सचिन ने ऑस्ट्रेलिया की स्पोर्ट्स कंपनी पर किया केस, मांगी 14 करोड़ की रॉयल्टी

कंपनी ने अपने उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए उनके नाम और छवि का उपयोग किया. जिसके लिए कंपनी को उन्हें रॉयल्टी में $ 2 मिलियन का भुगतान करना था जो की कंपनी ने नहीं किया.

News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 7:09 PM IST
सचिन ने ऑस्ट्रेलिया की स्पोर्ट्स कंपनी पर किया केस, मांगी 14 करोड़ की रॉयल्टी
न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने फेडरल कोर्ट के दायर दस्तावेजों के हवाले से दावा किया है कि 2016 में सचिन और स्पार्टन के बीच एक समझौता हुआ था.
News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 7:09 PM IST
भारतीय क्रिकेट के महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने एक ऑस्ट्रेलियाई बैट निर्माता कंपनी के खिलाफ एक मुकदमा दायर किया है. सचिन ने आरोप लगाया है कि कंपनी ने अपने उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए उनके नाम और छवि का उपयोग किया. जिसके लिए कंपनी को उन्हें रॉयल्टी में दो मिलियन डॉलर (करीब 14 करोड़ रुपये) का भुगतान करना था जो कंपनी ने नहीं किया.

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने फेडरल कोर्ट में दायर दस्तावेजों के हवाले से दावा किया है कि 2016 में सचिन और स्पार्टन के बीच एक समझौता हुआ था. जिसके तहत हर साल अपने उत्पादों पर सचिन की तस्वीर और लोगो इस्तेमाल करने पर कंपनी को उन्हें 10 लाख डॉलर (करीब 7 करोड़ रुपये) देने थे. इस डील के तहत स्पार्टन ‘सचिन बाई स्पार्टन’ टैगलाइन भी इस्तेमाल कर सकता था.



26 जून को सिडनी में अदालत में है पहली तारीख
एजेंसी ने इस मामले में स्पार्टन के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (सीओओ) से सवाल पूछे हैं. हालांकि, अभी तक उन्होंने जवाब नहीं दिए हैं. साथ ही अभी सचिन का मामला देखने वाली लॉ फर्म गिल्बर्ट एंड टोबिन ने भी इस मामले में बोलने से इनकार किया है. वहीं कोर्ट की वेबसाइट में दिखाया गया है कि ये मुकदमा 5 जून को दायर किया गया है औऱ 26 जून को सिडनी में अदालत में पहली तारीख है.

सचिन तेंदुलकर को साल 2012 में ऑस्ट्रेलिया के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक 'ऑर्डर ऑफ ऑस्ट्रेलिया' का मानद सदस्य बनाया था.

यह भी पढ़ें- वॉर्नर से सावधान रहो, जरा सी गलती पड़ेगी महंगी: पोटिंग

पाकिस्तानी खिलाड़ियों की ये गलती नहीं होगी माफ: एहसान मनी
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...