Home /News /sports /

India vs Australia: रोहित शर्मा बोले-टी नटराजन में सफलता हासिल करने की भूख, मजबूत व्यक्तित्व वाला खिलाड़ी

India vs Australia: रोहित शर्मा बोले-टी नटराजन में सफलता हासिल करने की भूख, मजबूत व्यक्तित्व वाला खिलाड़ी

नई दिल्ली. टीम इंडिया को एक बड़ी खुशखबरी मिली है. बायें हाथ के तेज गेंदबाज टी नटराजन (T Natrajan) फिटनेस परीक्षण में सफल होने के बाद इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच के दौरान गुरुवार को अहमदाबाद में टीम से जुड़ गये. ऑस्ट्रेलिया में तीनों फॉर्मेट में डेब्यू करने वाले 29 साल के नटराजन कंधे और घुटने की चोट से परेशान थे जिसके कारण वो टी20 सीरीज के शुरुआती मैचों में नहीं खेल पाये थे. (PIC-AP)

नई दिल्ली. टीम इंडिया को एक बड़ी खुशखबरी मिली है. बायें हाथ के तेज गेंदबाज टी नटराजन (T Natrajan) फिटनेस परीक्षण में सफल होने के बाद इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच के दौरान गुरुवार को अहमदाबाद में टीम से जुड़ गये. ऑस्ट्रेलिया में तीनों फॉर्मेट में डेब्यू करने वाले 29 साल के नटराजन कंधे और घुटने की चोट से परेशान थे जिसके कारण वो टी20 सीरीज के शुरुआती मैचों में नहीं खेल पाये थे. (PIC-AP)

India vs Australia, 4th Test: रोहित शर्मा ने कहा कि टी नटराजन (T Natarajan) मजबूत व्यक्तित्व वाला खिलाड़ी है. वह टीम और खुद के लिए अच्छा करना चाहता है

    नई दिल्ली. भारतीय उप कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) टी नटराजन (T Natrajan) के मजबूत व्यक्तित्व से काफी प्रभावित हैं. उनका मानना है कि तमिलनाडु का बाएं हाथ का यह गेंदबाज शीर्ष स्तर पर सफलता हासिल करने की भूख की बदौलत अच्छा प्रदर्शन करता रहेगा. नटराजन टीम के साथ नेट गेंदबाज के तौर पर आये थे. उन्होंने गेंदबाज मोहम्मद सिराज, वाशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर के साथ मिलकर ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 369 रन पर समेट दिया और रोहित के अनुसार यह किसी उपलब्धि से कम नहीं.

    रोहित ने डेब्यू करने वाले नटराजन (78 रन देकर तीन विकेट) के बारे में कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो नटराजन ने काफी अच्छी गेंदबाजी की. देश के बाहर (अंतरराष्ट्रीय टेस्ट में) वह पहली बार खेल रहा है और इतने अपार अनुभवी बल्लेबाजों को गेंदबाजी कर रहा था, यह इतना आसान नहीं था और वह कोई दबाव में भी नहीं था.’’ उन्होंने कहा कि पहली गेंद से ही, वह अच्छा था. उसने संयम दिखाया, वह मजबूत व्यक्तित्व का खिलाड़ी है जो ज्यादा बोलता नहीं लेकिन हम सभी जानते हैं कि वह मजबूत व्यक्तित्व वाला खिलाड़ी है. वह टीम और खुद के लिये अच्छा करना चाहता है. वह यहां बना रहेगा.

    यह भी पढ़ें:

    ब्रिसबेन के मौसम ने बढ़ाई ऑस्ट्रेलिया की मुसीबत, भारत से नहीं जीत पाएगा बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी!

    शाहिद अफरीदी बोले-राहुल द्रविड़ से सीखें इंजमाम उल हक, मोहम्मद यूसुफ और यूनुस खान

    रोहित ने कहा कि भारतीय गेंदबाजी आक्रमण का मिलाकर अनुभव चार टेस्ट मैचों का था, जिसे देखते हुए बल्लेबाजी के मुफीद विकेट पर ऑस्ट्रेलिया को इतने रन पर समेटने में उनकी तारीफ की जानी चाहिए. रोहित ने कहा, ‘‘इनमें से ज्यादा गेंदबाज पहली बार ऑस्ट्रेलिया में खेल रहे हैं. सिराज ने दो मैच खेले हैं और सैनी सिडनी में खेला था. निश्चित रूप से इनके पास ज्यादा अनुभव नहीं है. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन उन्होंने काफी अनुशासन दिखाया और अगर मुझे इन गेंदबाजों के प्रदर्शन का आकलन करना हो तो मैं कहूंगा कि उन्होंने काफी अच्छी गेंदबाजी की. यह अब भी अच्छी पिच है. यह उनके लिए शानदार अनुभव है जिसमें उन्होंने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों को गेंदबाजी करके खुद को परखा.’’undefined

    Tags: IND vs AUS Brisbane Test, India vs Australia, Rohit sharma, T Natrajan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर