टेस्ट क्रिकेट में विस्फोटक ओपनिंग पर बोले वसीम अकरम, सहवाग तो बाद में आए, उनसे पहले...

टेस्ट क्रिकेट में विस्फोटक ओपनिंग पर बोले वसीम अकरम, सहवाग तो बाद में आए, उनसे पहले...
वीरेंद्र सहवाग ने टीम इंडिया के लिए दो तिहरे शतक लगाए हैं.

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) को टेस्ट क्रिकेट में विस्फोटक बल्लेबाजी के नए मानक स्थापित करने के लिए जाना जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 30, 2020, 11:24 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. टेस्ट क्रिकेट में जब भी ओपनिंग की बात आती है तो वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) का जिक्र आना लाजिमी है. आखिर टीम इंडिया के इस खिलाड़ी ने टेस्ट क्रिकेट की परिभाषा ही बदलकर रख दी थी. अपने बेखौफ अंदाज के चलते उन्होंने न जाने अपने समय के कितने ही दिग्गज गेंदबाजों की नींद उड़ाकर रख दी थी. मौजूदा समय में ऑस्ट्रेलियाई ओपनर डेविड वॉर्नर कुछ ऐसा ही काम करते नजर आ रहे हैं और वो भी इस मामले में सहवाग को ही अपना आदर्श मानते हैं. मगर अब पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व महान गेंदबाज वसीम अकरम (Wasim Akram) ने सहवाग नहीं, बल्कि किसी और खिलाड़ी को टेस्ट क्रिकेट में ओपनरों की मानसिकता बदलने का श्रेय दिया है.

वो जब चाहे बाउंड्री लगा सकते थे
दरअसल, वसीम अकरम (Wasim Akram) का मानना है कि टेस्ट क्रिकेट में विस्फोटक ओपनिंग की शुरुआत करने का श्रेय पाकिस्तान के पूर्व ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) को ही जाता है. उन्होंने कहा, 'टेस्ट क्रिकेट में वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) तो बाद में आए, उससे पहले ही साल 1999-2000 में शाहिद अफरीदी ने टेस्ट क्रिकेट में ओपनरों की मानसिकता बदल दी थी. अगर मैं भी उन्हें गेंद करा रहा होता तो मुझे पता होता कि मैं उन्हें आउट कर सकता हूं, लेकिन मुझे ये भी पता होता कि वो मेरी गेंदों को बाउंड्री के पार पहुंचा सकते हैं. अफरीदी जब चाहे गेंद को चौके-छक्के के लिए भेज सकते थे.' एक यूट्यूब चैट शो में वसीम अकरम ने ये बात कही.

चयनकर्ता अफरीदी को टीम में शामिल करने के खिलाफ थे
वसीम अकरम (Wasim Akram) ने साथ ही इस बात का भी खुलासा कि किया कैसे शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) का टीम में चयन तक नहीं हुआ था. उन्होंने बताया, 'भारत दौरे के लिए साल 1999 में तब टीम का चयन नहीं हुआ था, उससे पहले मैंने इमरान खान को फोन किया. मैंने उनसे कहा कि मैं शाहिद अफरीदी को इस दौरे पर टीम में ले जाना चाहता हूं, लेकिन कुछ चयनकर्ता इसके खिलाफ हैं. उन्होंने कहा कि तुम्हें उसे जरूर ले जाना चाहिए और उनसे ओपनिंग कराई जानी चाहिए.' वसीम अकरम बोले, 'मैं अक्सर इमरान से चर्चा करता था और उनकी सलाह काफी उपयोगी होती थी.'



अफरीदी ने चेन्नई टेस्ट में जड़े 141 रन
शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi) ने वसीम अकरम (Wasim Akram) को निराश भी नहीं किया और चेन्नई में खेले गए पहले टेस्ट में अपना पहला टेस्ट शतक लगाते हुए 141 रन ठोक दिए. पाकिस्तान (Pakistan) ने ये मैच जीतकर सीरीज में बढ़त बना ली. अकरम ने उस मैच को याद करते हुए कहा कि अफरीदी ने आगे बढ़कर अनिल कुंबले और सुनील जोशी की गेंदों पर क्या बेहतरीन छक्के लगाए थे. पाकिस्तान ने वो सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी. हालांकि इसके बाद भी अफरीदी टेस्ट क्रिकेट में अपना करियर लंबा नहीं खींच सके और उन्होंने 27 टेस्ट खेले. हालांकि सीमित ओवर प्रारूप में उनका करियर बेहतरीन रहा. अफरीदी ने 398 वनडे और 99 टी20 मैच खेले.

टीम में न चुने जाने पर भड़के उमेश यादव, चयनकर्ताओं पर लगाए गंभीर आरोप

बड़ा खुलासा: 30 लाख रुपये कमाकर रांची में जिंदगी बिताना चाहते थे एमएस धोनी!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading