दौलत और शोहरत की चमक से भटक गए थे रोहित शर्मा, फिर ऐसे आई अक्ल

रोहित शर्मा ने आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में तीन मैचों में अब तक दो शतक और एक अर्धशतक लगाया है.

पीटीआई
Updated: June 20, 2019, 6:36 AM IST
दौलत और शोहरत की चमक से भटक गए थे रोहित शर्मा, फिर ऐसे आई अक्ल
रोहित शर्मा इस वर्ल्‍ड कप में दो शतक लगा चुके हैं. (AP Photo)
पीटीआई
Updated: June 20, 2019, 6:36 AM IST
स्‍टार क्रिकेटर और भारतीय टीम के सलामी बल्‍लेबाज रोहित शर्मा के बचपन के कोच दिनेश लाड का कहना है कि 2011 वर्ल्‍ड कप टीम में जगह न मिल पाने के बाद वह खेल को लेकर ज्‍यादा गंभीर हुआ है. उन्‍होंने बताया कि उसकी बल्‍लेबाजी में कोई बदलाव नहीं आया है लेकिन अब वह ज्‍यादा समझदार हो गया है. लाड ने बताया कि 2009 से 2011 के दौरान रोहित पैसों और शोहरत में भटक गया था. ऐसे में क्रिकेट पर उसका ध्‍यान कम हो गया था. लेकिन अब उसके बाद उसने खुद को सुधारा. रोहित शर्मा ने आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में तीन मैचों में अब तक दो शतक और एक अर्धशतक लगाया है. जिन दो मैचों में उन्‍होंने शतक लगाए उनमें भारत को बड़ी जीत मिली है.

लाड ने मुंबई में पीटीआई से कहा, ‘मैंने उसे बचपन से ही उसे बल्लेबाजी करते हुए देखा है उसमें कोई बदलाव नहीं आया है. उसमें सिर्फ यह बदलाव आया है कि अनुभव के साथ वह ज्यादा परिपक्व हो गया है. रोहित ने 2007 से 2009 तक अच्छा खेल दिखाया और जिम्बाब्वे के खिलाफ दो शतक भी लगाए. 2009 से 2011 तक शोहरत और अधिक पैसे के कारण उसका ध्यान भटक गया जिससे उसने खेल पर ध्यान देना कम कर दिया. इसी कारण वह 2011 वर्ल्‍ड कप की टीम में जगह नहीं बना सका.’

लाड ने कहा, ‘उसके लिये यह काफी चौंकाने वाला था. मैंने उसे अपने घर बुलाया और कहा कि आप अभी जहां है वह सिर्फ क्रिकेट की वजह से हैं लेकिन अब आपका ध्यान क्रिकेट पर नहीं है, इसलिए मैं आपसे अभ्यास करने का निवेदन कर रहा हूं. मैंने रोहित से कहा कि विराट कोहली आपके बाद आए और उन्होंने वर्ल्‍ड कप की टीम में जगह बना ली. अंतर देखो, अब आपको अपने खेल पर ध्यान देना होगा.’

लाड ने कहा, ‘इसके बाद रोहित ने अपने खेल पर गंभीरता से ध्यान देना शुरू किया जो उसके करियर के लिए काफी अहम साबित हुआ.'

ICC World Cup : इंग्लैंड के इस बल्लेबाज़ ने तोड़ दिया रोहित शर्मा का बड़ा रिकॉर्ड

भारत से हार के बाद पाकिस्तान टीम को बैन करने की मांग, कोच-सेलेक्शन कमेटी का हटना तय!
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...