.18 के औसत से 14 मैचों में 343 रन बनाए थे. आईपीएल के इस सीजन में पंत के बल्ले से सिर्फ एक अर्धशतक निकला. अपनी परफॉर्मेंस से वह खुद भी निराश थे.

IND vs AUS, 4th Test: ब्रिस्बेन में टीम इंडिया के होटल में मूलभूत सुविधाएं भी नहीं, BCCI को देना पड़ा दखल

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी टेस्ट में 118 गेंदों में 97 रन की पारी खेलने वाले ऋषभ पंत को फॉर्म में देखकर उनके कोच अब काफी संतुष्ट हैं. उन्होंने कहा, ''मुझे पता था कि वह अपनी फिटनेस फिर से हासिल कर लेंगे, लेकिन उन्हें अपने बल्ले के साथ भी वापस लौटना था. वह इतने भ्रमित थे कि वह अति-सावधान हो गए थे और आईपीएल में रक्षात्मक मानसिकता में आ गए थे. उनकी विकेटकीपिंग भी फिटनेस और आत्मविश्वास के साथ सुधरेगी. हमने उनसे कहा कि वह अपने बचपन से खेले गए खेल को वापस लाएं और खुश रहें. वह पिछले दो महीनों से अच्छे मूड में हैं.''
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज