लाइव टीवी

सचिन तेंदुलकर टेस्‍ट क्रिकेट को लेकर चिंतित, कहा- अब वर्ल्‍ड क्‍लास गेंदबाजों की कमी

भाषा
Updated: November 14, 2019, 4:37 PM IST
सचिन तेंदुलकर टेस्‍ट क्रिकेट को लेकर चिंतित, कहा- अब वर्ल्‍ड क्‍लास गेंदबाजों की कमी
सचिन तेंदुलकर.

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने कहा कि लोग जो प्रतिद्वंद्विता देखना चाहते थे, वह अब नहीं रही है क्योंकि इस समय विश्व स्तरीय तेज गेंदबाजों की बहुत कमी है.

  • Share this:
इंदौर. महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) खेल के पारंपरिक प्रारूप को लेकर चिंतित हैं क्योंकि टेस्ट क्रिकेट (Test Cricket) को लेकर जो दिलचस्पी पहले बनी रहती थी, अब वह समाप्त हो गई है. सत्तर और अस्सी के दशक में सुनील गावस्कर बनाम एंडी राबर्ट्स, डेनिस लिली या इमरान खान के बीच गेंद और बल्ले की भिड़ंत देखने का इंतजार रहता था. इसी तरह तेंदुलकर बनाम ग्लेन मैक्‍ग्रा या वसीम अकरम के बीच मुकाबला भी आकर्षण का केंद्र रहता था. तेंदुलकर को लगता है कि अब ऐसा नहीं है. सचिन तेंदुलकर ने अपने 24 साल के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 200 टेस्ट मैच खेले हैं.

'पहले जैसी स्‍पर्धा नहीं रही'
इस भारतीय क्रिकेटर ने अपने पदार्पण (15 नवंबर 1989) के बाद से पिछले 30 वर्षों में क्रिकेट में हो रहे बदलाव का आकलन करते हुए कहा, ‘लोग जो प्रतिद्वंद्विता देखना चाहते थे, वह अब नहीं रही है क्योंकि इस समय विश्व स्तरीय तेज गेंदबाजों की बहुत कमी है. मुझे लगता है कि इस चीज की कमी अखरती है. इसमें कोई शक नहीं कि तेज गेंदबाजों का स्तर बेहतर किया जा सकता है.’

'टेस्ट क्रिकेट का स्तर नीचे गिरा है जो अच्छी खबर नहीं'

टेस्ट क्रिकेट में प्रतिस्पर्धा केवल तीन देशों (भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड) तक ही सीमित है. बारे में पूछने पर सचिन तेंदुलकर भी इससे सहमत थे. उन्होंने कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट का स्तर नीचे गिरा है जो अच्छी खबर नहीं है. क्रिकेट का स्तर ऊपर होने की जरूरत है और इसके लिए मैं फिर कहूंगा कि सबसे अहम चीज है खेलने वाली पिचें.’

'टेस्ट क्रिकेट में अच्छे विकेट होने चाहिए'
उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि जो पिचें मुहैया कराई जाती हैं, इसका भी इससे लेना देना है. अगर हम अच्छी पिचें मुहैया कराएं जहां तेज गेंदबाजों और स्पिनरों को भी मदद मिले तो गेंद और बल्ले में संतुलन बरकरार रहेगा. अगर संतुलन की कमी है तो मुकाबला कमजोर हो जाएगा और यह आकर्षक नहीं रहेगा. टेस्ट क्रिकेट में अच्छे विकेट होने चाहिए.’
Loading...

यह भी पढ़ें :

दीपक चाहर ने फिर दिखाया कमाल, 4 गेंद में 3 विकेट लेकर टीम को दिलाई जीत
एमएस धोनी का रिकॉर्ड तोड़ने के करीब पहुंचे साहा, जानिए क्या है मामला

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 4:08 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...