कुलदीप यादव के 'गेस्ट हाउस' में कोविड -19 वैक्सीन लेने पर विवाद, कानपुर सिटी मजिस्ट्रेट ने दी सफाई

कुलदीप यादव ने वैक्सीन विवाद पर अपनी सफाई दी है. (फोटो साभार-@imkuldeep18)

कुलदीप यादव ने वैक्सीन विवाद पर अपनी सफाई दी है. (फोटो साभार-@imkuldeep18)

कुलदीप की इस तस्वीर पर एक ट्विटर यूजर ने कमेंट करते हुए उनसे पूछा, ''घर घर जाकर टीका दिया जाना शुरू हो चुका है क्या? या फिर ये टीका केंद्र है? इस पर कुलदीप यादव ने जवाब देते हुए कहा, ''यह टीका केंद्र ही है. धन्यवाद.''

  • Share this:

नई दिल्ली. क्रिकेटर्स, खिलाड़ी और अन्य सेलिब्रिटीज कोविड-19 वैक्सीन लेते हुए अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं. सेलिब्रिटीज ऐसा इसलिए कर रहे हैं, ताकि दूसरे लोग भी उन्हें देख ऐसा करने के लिए प्रोत्साहित हों. लेकिन कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) को शायद ही पता होगा कि कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज लेने के बाद उनकी तस्वीर से विवाद खड़ा हो जाएगा. कुलदीप यादव द्वारा शेयर की गई तस्वीर को देखकर ऐसा लग रहा है कि भारतीय 'चाइनामैन' गेंदबाज किसी गेस्ट हाउस में वैक्सीन की डोज ले रहे हैं. कुलदीप यादव की इसी तस्वीर पर जमकर बवाल हुआ है, जिसके बाद स्पिनर और कानपुर सिटी मजिस्ट्रेट ने इस पर सफाई दी है.

कुलदीप यादव ने वैक्सीन लगवाते हुए अपनी तस्वीर शेयर की और हिंदी में ट्वीट किया, ''जब भी मौका मिले तुरंत टीका लगवाएं. सुरक्षित रहें, क्योंकि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में एकजुट होने की आवश्यकता है. कुलदीप यादव ने यह तस्वीर 15 मई को शेयर की थी. कुलदीप की इस तस्वीर पर एक ट्विटर यूजर ने कमेंट करते हुए उनसे पूछा, ''घर घर जाकर टीका दिया जाना शुरू हो चुका है क्या? या फिर ये टीका केंद्र है? इस पर कुलदीप यादव ने जवाब देते हुए कहा, ''यह टीका केंद्र ही है. धन्यवाद.''


दरअसल, जैसे ही कुलदीप ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर तस्वीर अपलोड की, वैसे ही स्पिनर के कथित 'वीआईपी ट्रीटमेंट' पर सवाल उठने लगे. रिपोर्ट्स के मुताबिक, गोविंद नगर में जागेश्वर अस्पताल के बजाय कुलदीप ने कानपुर नगर निगम गेस्ट हाउस के लॉन में टीका लगवाया. इस खबर पर कानपुर जिला प्रशासन ने जांच के आदेश दिए हैं.
कानपुर सिटी मजिस्ट्रेट हिमांशु गुप्ता ने बुधवार को अपनी रिपोर्ट भी सौंप दी, जिसमें पुष्टि की गई है कि यह गोविंद नगर में जोगेश्वर अस्पताल था, जहां कुलदीप यादव ने टीका लगवाया था. सोशल मीडिया पर शेयर की गई तस्वीर के बारे में पूछे जाने पर मजिस्ट्रेट ने इंडिया टुडे को बताया कि यह एक 'सोशल मीडिया नौटंकी' है, जो इन दिनों चलन में है.

भारतीय महिला टीम पहली बार खेलेगी पिंक-बॉल टेस्ट, ऑस्ट्रेलियाई धरती पर होगा डे-नाइट मैच

मजिस्ट्रेट हिमांशु गुप्ता द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट के अनुसार, अस्पताल में टीकाकरण केंद्र के अधिकारिक रजिस्टर में कुलदीप का नाम 136वां था. गुप्ता ने यह भी कहा कि वह कुलदीप से व्यक्तिगत रूप से कभी नहीं मिले, लेकिन जांच के आधार पर उन्हें क्लीन चिट देने का फैसला किया गया.



डेविड वॉर्नर फैन्स की पॉपुलर डिमांड के बाद लौटे वापस, शेयर किया VIDEO

पिछले कुछ हफ्तों में, कई भारतीय क्रिकेटरों ने टीकाकरण की तस्वीरें अपने ऑफिशियल सोशल मीडिया अकाउंट पर साझा की हैं. विराट कोहली, शिखर धवन, अजिंक्य रहाणे, उमेश यादव, इशांत शर्मा, चेतेश्वर पुजारा जैसे कई दिग्गज खिलाड़ी कोविड-19 वैक्सी का पहला डोज ले चुके हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज