सलमान ने की पाकिस्तानी गेंदबाजों की बेइज्जती, बोले- बिना डिग्री वाले डॉक्टर

सलमान बट्ट ने पाकिस्तान के युवा गेंदबाजों को सलाह दी कि वे घरेलू क्रिकेट पर भी ध्यान दें. (Instagram)

पूर्व कप्तान सलमान बट्ट (Salman Butt) ने कहा कि लंबे वक्त तक चोट से मुक्त और लगातार टीम में बने रहने के लिए तेज गेंदबाज जो भी अभ्यास करते हैं, उन्हें केवल फिटनेस पर फोकस करने के बजाय गेंदबाजी को बेहतर करने पर ध्यान देना चाहिए.

  • Share this:
    नई दिल्ली. पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट्ट (Salman Butt) अकसर क्रिकेट के मामलों से संबंधित सुझाव और प्रतिक्रिया देते हैं. यदि उन्हें कुछ चीजें पसंद नहीं आती हैं तो वह बोर्ड और खिलाड़ियों की आलोचना में भी पीछे नहीं रहते. इस बार भी उन्होंने पाकिस्तानी टीम के युवा गेंदबाजों की खिंचाई की है. उन्होंने कहा है कि आज के युवा गेंदबाज प्रथम श्रेणी क्रिकेट पर ध्यान केंद्रित करने के बजाय फिटनेस पर ज्यादा फोकस कर रहे हैं. उन्होंने साथ ही कहा कि यह ऐसा है कि कोई बिना एमबीबीएस की डिग्री लिए ही डॉक्टर बन जाए.

    बट्ट पाकिस्तान सुपर लीग (PSL-2021) के छठे सीजन में कुछ पाकिस्तानी तेज गेंदबाजों की कमियों से निराश नजर आए. उन्होंने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, '140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने से कोई असर नहीं पड़ता है, अगर आप सही लाइन और लेंथ पर गेंदबाजी नहीं करते हैं. बल्लेबाजों को इस तरह की हाफ वॉली खेलना पसंद हैं. उन्हें केवल गेंद को बाउंड्री की ओर भेजने की जरूरत होती है.'

    उन्होंने कहा, 'गति आपकी मदद तभी करेगी, जब आप सही लाइन और लेंथ पर स्विंग और गेंदबाजी करना जानते हों. गेंदबाजों को प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलने में ज्यादा समय बिताने की जरूरत है, जिम में नहीं. आप गेंदबाज नहीं एथलीट बनेंगे. यह बिल्कुल एमबीबीएस के बिना डॉक्टर बनने जैसा है.'

    इसे भी पढ़ें, हसन अली के परिवार का विवाद पत्नी ने सुलझाया, PSL में खेलना जारी रखेगा क्रिकेटर

    उन्हें लगता है कि तेज गेंदबाज अब सिर्फ 140 से अधिक की गति देखना चाहते हैं, वे स्विंग, लाइन और लेंथ पर निर्भर रहने के बजाय सिर्फ तेज गेंदबाजी करना चाहते हैं. बट्ट का इशारा नसीम शाह और मोहम्मद हसनैन की युवा तेज गेंदबाजी जोड़ी की तरफ था जो युवा गेंदबाज लगातार 140-145 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं लेकिन वे अपने घरेलू खेल पर ज्यादा ध्यान नहीं दे रहे हैं.

    बट्ट ने आगे कहा कि लंबे समय तक चोट से मुक्त और लगातार टीम में बने रहने के लिए तेज गेंदबाज जो भी अभ्यास करते हैं, उन्हें केवल फिटनेस पर फोकस करने के बजाय गेंदबाजी को बेहतर करने पर ध्यान देना चाहिए.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.