संजय मांजरेकर बोले- केएल राहुल के वनडे-टी20 के रन मायने नहीं रखते, टेस्ट टीम में जगह नहीं

संजय मांजरेकर बोले- केएल राहुल के वनडे-टी20 के रन मायने नहीं रखते, टेस्ट टीम में जगह नहीं
केएल राहुल की टेस्ट टीम में जगह क्यों नहीं?

केएल राहुल (KL Rahul) ने वनडे और टी20 में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन इसके बावजूद उन्हें टेस्ट टीम में क्यों नहीं देखते संजय मांजरेकर?

  • Share this:
मुंबई. पिछले एक साल में केएल राहुल (KL Rahul) ने अपने बल्ले से रनों की बरसात की है. न्यूजीलैंड हो या वेस्टइंडीज, या फिर आईसीसी वर्ल्ड कप 2019, हर जगह केएल राहुल का बल्ला चला. हालांकि इसके बावजूद पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) का मानना है कि केएल राहुल की अब भी टेस्ट टीम में जगह नहीं बनती. इस पूर्व टेस्ट बल्लेबाज का मानना है कि केएल राहुल ने सीमित ओवरों की क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन इसे टेस्ट फॉर्मेट में रहाणे की जगह उन्हें रखने का मानदंड नहीं माना जा सकता है. उन्होंने कहा कि कर्नाटक के बल्लेबाज को घरेलू प्रथम श्रेणी मैचों में बड़े स्कोर बनाने की जरूरत है.

मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) ने अपने यूट्यूब चैनल पर अपने ट्विटर फालोअर्स के सवालों के जवाब देते हुए कहा, 'केएल राहुल ने नंबर पांच पर बेहतरीन प्रदर्शन किया है. हां रहाणे अब वैसा खिलाड़ी नहीं लगता जैसे वह अपने टेस्ट करियर के पहले दो वर्षों में दिख रहा था लेकिन मैं उन्हें फिर से उसी फॉर्म में वापसी करते हुए देखना चाहूंगा.' उन्होंने कहा कि रहाणे ने हालांकि हाल में टेस्ट क्रिकेट में कुछ रन बनाये हैं लेकिन उनके प्रदर्शन में निरंतरता होनी चाहिए.

भारत की तरफ से 37 टेस्ट खेलने वाले मांजरेकर ने कहा, 'कभी-कभार ही ऐसा होता है लेकिन ऐसा हमेशा नहीं होता जैसा कि वह चाहता है. लेकिन उनके प्रदर्शन के आधार पर मुझे नहीं लगता कि टेस्ट मैचों में उनकी जगह राहुल के नाम पर विचार करना सही होगा.'



'राहुल टेस्ट में प्रभावशाली नहीं'
जहां तक राहुल का सवाल है तो मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) ने उनके प्रशंसकों का याद दिलाया कि यह बल्लेबाज जब वेस्टइंडीज में आखिरी बार टेस्ट मैचों में खेला था तो सफल नहीं रहा था. उन्होंने कहा, 'आखिरी बार जब राहुल टेस्ट क्रिकेट खेला था तो बहुत प्रभावशाली नहीं रहा था. केएल राहुल को टेस्ट स्तर पर मध्यक्रम में जगह बनाने के लिये घरेलू स्तर पर ढेरों रन बनाने होंगे जैसा कि मयंक अग्रवाल ने भारतीय टीम में जगह बनाने के लिये किया.'


इस वजह से 'गुरु' सुशांत सिंह राजपूत से किया था न मिलने का वादा, मौत की खबर सुनकर बेसुध हुआ यह क्रिकेटर


नंबर 5 पर बर्बाद हो रहा था गांगुली का टैलेंट, कोच की एक सलाह से संभला करियर

ऑस्ट्रेलिया में ओपनिंग करें मयंक अग्रवाल और रोहित
जहां तक इस साल के आखिर में ऑस्ट्रेलिया दौरे का सवाल है तो मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) ने सलामी जोड़ी के रूप में रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल को चुना जबकि पृथ्वी शॉ को रिजर्व बल्लेबाज के रूप में रखा. मांजरेकर ने कहा, 'पिछली बार जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट मैच खेले तब रोहित शर्मा टीम में नहीं थे. शॉ और मयंक अग्रवाल ने पारी की शुरुआत की थी और शॉ की जिस तरह की तकनीक है वह उस तरह की परिस्थितियों, पिचों पर चल सकता है.' उन्होंने कहा, 'लेकिन अगर रोहित शर्मा फिट है तो फिर उसे मौका मिलना चाहिए. मयंक अग्रवाल और रोहित शर्मा असल में सलामी बल्लेबाज होंगे और पृथ्वी शॉ आपका दूसरा विकल्प होगा.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज