• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • पाकिस्तान ने टीम में नहीं चुना, जूते उठवाए, अब सरफराज अहमद को मिली संन्यास की सलाह

पाकिस्तान ने टीम में नहीं चुना, जूते उठवाए, अब सरफराज अहमद को मिली संन्यास की सलाह

सरफराज अहमद मैनचेस्टर टेस्ट में थे 12वें खिलाड़ी

सरफराज अहमद मैनचेस्टर टेस्ट में थे 12वें खिलाड़ी

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) को रमीज राजा ने संन्यास की सलाह दे दी है, जानिए क्या है वजह

  • Share this:
    नई दिल्ली. भले ही पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) मैनचेस्टर टेस्ट की प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं थे लेकिन इसके बावजूद वो सुर्खियों में छाए हुए हैं. मैनचेस्टर टेस्ट के दौरान सरफराज अहमद को 12वां खिलाड़ी बनाया गया और उनसे जूते तक उठवाए गए. अब पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सरफराज अहमद को संन्यास की सलाह दे दी गई है. पाकिस्तान के पूर्व कप्तान रमीज राजा का मानना है कि विकेटकीपर बल्लेबाज सरफराज अहमद को टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेकर वनडे और टी20 क्रिकेट पर फोकस करना चाहियेय

    रमीज राजा ने क्यों दी सरफराज को संन्यास की सलाह?
    रमीज (Ramiz Raja) ने यूट्यूब चैनल ‘क्रिकेटबाज’ पर कहा ,' मेरे हिसाब से एक बार आप कप्तान रह चुके हैं तो वह ऐसा मानदंड है कि उससे नीचे आकर बेंच पर बैठना मुश्किल है .' उन्होंने कहा ,' मैं सरफराज को सलाह दूंगा कि इसके बारे में सोचें और टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह दें . सीमित ओवरों के क्रिकेट पर फोकस करें जिसमें वह बहुत अच्छा है .'

    रमीज ने कहा कि एक पूर्व कप्तान और सरफराज जैसा सीनियर क्रिकेटर ड्रिंक्स लेकर मैदान पर जाये , यह पाकिस्तान में अच्छा नहीं माना जाता हालांकि क्रिकेट में यह नयी बात नहीं है .उन्होंने कहा ,'इसमें कुछ गलत नहीं है क्योंकि जेम्स एंडरसन भी वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट से बाहर थे तो ड्रिंक्स लेकर आये थे . लेकिन हमारी क्रिकेट तहजीब में इसे अच्छा नहीं माना जाता और खासकर जब आप पूर्व कप्तान हों .'

    साक्षी ने शेयर की जीवा के साथ छोटे बच्‍चे की तस्‍वीर, लोगों ने दी बधाई

    संगकारा ने कहा- किसी बुरे सपने से कम नहीं थे भारतीय खिलाड़ी सहित ये 2 गेंदबाज

    सरफराज अहमद हैं सुर्खियों में
    बता दें मैनचेस्टर टेस्ट में पाकिस्तान ने सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) की बजाए रिजवान को बतौर विकेटकीपर टीम में चुना था. पाकिस्तान ने इस पूर्व कप्तान को 12वां खिलाड़ी बनाया. सरफराज मैच के दौरान साथी खिलाड़ियों के पानी लाते दिखाई दिए. यही नहीं वो अपने से काफी जूनियर खिलाड़ी शान मसूद के लिए जूते तक लाते दिखाई दिये. पाकिस्तान के कई पूर्व कप्तानों को ये चीज नागवार गुजरी. शोएब अख्तर ने ये देखने के बाद पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के मैनेजमेंट पर सवाल खड़े कर दिये. उनका मानना था कि पाकिस्तान के पूर्व कप्तान से आप जूते नहीं उठवा सकते. हालांकि टीम के मुख्य कोच मिस्बाह उल हक ने कहा था कि पूर्व कप्तान का 12वें खिलाड़ी के रूप में रहना कोई गलत बात नहीं है. वो खुद भी टीम के लिए पानी लेकर मैदान में गए हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज