ICC World Cup : सेमीफाइनल तक का सफर पूरा, जानिए वर्ल्ड कप पर किसका दावा कितना मजबूत

#DIGITALPRIMETIME : क्रिकेट इतिहास में सबसे ज्यादा पांच बार वर्ल्ड कप खिताब जीतने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के नाम है. टीम इंडिया भी दो बार इस प्रतिष्ठित ट्रॉफी पर कब्जा जमा चुकी है.

News18Hindi
Updated: July 8, 2019, 9:25 PM IST
News18Hindi
Updated: July 8, 2019, 9:25 PM IST
वर्ल्ड कप 2019 के 4 सेमीफाइनलिस्ट तय हो चुके हैं. ऑस्ट्रेलिया, भारत, इंग्लैंड और न्यूज़ीलैंड वे टीमें हैं जो इस वर्ल्ड कप में खिताब के लिए आगे की लड़ाई लड़ेंगी. यूं तो क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है, लेकिन अगर वर्ल्ड कप में दबदबे की बात करें तो ऑस्ट्रेलियाई टीम अन्य टीमों से कहीं आगे है.

सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली चारों टीमों में से ऑस्ट्रेलिया ने अब तक सबसे ज्यादा 5 खिताब जीते हैं. वहीं भारतीय टीम को दो बार वर्ल्ड चैंपियन बनने का रुतबा हासिल हुआ है. दिलचस्प बात ये है कि क्रिकेट का जनक इंग्लैंड एक बार भी खिताब नहीं जीत सका है, जबकि न्यूजीलैंड की टीम को भी अपने पहले वर्ल्ड खिताब का इंतजार है.

इस वर्ल्डकप में ऑस्ट्रेलिया ने अब तक हुए अपने 9 में से 7 मुकाबले जीतकर सेमीफाइनल में जगह बनाई है, जबकि भारतीय टीम ने अपने नौ में से 7 मैच जीते हैं. इंग्लैंड से उसे हार मिली, जबकि न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबला बारिश से धुल गया. वहीं, इंग्लैंड ने नौ में से 6 मैच जीत दर्ज कर सेमीफाइनल में जगह बनाई. उसे तीन मुकाबलों में हार मिली. जबकि न्यूजीलैंड ने सेमीफाइनल में जाने के लिए नौ में से 5 मुकाबले जीते. तीन में हार मिली व एक बेनतीजा रहा.

icc, cricket, cricket world cup 2019, cricket world cup semifinal, india, australia, england, new zealand, world cup trophy, world cup final, आईसीसी, क्रिकेट, आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019, वर्ल्ड कप ट्रॉफी, भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, वर्ल्ड कप सेमीफाइनल

ऑस्ट्रेलिया ने सर्वाधिक 5 बार ये खिताब जीता है.ऑस्ट्रेलिया है इस टूर्नामेंट की बादशाह

ऑस्ट्रेलिया वर्ल्ड कप की सबसे सफल टीम है. ऑस्ट्रेलिया ने 5 बार (1987, 1999, 2003, 2007, 2015) वर्ल्डकप का खिताब अपने नाम किया है. इसके अलावा टीम 1975 और 1996 की उप-विजेता भी रह चुकी है. 1975 में वेस्टइंडीज और 1996 में श्रीलंका ने उसे फाइनल में हराया था. 2011 में ऑस्ट्रेलिया ने क़्वार्टरफाइनल में जगह बनाई थी. ऑस्ट्रेलियाई टीम ने अब तक सबसे ज़्यादा वर्ल्ड कप मैच खेले हैं और उसकी जीत-हार का रिकॉर्ड भी सबसे बेहतर है.

रिकी पोंटिंग का जवाब नहीं : ऑस्ट्रेलिया की तरफ से वर्ल्डकप में सबसे सफल बल्लेबाज़ पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग हैं. पोंटिंग ने 1996 से 2011 के बीच 42 पारियों में 45.86 की औसत से 1743 रन बनाए हैं. वर्ल्डकप में उनका सर्वाधिक स्कोर 140 रन है.
Loading...

ग्लेन मैक्ग्रा की धारदार गेंदबाजी : गेंदबाज़ी में ऑस्ट्रेलिया की तरफ से सबसे ज़्यादा विकेट ग्लेन मैक्ग्रा ने लिए हैं. 1996-2007 के बीच मैक्ग्रा ने 39 मैचों में कुल 71 विकेट लिए हैं. उन्होंने एक पारी में सर्वाधिक 15 रन देकर 7 विकेट लिए.

2015 वर्ल्ड कप में प्रदर्शन : ऑस्ट्रेलिया ने खिताब अपने नाम किया था. फाइनल में न्यूज़ीलैंड को 7 विकेट से हराया था. जेम्स फॉकनर को शानदार गेंदबाज़ी के लिए मैन ऑफ़ द मैच का अवाॅर्ड दिया गया था. उन्होंने नौ ओवर में 36 रन देकर तीन विकेट चटकाए थे.

icc, cricket, cricket world cup 2019, cricket world cup semifinal, india, australia, england, new zealand, world cup trophy, world cup final, आईसीसी, क्रिकेट, आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019, वर्ल्ड कप ट्रॉफी, भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, वर्ल्ड कप सेमीफाइनल

भारत भी है चैंपियन टीम

वर्ल्ड कप की बात करें तो भारत भी सबसे सफल टीमों में शुमार होती है. टीम ने 1983 और 2011 में 2 बार विश्वकप पर कब्ज़ा किया है. 1983 में टीम इंडिया ने जहां उस समय की विश्व चैंपियन वेस्ट इंडीज को फाइनल में हराया था. वहीं, 2011 में भारत ने अपनी सरज़मीं पर श्रीलंका को फाइनल में मात दी थी. भारत 2003 की उप-विजेता भी रह चुकी है. इसके अलावा भारतीय टीम 4 बार (1987, 1996, 2015, 2019) सेमीफाइनल में पहुंची है.

सचिन जैसा कोई नहीं : वर्ल्डकप में टीम इंडिया के लिए सबसे ज़्यादा रन क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने बनाए हैं. सचिन ने 1992 से 2011 के बीच 44 पारियों में 56.95 की औसत से 2278 रन बनाए हैं. उन्होंने वर्ल्डकप में कुल 6 शतक और 15 अर्धशतक लगाए हैं.

जहीर खान का कमाल : वर्ल्डकप में भारत के सबसे सफल गेंदबाज़ ज़हीर खान हैं. उन्होंने 2003 से 2011 के बीच 23 पारियों में 44 विकेट लिए हैं.

2015 वर्ल्ड कप में प्रदर्शन : भारतीय टीम सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हारकर बाहर हो गई थी. उस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 95 रनों से हराया था. कप्तान स्टीवन स्मिथ को उनके लाजवाब शतक के लिए मैन ऑफ़ द मैच का अवाॅर्ड दिया गया था. स्मिथ ने 93 गेंदों पर 105 रन बनाए थे.

icc, cricket, cricket world cup 2019, cricket world cup semifinal, india, australia, england, new zealand, world cup trophy, world cup final, आईसीसी, क्रिकेट, आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019, वर्ल्ड कप ट्रॉफी, भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, वर्ल्ड कप सेमीफाइनल

इंग्लैंड : क्रिकेट का जनक, लेकिन खिताब से महरूम

इंग्लैंड वो देश है जहां क्रिकेट का जन्म हुआ, लेकिन अचंभे की बात है कि इंग्लैंड ने हर वर्ल्ड कप खेलने के बावजूद अब तक एक भी खिताब नहीं जीता है. उनका सबसे अच्छा प्रदर्शन 3 बार रहा है जब टीम उप-विजेता बनी. 1979, 1987, और 1992 में टीम उप-विजेता रही. इसके अलावा टीम 2 बार सेमीफाइनल और 3 बार क़्वार्टरफाइनल में पहुंची है. इंग्लैंड ने अब तक सबसे ज़्यादा चार बार वर्ल्ड कप की मेज़बानी की है. 2019 का वर्ल्ड कप भी इंग्लैंड में ही खेला जा रहा है.

ग्राहम गूच का लाजवाब अंदाज : इंग्लैंड की ओर से वर्ल्ड कप में सबसे ज़्यादा रन ग्राहम गूच ने बनाए हैं. गूच ने 1979 से 1992 के बीच 21 पारियों में 897 रन बनाए हैं. उनका वर्ल्ड कप में सर्वाधिक स्कोर 115 रनों का है.

इयान बॉथम हैं मिसाल : इंग्लैंड के लिए वर्ल्ड कप में सबसे सफल गेंदबाज़ इयान बॉथम हैं. अपने समय के महान ऑलराउंडर बॉथम ने 1979 से 1992 के बीच 22 पारियों में 30 विकेट लिए हैं. उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 4/31 का है.

2015 वर्ल्ड कप में प्रदर्शन : इस टूर्नामेंट में इंग्लैंड का प्रदर्शन बहुत ही निराशाजनक रहा था. इंग्लिश टीम अपने 6 में से 4 मुकाबले हारकर ग्रुप स्टेज में ही वर्ल्ड कप से बाहर हो गई थी.

icc, cricket, cricket world cup 2019, cricket world cup semifinal, india, australia, england, new zealand, world cup trophy, world cup final, आईसीसी, क्रिकेट, आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019, वर्ल्ड कप ट्रॉफी, भारत, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड, वर्ल्ड कप सेमीफाइनल

न्यूज़ीलैंड की भी बनी हुई है खिताब से दूरी

न्यूज़ीलैंड भी वर्ल्ड कप खिताब से अब तक दूर ही रहा है. न्यूज़ीलैंड ने वर्ल्डकप में अब तक सबसे अच्छा प्रदर्शन 2015 में किया था जब टीम उप-विजेता बनी थी. फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने कीवियों को हराया था. न्यूज़ीलैंड ने सेमीफाइनल तक का सफर अब तक कुल 7 बार (1975, 1979, 1992, 1999, 2007, 2011, और 2019) तय किया है. इसके अलावा एक बार (1996) क़्वार्टरफाइनल में जगह बनाई.

फ्लेमिंग की दिलेरी : न्यूज़ीलैंड की तरफ से वर्ल्ड कप में सबसे सफल बल्लेबाज़ पूर्व कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग रहे हैं. फ्लेमिंग ने 1996 से 2007 के बीच 33 पारियों में 35.83 की औसत से 1075 रन बनाए हैं. उन्होंने 2 शतक और 5 अर्धशतक लगाए.

बोल्ट का झटका : वर्ल्डकप में न्यूज़ीलैंड के सबसे सफल गेंदबाज़ ट्रेंट बोल्ट हैं. बोल्ट ने 2015 से अब तक 17 पारियों में 37 विकेट लिए हैं. उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 5/27 रहा है.

2015 वर्ल्ड कप में प्रदर्शन : इस वर्ल्ड कप में न्यूजीलैंड की टीम खिताब के बेहद नजदीक पहुंच गई थी. मगर ऑस्ट्रेलिया ने फाइनल में न्यूज़ीलैंड को 7 विकेट से हरा दिया. मैच में कीवी बल्लेबाज़ों ने बहुत ही निराशाजनक प्रदर्शन किया था और पूरी टीम 183 रनों पर सिमट गई थी. जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 33.3 ओवर में महज़ 3 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया था.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 8, 2019, 9:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...