• Home
  • »
  • News
  • »
  • sports
  • »
  • बड़ी खबर : माइकल क्लार्क ने कहा-आईपीएल में खेलने के लिए विराट कोहली की चमचागिरी करते हैं आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी

बड़ी खबर : माइकल क्लार्क ने कहा-आईपीएल में खेलने के लिए विराट कोहली की चमचागिरी करते हैं आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी

माइकल क्लार्क ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 115 टेस्ट और 245 वनडे खेले हैं. (फाइल फोटो)

माइकल क्लार्क ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 115 टेस्ट और 245 वनडे खेले हैं. (फाइल फोटो)

विदेशी खिलाड़ियों में सबसे अधिक आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर (Australian Cricketers) इंडियन प्रीमियर (Indian Premier League) लीग में खेलते हैं.

  • Share this:
    मेलबर्न. दुनिया के सबसे लोकप्रिय टी20 टूर्नामेंट इंडियन प्रीमियर लीग (Indian Premier League) का 13वां सीजन कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते 15 अप्रैल तक के लिए टाल दिया गया है. हालांकि इसके बाद भी ये सीजन आयोजित हो सकेगा, इसमें अभी संशय है, लेकिन एक बात जो तय नजर आ रही है वो ये​ कि दुनियाभर के खिलाड़ी इस लीग के शुरू होने का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. हालांकि इसी बीच आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क (Michael Clarke) ने आईपीएल को लेकर चौंकाने वाला खुलासा किया है.

    आईपीएल पर लगी रहती है निगाहें
    दरअसल, माइकल क्लार्क (Michael Clarke) ने दावा किया है कि आस्ट्रेलियाई क्रिकेटर इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अपने लुभावने अनुबंध को बचाए रखने के लिए इतने बेताब थे कि वे एक खास समय के दौरान भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और उनके साथियों पर छींटाकशी करने से डरते थे और इसके बजाय उनकी चाटुकारिता करते थे. क्लार्क के अनुसार, जब भी आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भारत का सामना करते हैं तो उनकी निगाहें हर साल अप्रैल-मई में होने वाले आईपीएल (IPL) पर लगी रहती हैं.

    सभी जानते हैं कि भारत शक्तिशाली है
    आस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज माइकल क्लार्क (Michael Clarke) ने ‘बिग स्पोर्ट्स ब्रेकफास्ट’ से कहा, ‘इस खेल में वित्तीय रूप में देखा जाए तो सभी जानते हैं कि भारत अंतरराष्ट्रीय या आईपीएल के कारण घरेलू स्तर पर कितना शक्तिशाली है. मुझे लगता है कि आस्ट्रेलियाई क्रिकेट और संभवत: प्रत्येक टीम ने इस दौरान विपरीत रवैया अपनाया और वास्तव में भारत की चाटुकारिता की. वे कोहली (Virat Kohli) या अन्य भारतीय खिलाड़ियों पर छींटाकशी करने से बहुत डरते थे क्योंकि उन्हें अप्रैल में उनके साथ खेलना था.’

    खिलाड़ियों के चरित्र के साथ समझौता किया गया
    माइकल क्लार्क (Michael Clarke) को लगता है कि आस्ट्रेलिया (Australia) के मैदान पर निर्ममतापूर्वक पेश आने के चरित्र के साथ समझौता किया गया क्योंकि आईपीएल नीलामी में शीर्ष दस ड्रॉ में आने के बाद उन्हें लगा कि वे कोहली पर कभी छींटाकशी नहीं कर सकते हैं. उन्होंने कहा, ‘दस खिलाड़ियों के नामों की सूची तैयार करो और वे इन आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को अपनी आईपीएल टीम में लेने के लिए बोली लगा रहे होते हैं. खिलाड़ियों का व्यवहार ऐसा था, ‘मैं कोहली पर छींटाकशी नहीं कर सकता, मैं चाहता हूं कि वह मुझे बेंगलोर टीम से चुने ताकि मैं छह सप्ताह में दस लाख डॉलर कमा पाऊं.’

    आस्ट्रेलिया के इस दिग्गज बल्लेबाज ने कहा कि आस्ट्रेलिया कुछ समय के लिए ऐसे दौर से गुजरा जहां हमारी क्रिकेट थोड़ा नरम पड़ गई थी या फिर उतनी कड़ी नहीं थी जितना कि हम देखने के आदी हैं. क्लार्क (Michael Clarke) ने यह बात उस समय के लिए की जब गेंद से छेड़छाड़ के मामले के बाद टीम के साथ संभ्रांत और ईमानदार जैसे शब्द जोड़े गए थे. भारत और आस्ट्रेलिया के बीच मैदान पर कड़ा मुकाबला होता रहा है और इस दौरान मैदान पर शाब्दिक जंग भी देखने को मिली जिनमें 2007-08 और 2018 का भारतीय टीम का आस्ट्रेलियाई दौरा भी शामिल है.

    Coronavirus के खिलाफ जंग में पाकिस्तान ने ली जसप्रीत बुमराह की 'मदद',ये है वजह

    सचिन-गावस्कर से बड़ा रिकॉर्ड बनाने वाले दिग्गज बोले-श्रेय न मिलना भाग्य की बात

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन