लाइव टीवी

सचिन तेंदुलकर ने सुनाया हरभजन सिंह का मजेदार किस्‍सा, लक्ष्‍मण-कुंबले हंस-हंसकर हुए लोटपोट

News18Hindi
Updated: November 23, 2019, 12:06 AM IST
सचिन तेंदुलकर ने सुनाया हरभजन सिंह का मजेदार किस्‍सा, लक्ष्‍मण-कुंबले हंस-हंसकर हुए लोटपोट
कोलकाता टेस्‍ट के दौरान वीवीएस लक्ष्‍मण, हरभजन सिंह, अनिल कुंबले और सचिन तेंदुलकर. (AP Photo)

भारत-बांग्लादेश (India Bangladesh) के बीच दिन रात्रि टेस्ट (Day Night Test) मैच के पहले दिन सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar), हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) ने इस ऐतिहासिक मैदान से जुड़े खास पलों को याद किया

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2019, 12:06 AM IST
  • Share this:
कोलकाता: सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) सहित भारत के दिग्गज खिलाड़ियों ने शुक्रवार को यहां ईडन गार्डन्स (Eden Gardens) से जुड़ी अपनी यादों को ताजा किया जहां देश का पहला दिन रात्रि टेस्ट (Day Night Test) मैच खेला जा रहा है. भारत-बांग्लादेश (India-Bangladesh) के बीच दिन रात्रि टेस्ट मैच के पहले दिन लंच के समय तेंदुलकर, अनिल कुंबले (Anil Kumble) और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman) ने इस ऐतिहासिक मैदान से जुड़े खास पलों को याद किया जिनमें वेस्टइंडीज के खिलाफ 1993 में हीरो कप फाइनल और आस्ट्रेलिया के खिलाफ 2001 का टेस्ट मैच भी शामिल है.

गांगुली नहीं हो पाए शामिल
इन सभी ने अपने कप्तान और बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली का उन्हें फिर से एक साथ लाने के लिए आभार व्यक्त किया. गांगुली को भी स्टार स्पोर्ट्स के इस कार्यक्रम में हिस्सा लेना था लेकिन प्रशासनिक व्यस्तता के कारण वह इसमें भाग नहीं ले पाए. बातचीत के दौरान सचिन तेंदुलकर ने हरभजन सिंह के बारे में एक मजेदार किस्‍सा बताया. उन्‍होंने कहा कि मोहाली में एक मैच के दौरान स्थानीय अधिकारियों से हरभजन के बारे में सुना था और फिर भारतीय टीम के नेट अभ्यास के लिए स्पिनर को भेजने के लिए कहा.

sachin tendulkar harbhajan singh, day night test, pink ball test, india bangladesh test, सचिन तेंदुलकर हरभजन सिंह, डे नाइट टेस्‍ट, पिंक बॉल टेस्‍ट, इंडिया बांग्‍लादेश टेस्‍ट
कोलकाता टेस्‍ट के पहले दिन लंच के समय बात करते वीवीएस लक्ष्‍मण, हरभजन सिंह, अनिल कुंबले और सचिन तेंदुलकर.


सचिन ने सुनाया 1996 का किस्‍सा
तेंदुलकर ने कहा, ‘पहली बार मैं भज्जी से मोहाली में मिला था. यह 1996 की बात थी. लोग उसके बारे में बात कर रहे थे. वह अच्छा स्पिनर है जो दूसरा अच्छी तरह से फेंकता है. इसलिए मैंने उसे बुलाने और मुझे नेट्स में गेंद डलने को कहा. ऐसे में भज्‍जी ने मुझे गेंद डालना शुरू किया. लेकिन ऐसा करते हुए वह बार-बार मेरे पास आता और कहता, 'जी पाजी.' मैं कहता कि क्‍या हुआ, जाओ गेंद फेंको. ऐसा कई बार हुआ. मुझे पता नहीं कि भज्‍जी क्‍यों मेरे पास आ रहा था.'

टीम इंडिया में आए हरभजन तो हुआ खुलासा
Loading...

सचिन ने आगे बताया, 'जब वह टीम में आया तो हम एक दूसरे को जानने लगे और वह मुझसे खुलकर बात करने लगा. तब उसने कहा, 'पाजी एक बात बतानी है आपको. मैंने कहा कि बता. उसने बोला कि जब मैं नेट्स में पहली बार आपको गेंद डाल रहा था तब आप मुझे बार-बार अपनी तरफ क्‍यों बुला रहे थे. मैंने कहा कि ऐसा कब किया मैंने? बाद में पता चला कि जिस तरह से मैं हेलमेट एडजस्‍ट करता था तो भज्‍जी को लगता था कि मैं उसे बुला रहा हूं और वह मेरे पास आ जाता.'

किस्‍सा सुनकर सभी हंसने लगे
सचिन ने जब यह किस्‍सा सुनाया तो वहां मौजूद वीवीएस लक्ष्‍मण और अनिल कुंबले भी हंस पड़े. एंकर जतिन सप्रू भी हंसी नहीं रोक पाए. इस बारे में हरभजन सिंह ने बताया, 'पाजी का ऐसा रुतबा था कि मैं गेंद डालने के बजाए उन्‍हें देखता रहता था. इसलिए मैं उनके पास चला जाता था और वे पूछते थे कि क्‍या हुआ. और मैं कहता कि आप ही ने तो बुलाया है.'

वेस्टइंडीज के खिलाफ 12 रन देकर छह विकेट लेने वाले कुंबले ने कहा, ‘जब हम खेला करते थे तब हमें इस तरह से बैठकर बातें करने का मौका नहीं मिला. यह विशेष दिन है और इस ऐतिहासिक मैच के लिए इससे बेहतर स्थल नहीं हो सकता था.’

कोहली ने डे नाइट टेस्‍ट में बनाया वर्ल्‍ड रिकॉर्ड, कोई नहीं कर पाया ये कमाल

भारत की कहर बरपाती बॉलिंग, दो बांग्‍लादेशी बल्‍लेबाज मैच से बाहर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 22, 2019, 10:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...