Home /News /sports /

अपने कप्‍तान पर चाकू तानने वाला दुनिया का सबसे विवादित गेंदबाज, लंच ब्रेक में ही भारत से भगा दिया गया

अपने कप्‍तान पर चाकू तानने वाला दुनिया का सबसे विवादित गेंदबाज, लंच ब्रेक में ही भारत से भगा दिया गया

रॉय गिलक्रिस्‍ट का जन्‍म 28 जून 1934 को जमैका में हुआ था (फोटो क्रेडिट: आईसीसी ट्विटर हैंडल)

रॉय गिलक्रिस्‍ट का जन्‍म 28 जून 1934 को जमैका में हुआ था (फोटो क्रेडिट: आईसीसी ट्विटर हैंडल)

विवादों के चलते ही इस खतरनाक गेंदबाज का करियर सिर्फ दो साल में ही खत्‍म हो गया. भारत के खिलाफ दिल्‍ली टेस्‍ट इस खिलाड़ी के करियर का आखिरी इंटरनेशनल मैच साबित हुआ.

    नई दिल्‍ली. क्रिकेट की दुनिया में कुछ ऐसे भी क्रिकेटर्स हैं, जिनके नाम इतिहास में उपलब्धियों से ज्‍यादा विवादों के कारण दर्ज हैं. पिछले कुछ सालों के नाम तो अधिकतर फैंस को याद होंगे. मगर क्रिकेट के इतिहास मे एक ऐसा भी गेंदबाज हुआ, जिसने अपने कप्‍तान पर ही चाकू तान दिया था. यही नहीं उसकी हरकतों से तंग आकर कप्‍तान ने उसे लंच ब्रेक में ही घर भेज दिया था. वेस्‍टइंडीज (West Inides) के विवादित तेज गेंदबाज रॉय गिलक्रिस्‍ट (roy gilchrist) की आज 86वीं जन्‍मतिथि हैं. 28 जून 1934 को जमैका में जन्‍में रॉय का करियर इन विवादों के कारण ही 13 टेस्‍ट मैच का ही रहा. 1957 में इंग्‍लैंड के खिलाफ डेब्‍यू करने वाले रॉय शानदार गेंदबाज थे, मगर डेब्‍यू के दो साल बाद ही दिल्‍ली टेस्‍ट उनके करियर का आखिरी मैच साबित हुआ.
    दरअसल 1958 1959 में गैरी एलेक्‍जेंडर की कप्‍तानी में भारत दौरे पर आई कैरेबियाई टीम के पास रॉय के रूप में सबसे खतरनाक गेंदबाज था.

    नागपुर टेस्‍ट में कृपाल सिंह को मारी बाउंसर

    दौरे के चौथे टेस्‍ट में एके कृपाल सिंह ने रॉय गिलक्रिस्‍ट की गेंदों पर लगातार तीन बाउंड्री लगाई और इस गेंदबाज को कुछ कहा, जिससे यह तेज गेंदबाज नाराज हो गया और इससे बाद इस गेंदबाज ने जानबूझर छह मीटर तक गेंदबाजी के निशान को खत्‍म किया और बाउंसर फेंकी, जो कृपाल सिंह को लगी और इससे उनकी पगड़ी खुल गई थी.
    यह भी पढ़ें: 

    पिता को लगता था बेटा बनेगा चपरासी, लेकिन टीम इंडिया में बनाई जगह और ठोके 12 शतक

    भारतीय क्रिकेट में नेपोटिज्‍म पर आकाश चोपड़ा की बड़ी बात, कहा- अर्जुन तेंदुलकर को...


    बीमर से किया परेशान
    नागपुर मैच के बाद अगले मुकाबले में उन्‍होंने स्‍वर्णजीत सिंह को बीमर्स से परेशान किया. जिनके बारे में वेस्‍टइंडीज के कप्‍तान एलेक्जेंडर कैम्ब्रिज में जानते थे. कप्‍तान ने रॉय को इस तरह की गेंदबाजी न करने की चेतावनी भी थी, जिसे रॉय ने नजरअंदाज किया. जिसका परिणाम लंच के दौरान देखने को मिला. लंच ब्रेक‍ के दौरान कप्‍तान ने रॉय को बाहर कर दिया और उन्‍हें घर भेज दिया गया. जबकि बाकी के खिलाड़ी शेष दौरे के लिए पाकिस्‍तान चले गए. एलेक्जेंडर ने रॉय को कहा कि आप अगली फ्लाइट से ही वापस जाएंगे, गुड आफ्टरनून. ऐसा कहा जाता है कि रॉय ने एलेक्जेंडर पर चाकू तान दिया था. दिल्‍ली में खेला गया यह मैच उनके करियर का आखिरी इंटरनेशनल मैच साबित हुआ. 18 जुलाई 2001 को 67 साल की उम्र में बीमारी के चलते रॉय ने दुनिया को अलविदा कह दिया था.

    Tags: Cricket, India National Cricket Team, Sports news, West Indies National Cricket Team

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर