ऋतुराज गायकवाड़: इंडियन क्रिकेट की नई रन मशीन, 8 पारियों में ठोके 677 रन

ऋतुराज गायकवाड़ ने पिछले कुछ महीनों में उन्‍होंने इंडिया ए के लिए 8 मुकाबले खेले हैं और 112.83 की औसत से 677 रन बनाए हैं.

News18Hindi
Updated: July 22, 2019, 8:38 PM IST
ऋतुराज गायकवाड़: इंडियन क्रिकेट की नई रन मशीन, 8 पारियों में ठोके 677 रन
ऋतुराज गायकवाड़.
News18Hindi
Updated: July 22, 2019, 8:38 PM IST
इंडिया ए ने वेस्‍टइंडीज ए को 5 मैचों की सीरीज में 4-1 से जीत दर्ज की और खिताब अपने नाम किया. इस टूर्नामेंट में इंडियन टीम की ओर से ऋतुराज गायकवाड़ रन बनाने में काफी कंसिस्‍टेंट रहे. उन्‍होंने 4 मैच में दो अर्धशतकों की मदद से 207 रन बनाए. आखिरी मैच में वे शतक से चूक गए और 99 रन पर आउट हो गए. लेकिन गायकवाड़ इंडिया ए के लिए लगातार रनों का अंबार लगा रहे हैं. पिछले कुछ महीनों में उन्‍होंने इंडिया ए के लिए 8 मुकाबले खेले हैं और 112.83 की औसत से 677 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका स्‍ट्राइक रेट 116.72 का रहा है. वेस्‍टइंडीज के दौरे पर 4 मैचों में उन्‍होंने 3, 85, 20, 99 रन की पारियां खेलीं.

इससे पहले श्रीलंका ए के खिलाफ सीरीज में उन्‍होंने 5 मैच की 4 पारियों में 470 रन बनाए थे. इस सीरीज में उन्‍होंने नाबाद 187, नाबाद 125, 84 और 74 रन की पारियां खेली थी. इस सीरीज में 4 मैचों में से केवल 2 में ही वे आउट हुए थे. 22 साल के ऋतुराज गायकवाड़ सलामी बल्‍लेबाज हैं और घरेलू क्रिकेट में महाराष्‍ट्र का प्रतिनिधित्‍व करते हैं. आईपीएल में वे अभी चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स टीम के सदस्‍य हैं लेकिन इस साल खेले गए टूर्नामेंट में उन्‍हें एक भी मैच में मौका नहीं मिला था.

ruturaj gaikwad, ruturaj gaikwad record, ruturaj gaikwad cricket, ruturaj gaikwad career, ruturaj gaikwad india a, ऋतुराज गायकवाड़ क्रिकेट, ऋतुराज गायकवाड़ करियर, ऋतुराज गायकवाड़ इंडिया ए, ऋतुराज गायकवाड़ रिकॉर्ड
एमएस धोनी के साथ ऋतुराज गायकवाड़.


घरेलू क्रिकेट में भी ऋतुराज बल्‍ले से शानदार खेल दिखा रहे हैं. उन्‍होंने अभी तक 12 प्रथम श्रेणी मैच खेले हैं और 38.71 की औसत से 813 रन बनाए हैं. इसमें 2 शतक व 4 अर्धशतक शामिल हैं. लिस्‍ट ए में उनके नाम 39 मैच में 57.08 की औसत से 2055 रन हैं. इसमें 5 शतक व 14 फिफ्टी शामिल हैं.

उन्‍होंने 20 साल की उम्र में महाराष्‍ट्र के लिए विजय हजारे ट्रॉफी में डेब्‍यू किया था. उस समय उन्‍होंने 7 मैचों में 63.42 की औसत से 3 फिफ्टी व 1 शतक की मदद से 444 रन बनाए थे. इसके बाद उन्‍होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा.  लेकिन अगले कुछ सीजन उनके लिए सही नहीं रहे. उनके बल्‍ले से रन बन रहे थे लेकिन बड़ी पारियां नहीं आ रही थीं. जून में उन्‍होंने 'दू हिंदू' से बातचीत में बताया था कि चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स के साथ रहने से उन्‍हें काफी मदद मिली है. माइक हसी जैसे कोच के साथ रहने से उन्‍हें क्रिकेट की काफी बारीकियां सीखने में मदद मिली है.

विराट कोहली को कप्तानी से हटाने की उठी मांग-रिपोर्ट

धोनी के सेना में जाने का इंग्लिश क्रिकेटर ने उड़ाया मजाक

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 22, 2019, 8:24 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...