ऋषभ पंत को चाहिए 'आजादी' , कहा- मुझे नकल नहीं करनी

ऋषभ पंत को चाहिए 'आजादी' , कहा- मुझे नकल नहीं करनी
टीम इंडिया के विकेटकीपर ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने अपने क्रिकेट करियर पर कई बड़ी बातें कही

टीम इंडिया के विकेटकीपर ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने अपने क्रिकेट करियर पर कई बड़ी बातें कही

  • Share this:
नई दिल्ली. टीम इंडिया के विकेटकीपर और विस्फोटक बल्लेबाज ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने शुक्रवार को खुलासा किया कि कैसे बतौर क्रिकेटर उनकी जिंदगी बदल गई और कैसे वो टीम इंडिया में इतनी कम उम्र में आ गए. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि जब उन्हें पूरी आजादी मिलती है तभी वो रन बना पाते हैं. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि वो अपने आदर्श खिलाड़ी से सीखते हैं उनकी नकल नहीं करते.

पंत को चाहिए आजादी!
ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने दिल्ली कैपिटल्स के साथ इंस्टाग्राम लाइव में कई बड़ी बातें कही. अकसर आते ही आक्रामक खेलने के चक्कर में अपना विकेट गंवा देने वाले ऋषभ पंत का कहना है कि उनकी आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स के कोच रिकी पॉन्टिंग उन्हें अपनी तरह से खेलने की पूरी आजादी देते हैं और यही उनकी सफलता का राज है. पंत ने अपनी टीम के साथ इंस्टाग्राम चैट पर कहा, 'वह मुझे पूरी आजादी देते हैं. वह कहते हैं कि जैसा चाहो, खेलो.'

पंत (Rishabh Pant) ने यह भी कहा कि आईपीएल 2018 सत्र उनके लिये जिंदगी बदलने वाला रहा. पंत ने इसमें 14 मैचों में 650 रन बनाये थे जिसमें छह अर्धशतक शामिल थे. उन्होंने कहा, 'वह सत्र मेरे लिये जिंदगी बदलने वाला था . मुझे उस कामयाबी की जरूरत थी. हम पिछली बार नॉकआउट तक पहुंचे और तीसरे स्थान पर रहे.' उन्होंने टेस्ट क्रिकेट खेलने की चुनौतियों के बारे में कहा ,' मुझे टेस्ट खेलना पसंद है . आप खुद को समय दे सकते हैं . टेस्ट क्रिकेट में आपकी असल परीक्षा होती है .'
'धोनी ने मदद की, मुझे आदर्श की नकल नहीं करनी'


पंत (Rishabh Pant) ने अपने शुरुआती दिनों के संघर्ष के बारे में भी बताया . उन्होंने कहा कि एम एस धोनी, विराट कोहली, रोहित शर्मा, युवराज सिंह, सुरेश रैना और शिखर धवन जैसे सीनियर खिलाड़ियों ने उनकी काफी मदद की . अपने आदर्श एडम गिलक्रिस्ट के बारे मे उन्होंने कहा ,'समय के साथ मुझे अहसास हुआ कि आपको अपने आदर्श से सीखना होता है, उसकी नकल नहीं करनी होती . आपको अपनी अलग पहचान बनानी होती है .'

बता दें ऋषभ पंत (Rishabh Pant) को पहले धोनी का उत्तराधिकारी माना जाता था लेकिन अब उनसे टीम इंडिया का भरोसा उठता जा रहा है. वो अब प्लेइंग इलेवन में भी मुश्किल से जगह बना पाते हैं. दरअसल लिमिटेड ओवर क्रिकेट में केएल राहुल बतौर विकेटकीपर और मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज खेलते हैं जिससे पंत की जगह टीम में नहीं बन पा रही है.

रज्जाक ने कहा-पंड्या के पास पैसा आ गया है इसलिए वो अब मेहनत नहीं करते

ओलिंपिक खेलना चाहता है यह भारतीय क्रिकेटर, बताया किस खेल को चुनेंगे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज